नेचुरल कलर और हेयर कंडीशनर में नहीं है मेहंदी का कोई मुकाबला, जानिए बालों में लगाने का सही तरीका

Published on: 18 April 2022, 19:35 pm IST

मेहंदी हमारी दादी-नानी के खजाने में मौजूद एक बेहद खास सौंदर्य उत्पाद है। बालों के लिए इसके इतने सारे लाभ हैं, कि अब भी ब्यूटी एक्सपर्ट इसके इस्तेमाल की सलाह देते हैं।

mehendi hai sabse sahi
बालों को रंगने के लिए मेहंदी है सबसे सही. चित्र : शटरस्टॉक

जब हमारे पास हेयर कलर और कंंडीशनर नहीं थे, तब हमारी पूर्वज मेहंदी का इस्तेमाल किया करती थीं। आयुर्वेद में भी मेहंदी को उन हर्ब्स में शामिल किया गया है, जो आपके सौंदर्य में निखार ला सकती हैं। पर इन दिनों अगर आप बहुत ज्यादा हीट महसूस कर रहीं हैं, तो भी मेहंदी आपके काम आ सकती है। आइए जानते हैं क्या है बालों में मेहंदी लगाने का सही तरीका और इसके फायदे।

हिना को भारतीय परम्परा के अनुसार शुभ माना जाता है। विवाह के समय दुल्हन ही नहीं दूल्हे के हाथ-पैरों पर भी हिना का इस्तेमाल कर मंगलकामना की जाती है। कूलिंग और कलर एजेंट होने के नाते हिना हाथ-पैरों में ही नहीं, बल्कि बालों को रंगने के लिए भी इस्तेमाल की जाती है।

मिडल ईस्ट और अफ्रीका के देशों से हुई शुरुआत

हिना के इस्तेमाल की शुरुआत खास तौर पर मिडल ईस्ट और अफ्रीका के देशों में देखने को मिलती है। जहां मौजूद जनजातियां इसका इस्तेमाल स्कैल्प को स्वस्थ और ड्राई रखने के साथ ही बालों में वॉल्यूम ऐड करने के लिए भी करती थीं।

अच्छा कंडीशनर होने के बावजूद बनाता है ड्राई

दिल्ली बेस्ड शैंपेन ब्यूटी सेलॉन की संस्थापक और ब्यूटी एक्सपर्ट सुवर्णा त्रिपाठी कहती हैं कि हिना न सिर्फ एक नेचुरल कलरिंग एजेंट है, बल्कि कंडीशनर भी है। हालांकि यह बालों को कंडीशन करने के साथ हेल्दी भी बनाता है पर इसमें मौजूद ड्राइंग एजेंट बालों को ड्राई बना सकते हैं।

ऐसे में जरूरी है कि बालों में हिना यानी मेहंदी लगाने के बाद गर्म तासीर वाले तेल जैसे आंवला या सरसों के तेल से बालों की मालिश की जाए। इससे हिना का रंग बालों पर न सिर्फ गाढ़ा और गहरा चढ़ेगा, बल्कि ज्यादा दिनों तक भी टिकेगा।

Henna-benefits-hair
बालों के लिए प्राकृतिक डाई है मेंहदी. चित्र : शटरस्टॉक

बेहतर लाभ के लिए बालों में मेहंदी लगाते समय इन बातों का रखें ध्यान

एक्सपर्ट सुवर्णा आगे कहती हैं कि हिना को अगर सही तरीके से बालों में न लगाया जाए, तो इसका रंग या तो ठीक से चढ़ता नहीं है या फिर जड़ों तक पहुंच नहीं पाता है। ऐसे में यह जरूरी हो जाता है कि हिना या मेहंदी को बालों में लगाते हुए कुछ बातों का खास ख्याल रखा जाए।

1. बाल रहें साफ

बालों में हिना लगाने के पहले यह देख लें कि बाल अच्छी तरह धुले हुए और सूखे हों। गंदे बालों पर रंग या तो चढ़ता नहीं या ज्यादा समय टिकता नहीं है।

2. करें सही तरह से पार्टीशन

बालों में हिना लगाने से पहले अच्छी तरह कंघी कर लें ताकि वे उलझे हुए न रहें। इसके बाद सही तरह से पार्टीशन करें वरना रंग बालों के हर हिस्से तक नहीं पहुंचेगा। इसके लिए आप कंघी और कलर ब्रश का इस्तेमाल कर सकती हैं।

3. हिना लगाने के बाद कवर करें

हिना लगाने के बाद बालों को हेयर कैप या प्लास्टिक कवर से ढक कर सूखने दें और सूखने के बाद धो दें। बालों को गर्म पानी से धोने से बाल कमजोर और ड्राई होते हैं। इसलिए बेहतर है उन्हें गुनगुने या ठंडे पानी से धोया जाए। बालों को धुलने के बाद उनमें शैम्पू न लगाएं बल्कि कंडीशनर लगा के धो दें। जब बाल सूख जाएं तो उसमें भृंगराज, ब्राह्मी आंवला या सरसों जैसे गर्म तासीर वाले तेल लगाएं। बादाम, नारियल या ओलिव ऑयल जैसे ठन्डे तासीर वाले तेलों से बचें क्योंकि मेहंदी की ही तरह इन तेलों की तासीर भी ठंडी ही होती है।

4. रंग के लिए मिलाएं नेचुरल प्रोडक्ट्स

अगर आपको मेहंदी का केसरिया रंग बालों में पसंद नहीं है, तो आप उसमें जले आंवले की राख, चाय का पानी , शिकाकई, कत्था आदि मिला सकते है। मेहंदी को रात भर भिगो कर रखने के लिए लोहे की कढ़ाही का इस्तेमाल करें। ये सब चीज़ें आपके बालों को गाढ़ा कत्थई रंग देने में मदद करेंगी।

यह भी पढ़ें : बदलता मौसम आपके लिवर के लिए भी हो सकता है थोड़ा और मुश्किल, जानिए कैसे रखना है इसका ख्याल

टीम हेल्‍थ शॉट्स टीम हेल्‍थ शॉट्स

ये हेल्‍थ शॉट्स के विविध लेखकों का समूह हैं, जो आपकी सेहत, सौंदर्य और तंदुरुस्ती के लिए हर बार कुछ खास लेकर आते हैं।