नन्हें – मुन्हों की सेहत के लिए भी कमाल कर सकता है केसर, जानिए कैसे करें इसका इस्तेमाल

Published on: 31 January 2022, 09:30 am IST

केसर वह जादुई मसाला है जो सौंदर्य से लेकर स्वास्थ्य तक के लिए कमाल कर सकता है। पर क्या आप इसे छोटे बच्चों के लिए भी इस्तेमाल कर सकती हैं? जवाब है ‘हां’।

sex ke liy kesar ke fayde
सेक्स लाइफ बेहतर करने में केसर है फायदेमंद। चित्र : शटरस्टॉक

बेबी जैसे जैसे-जैसे बड़ा होता है मॉम्स की चिंता बढ़ने लगती है। सबसे पहले जो समस्या हर मां के सामने आती है वह है कि बेबी को क्या खिलाएं। साथ ही, ऐसा क्या खिलाएं जो बेबी को सभी बेमारियों से बचाए। क्योंकि 6 महीने के बाद डॉक्टर सिर्फ लिक्विड और सेमी लिक्विड डाइट की सलाह देते हैं।

ऐसे में सही पोषण देना बहुत मुश्किल हो जाता है। मगर हमारे पास एक ऐसा किचन इंग्रीडिएंट है, जो आपकी इन सभी समस्याओं को हल कर सकता है। वह खास सामग्री है केसर। केसर में वे सभी पोषक तत्व होते हैं, जिनकी आपके बेबी को ज़रूरत है। तो चलिये जानते हैं कि आपके बेबी के लिए कैसे फायदेमंद है केसर और इसे इस्तेमाल करने का सही तरीका।

आपके बेबी के स्वास्थ्य के लिए फायदेमंद है केसर

हड्डियों के विकास में मदद करता है

बचपन में ही बच्चों की हड्डियां सबसे तेज़ी से विकसित होती हैं। केसर में कैल्शियम और फाइबर होता है। ये पोषक तत्व हड्डियों के विकास और बच्चे के स्वास्थ्य के लिए आवश्यक हैं।

baby ke liye kesar ke fayde
शिशु के लिए कैसे करें केसर का इस्तेमाल। चित्र : शटरस्टॉक

बेबी के मूड को बूस्ट करे

यह एक स्फूर्तिदायक और मूड स्टेबलाइजर है। केसर बेबी के चिड़चिड़ापन और रोने को रोकने में मदद करता है। एनसीबीआई के अनुसार केसर मूड को बूस्ट करता है।

फ्लू से बचाए

छोटे बच्चे अक्सर फ्लू और सर्दी की चपेट में आ जाते हैं। गर्म तासीर का होने के कारण केसर बुखार, सर्दी और फ्लू के खिलाफ प्रतिरोधक क्षमता प्रदान करता है।

भूख और पाचन को बढ़ावा देने में मदद करे

यह बच्चों के पाचन तंत्र को दुरुस्त रखता है। एनसीबीआई के अनुसार केसर में एंटीबायोटिक और गुड बैक्टीरिया होते हैं। ये तत्व पाचन क्रिया को सुचारू रूप से चलाने में मदद करते हैं।

दृष्टि बढ़ाए

केसर में मौजूद बीटा कैरोटीन रेटिना को मजबूत बनाने में मदद करता है। नतीजतन, आपके बेबी की दृष्टि में सुधार होता है और यह लंबे समय तक अच्छी रहती है।

याददाश्त बढ़ाने में मदद करे

न्यूरोनल विकास और शिशु मस्तिष्क के निर्माण के लिए शैशवावस्था एक महत्वपूर्ण समय है। स्मृति के लिए तंत्रिका नेटवर्क महत्वपूर्ण हैं। केसर न्यूरोनल नेटवर्क के विकास और इसके सुदृढ़ीकरण की इस प्रक्रिया में सहायता कर सकता है, जिससे स्मृति में वृद्धि होती है।

बेबी की त्वचा के लिए फायदेमंद

बच्चों की त्वचा का रूखा होना आम बात है। ऐसे में, आप मॉइस्चराइजर क्रीम और लोशन का उपयोग नहीं कर सकती क्योंकि बच्चे की त्वचा वयस्क त्वचा की तुलना में बहुत अधिक संवेदनशील होती है। केसर इस समस्या को दूर करने में मदद करता है। यह आपके बच्चे को मुलायम और स्वस्थ त्वचा भी देता है।

baby 1000 days
बच्चे के शुरुआती 1000 दिनों में उसे होती है सही पोषण की ज़रूरत । चित्र: शटरस्टॉक

बेबी के लिए ऐसे इस्तेमाल करें केसर

केसर का तेल बनाएं और उसकी मालिश करें

आप रात को नारियल या बादाम के तेल में केसर के एक दो रेशे मिला सकती हैं। फिर इस तेल का इस्तेमाल आप बेबी की मालिश करने के लिए कर सकती हैं। बेबी को नहलाने के बाद इस तेल से उसकी मालिश करें, इससे उसे बहुत अच्छी नींद आएगी।

भोजन में मिलाएं केसर

6 महीने से ऊपर के बच्चों के लिए आप केसर को उसके आहार में मिला सकती हैं। आप दूध, सेरेलैक या कोई अन्य तरल भोजन में केसर मिला सकती हैं। यदि आपका बच्चा थोड़ा बड़ा है तो इसे दूध में डालकर भी दिया जा सकता है।

अंत में बेबी के लिए कोई भी नया बदलाव करने से पहले डॉक्टर की सलाह ज़रूर लें।

यह भी पढ़ें : अगर आपको भी मेरी मम्मी की तरह हरदम हेल्दी रहना है, तो इस जरूरी पोषक तत्व को स्किप न करें

ऐश्‍वर्या कुलश्रेष्‍ठ ऐश्‍वर्या कुलश्रेष्‍ठ

प्रकृति में गंभीर और ख्‍यालों में आज़ाद। किताबें पढ़ने और कविता लिखने की शौकीन हूं और जीवन के प्रति सकारात्‍मक दृष्टिकोण रखती हूं।