गर्मियों में होने वाली कुछ आम बीमारियां, जिनसे आपको रहना है सावधान!

Published on:16 June 2021, 15:06pm IST
गर्मी का मौसम त्वचा, आंखों और गैस्ट्रिक सिस्टम सहित पूरे शरीर को प्रभावित करती है। यदि सावधानी न बरती जाए तो चिलचिलाती गर्मी और सूखापन अपने साथ कई बीमारी लेकर आते हैं।
खाली पेट गर्मियों में हीट स्ट्रोक के जोखिम को बढ़ाता है. चित्र : शटरस्टॉक 1/6

खाली पेट गर्मियों में हीट स्ट्रोक के जोखिम को बढ़ाता है. चित्र : शटरस्टॉक

summer-disease 2/6

फूड पॉइजनिंग : गर्मियों की सबसे आम बीमारियों में से एक फूड पॉइजनिंग है जो दूषित भोजन या पानी के सेवन से होती है। गर्म और आर्द्र मौसम बैक्टीरिया के विकास के लिए एक उपजाऊ वातावरण प्र दान करता है जिससे फूड पॉइजनिंग हो सकती है। यह बैक्टीरिया, वायरस, विषाक्त पदार्थों और रसायनों से फैलता है जो मानव शरीर में प्रवेश करने के बाद पेट में दर्द, घबराहट, दस्त या उल्टी का कारण बनते हैं।... अधिक पढ़ें

summer-disease (2) 3/6

डीहाईड्रेशन : यह सबसे आम समस्याओं में से एक है जो गर्मियों में होती है जब शरीर में पानी कमी हो जाती है। गर्मियों के दौरान, हम पसीने के रूप में बहुत सारा पानी और लवण खो देते हैं। श रीर के सामान्य कामकाज के लिए इसे फिर से भरने की जरूरत है। इसलिए, खूब पानी पिएं और शरीर को हाइड्रेट रखें।... अधिक पढ़ें

summer-disease 4/6

चिकन पॉक्स: यह सबसे आम गर्मी की बीमारी में से एक है। इसके सामान्य लक्षणों में त्वचा पर दाने, छाले, त्वचा में खुजली, लालिमा, उच्च श्रेणी का बुखार, भूख न लगना और सिरदर्द शामिल हैं। ऐ से कोई भी लक्षण दिखाई देने पर तुरंत चिकिसीय सलाह लें।... अधिक पढ़ें

गर्मियों में खाली पेट रहने से आपका ब्लड प्रेशर लो हो सकता है. चित्र : शटरस्टॉक 5/6

गर्मियों में खाली पेट रहने से आपका ब्लड प्रेशर लो हो सकता है. चित्र : शटरस्टॉक

summer-disease (5) 6/6

हीट रैशेज: यह आमतौर पर शरीर के उन क्षेत्रों पर पाए जाने वाले लाल या गुलाबी रंग के दाने होते हैं जो कपड़ों से ढके होते हैं। यह गर्म परिस्थितियों में होता है और बच्चों में सबसे आम है । हीट रैश तब विकसित होते हैं जब पसीने की नलिकाएं रुक जाती हैं और त्वचा पर डॉट्स या छोटे-छोटे फुंसियों की तरह सूज जाती हैं। यह अक्सर बेचैनी और खुजली का कारण बनता है।... अधिक पढ़ें