बेल की पत्तियों के ये 4 DIY हैक्स बालों को जड़ाें से मजबूत बनाकर उनकी ग्रोथ बढ़ाएंगे 

मम्मी के नुस्खों में कुछ चीजें बेहद कमाल की हैं। वे न सिर्फ हानिरहित हैं, बल्कि उन्हें ढूंढना और इस्तेमाल करना भी बहुत आसान है। बालों के लिए ऐसा ही कमाल का नुस्खा है बेल की पत्तियां। 

bael ki patti ke fayde
बेल की पत्तियां एक्सट्रा ऑयल हटा कर बालों को मजबूत और चमकदार बनाती हैं। चित्र: शटरस्टॉक
स्मिता सिंह Published on: 13 September 2022, 17:54 pm IST
  • 137

आयुर्वेद (Ayurveda) में स्वास्थ्य के लिए सबसे अधिक फायदेमंद बेल (Bael) को माना जाता है। बेल के फल, जड़ और पत्तियां सभी फायदेमंद हैं। रिसर्च में यह भी साबित हो चुका है कि बेल की पत्तियां ब्लड शुगर कंट्रोल (Bael to control blood sugar) करने में मदद करती हैं। पर मम्मी बस यहीं रुकने वाली नहीं हैं। वे अपने पारंपरिक नुस्खों से बेल की पत्तियों को कई तरह से इस्तेमाल करती हैं। जी हां, इस बार वे बेल की पत्तियों को बालों की ग्रोथ (Bael leaf for hair growth) और मजबूती के लिए इस्तेमाल कर रहीं हैं। सिर्फ इतना ही नहीं बालों में रूसी होने या बालों के टूटने-झड़ने के लिए भी वे बेल की पत्तियों के इस्तेमाल की सलाह देती हैं। क्या वाकई ये प्रभावी उपाय है? आइए चेक करते हैं। 

जानिए बेल की पत्तियों के बारे में क्या कहती हैं रिसर्च

भारत के जर्नल ऑफ एग्रीकल्चर एंड फूड रिसर्च में वर्ष 2020 में तन्मय सरकार, एम सलाउद्दीन और रूनू चक्रवर्ती की स्टडी प्रकाशित हुई। इसके अनुसार, बेल और बेल की पत्तियों के थेराप्यूटिक इफेक्ट हैं। 

ये सिद्ध (Siddha), यूनानी (Unani) और आयुर्वेदिक (Ayurvedic) चिकित्सा में प्रयोग में लायी जाती हैं। बेल के पत्ते के तेल में लिमोनेन होता है। यह बालों को मजबूती प्रदान (Bael leaf for hair growth) करता है। इसमें फाइटोकेमिकल ग्रुप जैसे फिनोलिक एसिड्स, फ्लेवनॉयड्स, अल्कलॉयड्स, टेनिंस और कूमेरिंस जैसे केमिकल पाए जाते हैं। इसमें विटामिन ए, विटामिन बी 2, विटामिन सी, कैल्शियम, पोटैशियम और आयरन जैसे मिनरल्स पाए जाते हैं। इनके अलावा, अमिनो एसिड, फैटी एसिड, ऑर्गेनिक एसिड भी पाया जाता है।

कफ दोष से बढ़ती हैं बालों की समस्याएं 

आयुर्वेद के अनुसार, कफ दोष के बढ़ने के कारण बालों की समस्याएं, जैसे- डैंड्रफ, खुजली या ऑयली स्कैल्प हो सकता है। इनसे इन समस्याओं को मैनेज करने में मदद मिल सकती है। इससे एक्स्ट्रा ऑयल को हटाने में मदद मिलती है। साथ ही बालों को नेचुरल शाइन और हेल्थ भी मिलती है।

यहां हैं बालों की ग्रोथ बढ़ाने के लिए बेल की पत्तियों के कुछ हेयर हैक्स 

1 जीरा और बेल की पत्ती

कैसे करें प्रयोग

बेल की सूखी पत्तियों को पीसकर पाउडर बना लें।

2 चम्मच बेल की पत्ती के पाउडर में 1 चम्मच जीरा पाउडर मिला लें।

रात में सोने से पहले इस मिश्रण को ऑलिव ऑयल या सरसों तेल के साथ मिलाकर लगा लें।

सुबह बालों की सफाई कर लें।

 2 बेल की पत्ती और नारियल तेल

कैसे करें प्रयोग

दो चम्मच बेल की पत्ती का पाउडर लें।

इसमें 2 चम्मच नारियल का तेल डालकर अच्छी तरह मिलाएं।

coconut oil ki massage dandruff se chhutkara dila sakti hai
बालों के लिए बेहद फायदेमंद है कोकोनट ऑयल के साथ बेल की पत्तियों का पाउडर। चित्र : शटरस्टॉक

इससे स्कैल्प और बालों पर मसाज करें।

4-5 घंटे के लिए छोड़ दें।

शैंपू और पानी से धो लें।

3 बेल की पत्ती, आंवला, मेथी, दही 

कैसे करें प्रयोग

बेल की सूखी पत्तियों को पीस लें।

2 चम्मच बेल की पत्तियों का पाउडर लें।

इसमें 1 चम्मच आंवला पाउडर और 1 चम्मच मेथी पाउडर मिला लें।

सारे मिश्रण को दही के साथ मिलाकर मास्क बना लें।

मास्क बनाकर स्कैल्प और बालों पर लगा लें।

40 मिनट बाद नेचुरल शैंपू से साफ कर लें।

4 बेल की पत्तियों की चाय

कैसे करें प्रयोग

एक मुट्ठी बेल की पत्तियां लें।

पत्तियों को अच्छी तरह धो लें।

1 गिलास पानी में पत्तियों को डाल दें।

bael leaves ke fayde
बेल की पत्तियों की चाय भी बालों के लिए फायदेमंद होती हैं। चित्र: शटरस्टॉक

धीमी आंच पर पकाएं।

ठंडा होने पर छान लें।

स्कैल्प और बालों पर मसाज करते हुए लगाएं।

1 घंटे बाद बालों को धो लें।

इससे बालों की ग्रोथ बढ़िया हाे जाएगी।

ऊपर बताए गए सभी प्रयोगों को सप्ताह में दो से दिन बार लगातार अपनाने से बालों की समस्याएं समाप्त हो जाएंगी और बाल जड़ से मजबूत होने लगते हैं। हालांकि ये सभी हेयर हैक्स नेचुरल और हानि रहित हैं, फिर भी अगर आपको किसी तरह की एलर्जी होती है तो तुरंत विशेषज्ञ से संपर्क करें। 

यह भी पढ़ें:-प्री डायबिटिक हैं, तो आज से शुरू कर दें बेल की पत्तियों का सेवन, यहां हैं 4 तरीके 

  • 137
लेखक के बारे में
स्मिता सिंह स्मिता सिंह

स्वास्थ्य, सौंदर्य, रिलेशनशिप, साहित्य और अध्यात्म संबंधी मुद्दों पर शोध परक पत्रकारिता का अनुभव। महिलाओं और बच्चों से जुड़े मुद्दों पर बातचीत करना और नए नजरिए से उन पर काम करना, यही लक्ष्य है।

हेल्थशॉट्स कम्युनिटी

हेल्थशॉट्स कम्युनिटी का हिस्सा बनें

ज्वॉइन करें
nextstory