लॉग इन

Ragi Ambali : रागी से बनाएं ये दक्षिण भारत की खास कूलिंग ड्रिंक, शरीर रहेगा ठंडा और हाइड्रेटेड

फर्मेंटेशन एक बरसों पुरानी पाककला विधि है। जिसका इस्तेमाल कर साधारण खाद्य सामग्रियों को और भी अधिक पौष्टिक बनाया जाता है। रागी और छाछ को फर्मेंट करके बनाई जाने वाली ‘रागी अंबाली’ ऐसा ही एक ठंडा पेय है।
रागी अम्बाली को गर्मियों में पसंद किए जाने का एक मुख्य कारण इसके हाइड्रेटिंग और कूलिंग गुण हैं। चित्र- अडोबी स्टॉक
संध्या सिंह Updated: 22 May 2024, 08:21 am IST
ऐप खोलें

जैसे-जैसे गर्मी बढ़ती है, ऐसे ड्रिंक की तलाश करना सबसे महत्वपूर्ण हो जाता है जो ताज़ा और पौष्टिक दोनों हो। रागी अंबाली, फिंगर मिलेट (रागी) से बना एक पारंपरिक साउथ इंडियन ड्रिंक है, जो एक अच्छे कुलिंग ड्रिंक के रूप में काम करता है। यह ड्रिंक न केवल शरीर को ठंडक पहुंचाने में मदद करता है बल्कि कई स्वास्थ्य लाभ भी प्रदान करता है, जो इसे गर्मियों के लिए इसे एक अच्छा साथी बनाता है। आइए इस बात पर गौर करें कि चिलचिलाती गर्मी में रागी अंबाली आपकी कैसे मदद करता है।

रागी, ज्वार बाजरा ये अलग अलग तरह के मिलेट है जो आपकी सेहत के लिए काफी अच्छे होते है। इन मिलेट को फिटनेस फ्रिक लोग काफी पसंद करते है। क्योंकि ये ग्लूटेन फ्रि होते है और वजन को कम रखने में भी मदद करते है। मिलेट की रोटी, लड्डू, चीला, डोसा तो आपने बहुत खाया होगा। आज आपको ये कूलिंग ड्रिंक ट्राई करनी चाहिए जिसे साइछ इंडिया में लोग काफी पसंद करते है।

रागी कई आवश्यक पोषक तत्वों से भरपूर है। इसमें कैल्शियम की काफी अच्छा मात्रा होती है, जो इसे हड्डियों के स्वास्थ्य के लिए एक अच्छा विकल्प बनाती है। इसके अतिरिक्त, रागी आयरन, फाइबर, प्रोटीन और बी-कॉम्प्लेक्स विटामिन सहित कई प्रकार के विटामिन से भरपूर है। यह पोषक तत्व रागी अम्बाली को न केवल एक फ्रेश ड्रिंक बनाता है बल्कि आपको कई पोषक तत्व भी देता है।

अंबाली बनाने में शामिल फर्मेंट प्रक्रिया में लाभकारी प्रोबायोटिक्स भी होते हैं। चित्र- अडोबी स्टॉक

आपकी सेहत के लिए फायदेमंद है रागी अंबाली

1 हाइड्रेशन और कूलिंग में मददगार

रागी अम्बाली को गर्मियों में पसंद किए जाने का एक मुख्य कारण इसके हाइड्रेटिंग और कूलिंग गुण हैं। चूंकि शरीर पसीने के कारण से पानी और इलेक्ट्रोलाइट्स खो देता है, इसलिए हाइड्रेटेड रहना महत्वपूर्ण हो जाता है।

गर्मी में रागी अम्बाली को जब छाछ या पानी के साथ तैयार किया जाता है, तो यह बॉडी से खोए हुए तरल पदार्थों को वापस पाने में मदद करता है। इस ड्रिंक का प्राकृतिक कूलिंग इफेक्ट शरीर के तापमान को बनाए रखने, हीटस्ट्रोक और डिहाइड्रेशन जैसी गर्मी से संबंधित समस्याओं को रोकने में मदद करता है।

