World Toothache Day: दांतों का दर्द बहुत तकलीफ देता है? तो ट्राई करें ये सुपर इफैक्टिव मॉम्स मैजिक ट्रिक्स

Published on: 9 February 2022, 11:00 am IST

दांतों में दर्द कई कारणों से हो सकता है। लेकिन जो भी कारण हो यह अनुभव बहुत असहज होता है। इसलिए इस दर्द से निजात पाने के लिए मेरी मम्मी के नुस्खों को अपनाएं।

Toothache se raahat paane ke liye in upayo ko try kare
दांत दर्द से छुटकारा पाने के लिए इन उपायों को ट्राई करें। चित्र:शटरस्टॉक

आपके मसूड़ों में फसें पॉपकॉर्न के छिलके से लेकर टूटे हुए दांत या बैक्टिरियल इंफेक्शन तक, किसी भी चीज के कारण दांत दर्द हो सकता है। लेकिन कारण के जड़ तक पहुंचना बहुत आवश्यक है। दांत दर्द कभी सुखद अनुभव नहीं होता है। यदि यह दर्द बढ़ जाएं, तो इससे सिर दर्द और बुखार जैसी परेशानियां भी हो सकती है। अक्सर ऐसी परिस्थितियों में हम घर पर इलाज करने की कोशिश करते है।

कुछ दर्द अस्थायी मसूड़े की जलन से आ सकते हैं। लेकिन गंभीर दांत दर्द को हल करने के लिए डेंटिस्ट की सलाह लेनी चाहिए। यदि आप दर्द से बहुत परेशान होते हैं, तो कुछ तात्कालिक घरेलू नुस्खे बता रहीं हैं मेरी मम्मी।

मम्मी बता रहीं हैं दांत दर्द के सामान्य कारण

दांत दर्द के कारण हो सकते हैं:

  1. दांत की सड़न।
  2. बैक्टिरियल इंफेक्शन।
  3. टूथ फ्रैक्चर यानी टूटा हुआ दांत।
  4. डैमेज फिलिंग।
  5. लगातार दांतों का मूवमेंट, जैसे च्युइंग गम चबाना, दांतों को पीसना या उन्हें बंद करना। ये हरकतें आपके दांतों को खराब कर सकती हैं।
  6. संक्रमित मसूड़े।
  7. मसूड़ों से निकलने वाले दांत।
  8. विजडम टूथ का निकलना।
Teeth problems se bachne ke liye mummy ke nuskhe apnaye
दांतों की परेशानियों से राहत पाने के लिए मम्मी के नुस्खे अपनाएं। चित्र: शटरस्टॉक

दांत दर्द को रोकना है तो इन मॉम्स मैजिक को आजमाएं

1. नमक के पानी का कुल्ला

मेरी मम्मी मानती हैं कि कई लोगों के लिए, खारे पानी से कुल्ला करना एक प्रभावी उपचार है। नमक का पानी एक प्राकृतिक कीटाणुनाशक है, और यह आपके दांतों के बीच फंसे खाद्य कणों और गंदगी को साफ करने में मदद कर सकता है।

नमक के पानी से दांत दर्द के इलाज के साथ सूजन को कम करने और किसी भी मौखिक घाव को ठीक करने में मदद मिल सकती है।

इस तरीके का उपयोग करने के लिए, एक गिलास गर्म पानी में 1/2 चम्मच नमक मिलाएं और इसे माउथवॉश के रूप में उपयोग करें।

2. ठंडा सेक

आप अपने द्वारा अनुभव किए जा रहे किसी भी दर्द को दूर करने के लिए कोल्ड कंप्रेस का उपयोग कर सकते हैं। खासकर यदि किसी प्रकार के चोट के कारण आपके दांत में दर्द हुआ हो।

जब आप कोल्ड कंप्रेस लगाते हैं, तो यह उस क्षेत्र में ब्लड टिश्यू को कसने का कारण बनता है। इससे दर्द कम गंभीर हो जाता है। ठंड किसी भी सूजन को कम कर सकती है।

इसका उपयोग करने के लिए मेरी मम्मी, प्रभावित क्षेत्र में एक बार में 20 मिनट के लिए बर्फ के एक तौलिया से लिपटे बैग को रख देती हैं। आप इसे हर कुछ घंटों में दोहरा सकते हैं।

Garlic daant dard se raahat deta hai
लहसुन दांत दर्द से राहत देता है। चित्र:शटरस्टॉक

3. लहसुन

हजारों वर्षों से, लहसुन को इसके औषधीय गुणों के लिए पहचाना और उपयोग किया जाता रहा है। इसमें एंटी माइक्रोबियल गुण भी होते हैं। यह हानिकारक बैक्टीरिया को मार सकता है जो प्लेक का कारण बनता है। साथ ही यह पेन किलर के रूप में भी कार्य कर सकता है।

इसके उपयोग के लिए लहसुन की एक कली को पीसकर पेस्ट बना लें और इसे प्रभावित जगह पर लगाएं। आप थोड़ा सा नमक भी डाल सकते हैं। वैकल्पिक रूप से, आप ताज़े लहसुन की एक कली को धीरे-धीरे चबा सकते हैं।

4. लौंग

पूरे इतिहास में लौंग का इस्तेमाल दांत दर्द के इलाज के लिए किया जाता रहा है। इसी नुस्खे का उपयोग करती हैं मेरी मम्मी। तेल प्रभावी रूप से दर्द और सूजन को कम कर सकता है। इसमें यूजेनॉल (uzungol) होता है, जो एक प्राकृतिक एंटीसेप्टिक है।

इसका उपयोग करने के लिए, लौंग के तेल को एक वाहक तेल, जैसे सूरजमुखी या जोजोबा ऑयल के साथ पतला करें। नेशनल एसोसिएशन ऑफ होलिस्टिक अरोमाथेरेपी के अनुसार, लौंग के तेल की लगभग 15 बूंदों को अन्य तेल के साथ मिलकर इस्तेमाल कर सकते हैं।

फिर, पतले तेल की एक छोटी मात्रा को कॉटन बॉल पर लगाएं और इसे प्रभावित क्षेत्र पर दबाकर रखें।

Toothache hai toh lagaye clove oil
दांत दर्द करता है, तो लगाएं लौंग का तेल। चित्र:शटरस्टॉक

आप एक छोटे गिलास पानी में लौंग के तेल की एक बूंद भी मिला सकते हैं और माउथवॉश बना सकते हैं।

अगर इन परेशानियों का अनुभव कर रहें हैं, तो डेंटिस्ट से संपर्क करें

यदि आपके दांत का दर्द गंभीर, तो यह महत्वपूर्ण है कि आप अपने दंत चिकित्सक को दिखाएं ताकि आप इसका ठीक से इलाज कर सकें। कई दांत दर्द के लिए चिकित्सा ध्यान देने की आवश्यकता होगी। यदि आप इनमें से किसी भी लक्षण का अनुभव करते हैं, तो आपको अपने डेंटिस्ट को दिखाना चाहिए:

  1. बुखार
  2. सांस लेने या निगलने में परेशानी
  3. दर्द जो एक या दो दिनों से अधिक समय तक रहता है
  4. सूजन
  5. असामान्य रूप से लाल मसूड़े

यह भी पढ़ें: मम्मी के साथ-साथ आपके पेट को भी पसंद है हाथ से खाना खाने की आदत, कम होता है बैली फैट

अदिति तिवारी अदिति तिवारी

फिटनेस, फूड्स, किताबें, घुमक्कड़ी, पॉज़िटिविटी...  और जीने को क्या चाहिए !