ये 6 तरह के फूड्स हैं 'हार्ट के लिए हेल्दी', सही लाइफस्टाइल के साथ इन्हें करें डाइट में शामिल

Published on:3 November 2023, 02:19pm IST

आजकल आम हो रही हृदय समस्याओं का एक कारण अस्वस्थ खानपान भी है। वहीं, हाल ही में सामने आई एक शोध की रिपोर्ट में 6 तरह के फूड्स के बारें में बताया गए हैं, जिनके उचित और नियमित सेवन से हृदय संबंधी समस्याएं कम हो सकती है।

1/9
हृदय संबंधी समस्याओं का न करें इग्नोर
Heart health ke liye khtrnaak hai

अच्छे और खुशहाल जीवन के लिए स्वस्थ रहना बहुत जरूरी है। इसलिए व्यक्ति को स्वस्थ रहने के लिए अपने शारीरिक और मानसिक स्वास्थ्य पर ध्यान देना चाहिए। लेकिन आजकल की भागदौड़ भरी जिंदगी में व्यक्ति को स्वस्थ रहने के लिए करने वाले कार्यों के लिए समय ही नहीं हैं, जिसके कारण तमाम तरह की बीमारियों ने व्यक्ति को घेर लिया है। इन्हीं बीमारियों में सबसे घातक हृदय कीं समस्याएं भी आजकल बहुत आम हो गई है। अनियमित दिनचर्या, खराब खानपान और व्यायाम न करने की वजह से हृदय प्रभावित होता है, जिसके काफी गंभीर परिणाम देखने को मिलते है।

2/9
कोविड के बाद और बढ़ी हैं दिल की समस्याएं
pregnancy ke dauran heart attack ka jokhim sabse adhik hota hai.

पूरे विश्व में तेज़ी से खराब हो रही तमाम लोगों की हार्ट हेल्थ पर 2019 में आई विश्व स्वास्थ्य संगठन की एक रिपोर्ट के मुताबिक़ पूरी दुनिया में 2019 में लगभग 2 करोड़ मौते हुई, जिसमें से85% मौते सिर्फ हार्ट अटैक से हुई और साथ ही 15% मौतें हार्ट से जुडी अन्य समस्याओं की वजह से हुई। वहीं, भारत में भी यह आंकड़ा काफी डराने वाला है। यूएस के जर्नल ऑफ डायग्नोस्टिक एंड क्लिनिकल रिसर्च की 2015 की एक रिपोर्ट के अनुसार वर्ष 2015 में 5.8 करोड़ लोग हृदय समस्याओं से पीड़ित थे।

3/9
शोध कर रहे हैं कुछ खास हार्ट फूड्स का समर्थन
kachchi vegetables nahin khayen

अनियमित खानपान और तेज़ी से बदलते फूड पैटर्न के कारण आजकल हार्ट संबंधी समस्याएं लगातार बढ़ती हुई दिख रहीं हैं। वहीं, हाल ही में जुलाई 2023 में आई यूरोपियन हार्ट जर्नल की एक शोध की रिपोर्ट में यह पता चला है कि अच्छे खानपान से हार्ट संबंधी बीमारियों से बचाव किया जा सकता है। साथ ही इस रिपोर्ट में छह तरह के फूड्स भी बताए गए हैं, जिनके सेवन से व्यक्ति को स्वस्थ रहने में मदद मिलती है। लगभग 9 साल तक चले इस शोध में शोधकर्ताओं ने 245000 लोगों में यह 'डाइट स्कोर' नोट किया। इसमें शोधकर्ताओं ने यह पाया कि जो व्यक्ति नियमित तौर पर उचित मात्रा में छह आहार ले रहे थे, उन्हें अन्य लोगों की तुलना में हृदय रोग, स्ट्रोक और हार्ट अटैक जैसी कम समस्याएं दिखाई दी।

4/9
मौसमी फलों में होते हैं हार्ट हेल्थ को स्वस्थ रखने वाले गुण

हार्वर्ड हेल्थ में छपी इस रिपोर्ट के मुताबिक़ इन 6 आहारों में फल भी हार्ट हेल्थ के लिए बेहतरीन विकल्प है। दरअसल, फल आहारीय फाइबर से भरपूर होते हैं, जो कोलेस्ट्रॉल के स्तर को कम करने और ब्लड शुगर को नियंत्रित करने में मदद करते हैं। इसी कारण से उच्च फाइबर का सेवन हृदय रोग के जोखिम को कम करता है। साथ ही अलग-अलग तरह के फलों में कई तरह के पौष्टिक गुण होते हैं, जो फायदेमंद होते है। केले और संतरे जैसे कई फल पोटेशियम के अच्छे स्रोत होते हैं जो ब्लड प्रेशर के खतरे को कम कर करते है और हृदय स्वास्थ्य को अच्छा करते है।