2 पाचन को ठीक रखता है

गर्मी का मौसम अक्सर पाचन संबंधी परेशानी का कारण बन सकती है। रागी अम्बाली, उच्च फाइबर के साथ, सुचारू पाचन में सहायता करती है और कब्ज को रोकने में मदद करती है। रागी अंबाली बनाने में शामिल फर्मेंट प्रक्रिया में लाभकारी प्रोबायोटिक्स भी होते हैं, जो स्वस्थ गट को बढ़ावा देते हैं।

3 एनर्जी बूस्टर का काम करता है

रागी एक जटिल कार्बोहाइड्रेट है जो धीरे-धीरे ऊर्जा छोड़ता है, जिससे आप लंबे समय तक ऊर्जावान रहते हैं। यह धीमी गति से रिलीज रक्त शर्करा के स्तर में अचानक वृद्धि को रोकता है, जिससे यह उन लोगों के लिए एक अच्छा विकल्प बन जाता है जो अपने वजन या डायबीटिज का प्रबंधन करना चाहते हैं।

इस खास पेय के ऊर्जा बढ़ाने वाले गुण गर्मियों के दौरान विशेष रूप से फायदेमंद होते हैं जब गर्मी आपकी ताकत को खत्म कर सकती है और आपको सुस्ती महसूस करा सकती है।

अब जानिए कैसे तैयार की जाती है रागी अंबाली

रागी अंबाली तैयार करना सरल है और इसमें न्यूनतम सामग्री की आवश्यकता होती है। चलिए जानते है इसे कैसे बनाना है।

इसे बनाने के लिए आपको चाहिए

अपनी रुचि के विषय चुनें और फ़ीड कस्टमाइज़ करें

कस्टमाइज़ करें

रागी का आटा 1 कप
पानी 4 कप
नमक स्वाद अनुसार
छाछ या दही 1 कप
ज्यादा स्वाद के लिए बारीक कटा हुआ प्याज, हरी मिर्च और हरा धनिया

रागी अंबाली तैयार करना सरल है और इसमें न्यूनतम सामग्री की आवश्यकता होती है। चित्र- अडोबी स्टॉक

ऐसे बनाएं रागी अंबाली

  1. रागी के आटे को पानी के साथ मिलाकर बिना गांठ वाला चिकना घोल बना लें। इस मिश्रण को मध्यम आंच पर पकाएं, लगातार हिलाते रहें ताकि गुठलियां न पड़ें।
  2. इसे तब तक पकाएं जब तक यह गाढ़ा न हो जाए और इसकी कच्ची महक खत्म न हो जाए। इसमें लगभग 10-15 मिनट का समय लगना चाहिए। उसके बाद इसे ठंडा होने दें।
  3. अतिरिक्त प्रोबायोटिक्स और स्वाद के लिए, आप पके हुए रागी मिश्रण को रात भर फर्मेंट होने के लिए रख सकते हैं।
  4. ठंडा या फर्मेंट होने पर, मिश्रण में छाछ या दही मिलाएं। इसे अच्छी तरह से मिलाते हुए इसमें स्वादानुसार नमक डालें। स्वाद को और बढ़ाने के लिए आप इसमें बारीक कटा हुआ प्याज, हरी मिर्च और हरा धनिया भी मिला सकते हैं।

ये भी पढ़े- Malai ke fayde : रूसी और फ्रिजी हेयर से राहत दिलाती है दूध की मलाई, जानिए इसे कैसे इस्तेमाल करना है

संध्या सिंह

दिल्ली यूनिवर्सिटी से जर्नलिज़्म ग्रेजुएट संध्या सिंह महिलाओं की सेहत, फिटनेस, ब्यूटी और जीवनशैली मुद्दों की अध्येता हैं। विभिन्न विशेषज्ञों और शोध संस्थानों से संपर्क कर वे  शोधपूर्ण-तथ्यात्मक सामग्री पाठकों के लिए मुहैया करवा रहीं हैं। संध्या बॉडी पॉजिटिविटी और महिला अधिकारों की समर्थक हैं। ...और पढ़ें

अगला लेख