World TB Day : टीबी को समाप्त करना है, तो इन लक्षणों के दिखते ही हो जाएं सतर्क

Published on:23 March 2024, 12:00pm IST

टीबी एक गंभीर बीमारी है, जो मुख्य रूप से फेफड़ों को प्रभावित करती है। टीबी एक प्रकार के बैक्टीरिया के कारण होता है। टीबी आमतौर पर फेफड़ों को ही प्रभावित करती है। इसके लक्षणों को पहचानना जरूरी है।

1/6
वर्ल्ड टीबी डिजीज डे
world tb day - janein tb ke baare mein sabkuch

वर्ल्ड टीबी डिजीज डे 24 मार्च को पूरी दुनिया में मनाया जाता है। टीबी अभी भी दुनिया की सबसे घातक बीमारियों में से एक है। यह दिवस टीबी के प्रति लोगों को जागरूक करने के लिए मनाया जाता है।

2/6
दो हफ्ते या उससे ज्यादा दिनों तक लगातार खांसी होना
thnde khadya padarth khane se cough ho sakta hai.

टीबी और सामान्य खांसी में अंतर है। इस अंतर् को समझने के लिए अवधि को समझना जरूरी है। टीबी और अन्य पुरानी श्वसन संबंधी बीमारियां खांसी का कारण बन सकती हैं। यह सच है कि टीबी के शुरूआती लक्षण खांसी के रूप में ही उभरते हैं। दो सप्ताह से अधिक समय तक रहने वाली खांसी टीबी का लक्षण हो सकती है। अगर खांसी लगातार 15-20 दिनों तक रहती है, तो आगे टीबी के लिए जांच करवानी चाहिए।

3/6
खांसने पर खून या बलगम आना
cold cough immunity

यह भी टीबी का एक और खतरनाक संकेत है। खून दिखने का मतलब है कि आपके फेफड़े इस जानलेवा बीमारी से संक्रमित हो चुके हैं। ट्यूबरक्लोसिस एक गंभीर संक्रामक बीमारी है, जो माइकोबैक्टीरियम ट्यूबरक्लोसिस बैक्टीरिया के कारण होती है। यह बीमारी फेफड़ों पर अटैक करती है। इस बीमारी के लक्षणों में थूक से खून आना भी शामिल हैं।

4/6
कमजोरी
Jaanein loose motion ke baad weakness ka kaaran

ट्यूबरक्लोसिस होने के बाद व्यक्ति बिना वजह कई दिनों तक खांसी और बुखार के साथ कमजोरी महसूस करते रहता है। यह संकेत भी हो सकता है। ऊर्जा की कमी और भयानक थकावट भी इसी बीमारी का लक्षणहै।कमजोरी के कारण व्यक्ति को काम करने में मन नहीं लगता है।

5/6
वजन कम हो जाना
stress door karne ke liye kya karein

टीबी के मरीजों की भूख खत्म हो जाती है। कई घंटे तक कुछ न खाने के बावजूद उन्हें भूख नहीं लगती है। इसके कारण उनका वजन अचानक बहुत अधिक गिर जाता है। यह इस बीमारी के संकेत हो सकते हैं

6/6
बुखार रहना
Dengue fever ke lakshan

टीबी के मरीजों को अक्सर रात के समय बुखार आता है। रात में पसीना भी आ सकता है। यदि कोई व्यक्ति इस तरह के संकेतों का अनुभव कर रहा है, तो बिना देर किये डॉक्टर को दिखाना चाहिए। श्वसन से जुड़ी कई बीमारियों में सांस लेने में दिक्कत आना एक आम संकेत हो सकता है। टीबी भी आमतौर पर फेफड़ों को ही प्रभावित करती है। इस लक्षण के दिखने का मतलब है कि फेफड़ों की सेहत खराब हो रही है।