लॉग इन

पेन फ्री और प्लेजरेबल सेक्स के लिए ट्राई करें ये 5 नेचुरल लुब्रीकेंट

Updated on:10 March 2023, 01:38pm IST

सेक्स के दौरान अधिक दर्द का अनुभव होता है, परंतु बाजार में मौजूद केमिकल युक्त ल्यूब आपकी वेजाइना को सूट नहीं करते। तो जरूर ट्राई करें घर पर मौजूद ये 5 तरह के नेचुरल ल्यूब।

1/6

मेनोपॉज और प्रेगनेंसी की स्थिति में या इसके बाद भी कुछ समय तक महिलाओं का हार्मोन असंतुलित हो जाता है, ऐसी स्थिति में शरीर के अन्य फंक्शन्स के साथ ही वेजाइना भी प्रॉपर फंक्शन नहीं कर पाती और इसका पीएच लेवल बिगड़ जाता है। ऐसे में वेजाइनल ड्राइनेस की समस्या देखने को मिलती है। साथ ही कुछ महिलाओं का वेजाइना टाइट होता है और उन्हें इंटरकोर्स के दौरान अधिक दर्द का अनुभव होता है। ऐसी परिस्थिति को अवॉइड करने के लिए सेक्स के दौरान आपको ल्युब्रिकेंट का इस्तेमाल करना चाहिए। बाजार में उपलब्ध लुब्रीकेंट केमिकल से भरपूर होते हैं ऐस में इनका इस्तेमाल कई बार साइड इफ़ेक्ट छोड़ जाता है जिसकी वजह से कपल्स काफी परेशां हो जाते हैं। ऐस में आप केमिकल फ्री इन 5 तरह के नेचुरल लुब्रीकेंट का इस्तेमाल कर सकती हैं।

2/6

ऑलिव ऑयल - ऑलिव ऑयल आजकल सभी घरों में मौजूद होता है। इसका इस्तेमाल सलाद और अन्य कई फूड्स की ड्रेसिंग के लिए भी किया जाता है। पर क्या आप जानती हैं कि ल्यूब के तौर पर भी इसका इस्तेमाल जेनाइटल्स को पर्याप्त नमी प्रदान करता है और फ्रिक्शन को सीमित रखता है। हालांकि, ध्यान रहे कि सेक्स के तुरंत बाद इसे साफ करना न भूलें। वहीं कंडोम के साथ इसका इस्तेमाल करने से बचें।

3/6

आल्मंड ऑयल - आल्मंड ऑयल बालों के साथ आपकी त्वचा के लिए भी काफी फायदेमंद होता है। इसे ओरल और एनल सेक्स के लिए प्राकृतिक ल्यूब के रूप में इस्तेमाल किया जा सकता है। यह लांग लास्टिंग होता है, जिससे इसे बार-बार अप्लाई करने की जरूरत नहीं होती। हमेशा ध्यान में रखें कि लेटेक्स कंडोम के साथ आल्मंड ऑयल का इस्तेमाल नहीं करना है।

4/6

एलोवेरा - एलोवेरा एक वॉटर बेस्ड लुब्रीकेंट है। इसकी हाइड्रेटिंग प्रॉपर्टी सेक्स को स्मूद बना देती हैं और यह त्वचा के लिए भी फायदेमंद होता है। एलोवेरा वॉटर बेस्ड होता है। इसलिए इसे कंडोम के साथ इस्तेमाल करना ज्यादा सेफ रहेगा।

5/6

एवोकाडो ऑयल - एवोकाडो ऑयल का इस्तेमाल व्यंजनों को बनाने में किया जाता है। ऐसे में वेजाइनल सेक्स के साथ ही ओरल सेक्स में भी अवोकेडो ऑयल इस्तेमाल हो सकता है। इसकी मॉइस्चराइज़िंग प्रॉपर्टी सेक्स को स्मूद बना देती हैं। वहीं यह लॉन्ग लास्टिंग होता है और इसे आपको एक सेशन में कई बार नहीं लगाना पड़ता। इसमें मौजूद पोषक तत्व त्वचा के लिए फायदेमंद होते हैं। जिससे किसी भी तरह के साइड इफेक्ट का जोखिम नहीं रहता।

6/6

वर्जिन कोकोनट ऑयल - वर्जिन कोकोनट ऑयल को नेचुरल ल्यूब के तौर पर सबसे ज्यादा इस्तेमाल किया जाता है। इसकी मॉइश्चराइजिंग प्रॉपर्टी त्वचा को सॉफ्ट बना देती है और यह लंबे समय तक बना रहता है। वहीं इसमें एंटीबैक्टीरियल, एंटीवायरस प्रॉपर्टी पाई जाती है, जो वेजाइना को इन्फेक्शन से प्रोटेक्ट करने में मदद करते हैं। इसबात का ध्यान रखें कि कोकोनट ऑयल आपके बिस्तर पर दाग छोड़ सकता है।

NEXT GALLERY