5/9
पत्तेदार सब्जियां भी हैं जरूरी
Foods to eat for skin

रिपोर्ट के मुताबिक सब्जियां गुणों का एक संयोजन भी प्रदान करती हैं, जिन्हें आपके आहार में शामिल करने से हृदय स्वास्थ्य में सुधार हो सकता है। सब्जियों में विटामिन सी और विटामिन ई सहित विभिन्न प्रकार के एंटीऑक्सीडेंट्स होते हैं, साथ ही कैरोटीनॉयड और फ्लेवोनोइड जैसे फाइटोन्यूट्रिएंट्स भी होते हैं। एंटीऑक्सिडेंट ऑक्सीडेटिव तनाव को कम करता हैं, जो हार्ट हेल्थ से जुड़ा होता है और साथ ही इससे हृदय स्वस्थ अच्छा रहता है। वहीं, आलू, शकरकंद, एवोकाडो और पत्तेदार सब्जियां मोनोअनसैचुरेटेड फैट का एक स्रोत हैं, जिसका सेवन करने पर एलडीएल कोलेस्ट्रॉल के स्तर को कम करने में मदद मिलती हैं।

6/9
हार्ट के लिए सुरफूड है फिश
fatty fish fat cut karne me madad karti hai

यूरोपियन हार्ट जर्नल की रिपोर्ट में मछली को भी हृदय स्वास्थ्य को बेहतर बनाने वाले आहार में रखा गया है। अपने हृदय-स्वस्थ गुणों के लिए प्रसिद्ध मछली हृदय स्वास्थ्य को बेहतर बनाने मेंयोगदान देने वाले मुख्य पोषक तत्वों में से एक ओमेगा -3 फैटी एसिड का प्रमुख स्त्रोत है। ओमेगा-3 फैटी एसिड एक प्रकार का पॉलीअनसेचुरेटेड फैट होता है, जो हृदय स्वास्थ्य के लिए कई तरह से लाभ प्रदान करता है। साथ ही मछली खाने से असामान्य हार्ट रेट के जोखिम को कम करने में मदद मिलती है और अचानक हृदयगति रुकने जैसे समस्याओं से भी सुरक्षा मिलती है।

7/9
फलियां भी हृदय को बनाती हैं 'हेल्दी'
वज़न घटाने में मददगार है ग्वार की फली. चित्र : शटरस्टॉक

फलियों के कई लाभकारी गुणों के कारण हृदय स्वास्थ्य को अच्छा रखने में मदद मिलती है। फलियां घुलनशील फाइबर से भरपूर होती हैं, जो कोलेस्ट्रॉल से जुड़कर और पाचन तंत्र में इसके अवशोषण कोरोककर कोलेस्ट्रॉल के स्तर को कम करने में मदद कर सकती हैं। कोलेस्ट्रॉल का स्तर कम होने से हृदय रोग का खतरा कम होता है। साथ ही फलियों में सैचुरेटेड फैट की मात्रा कम होती है, जिसके सेवन से धमनियों में एलडीएल कोलेस्ट्रॉल जमा नहीं होता और परिणामस्वरूप हृदय भी स्वस्थ रहता है।

8/9
हेल्दी फैट का सोर्स हैं 'नट्स'
nuts jade me energy dete hain.

रिपोर्ट के अनुसार बादाम, अखरोट, पिस्ता और मूंगफली सहित मेवे में कई लाभकारी गुणों के कारण यह हृदय स्वास्थ्य को बनाए रखने के लिए उत्कृष्ट हैं। नट्स में अनसैचुरेटेड फैट प्रचुर मात्रामें होता है, जिनमें मोनोअनसैचुरेटेड और पॉलीअनसेचुरेटेड फैट शामिल हैं। यह फैट जो ब्लड कोलेस्ट्रॉल के स्तर को बेहतर बनाने में मदद करते हैं। साथ ही ये एचडीएल कोलेस्ट्रॉल को कम करते हैं, जिससे एथेरोस्क्लेरोसिस और हृदय रोग का खतरा कम हो जाता है। वहीं, अखरोट जैसे कुछ नट्स में ओमेगा-3 फैटी एसिड उच्च मात्रा में होता है। ओमेगा-3 में एंटी-इंफ्लेमेटरी गुण होते हैं, जो इररेगुलर हार्ट बीट के जोखिम को कम करने में मदद करते हैं।

9/9
हेल्दी प्रोटीन के लिए करें डेयरी प्रोडक्ट्स पर भरोसा
kam fat wale dairy products len

संतुलित और हृदय-स्वस्थ आहार के हिस्से के रूप में डेयरी प्रोडक्ट हृदय स्वास्थ्य को बनाए रखने में भूमिका निभाते हैं। दरअसल, डेयरी प्रोडक्ट उच्च गुणवत्ता वाले प्रोटीन के अच्छे स्रोत होते हैं। प्रोटीन समग्र स्वास्थ्य के लिए महत्वपूर्ण है और संतुलित आहार का हिस्सा भी है। प्रोटीन रिच फूड्स स्वस्थ वजन बनाए रखने और हृदय स्वास्थ्य का समर्थन करने में मदद करते हैं।