बुखार पीछा नहीं छोड़ रहा, तो अपनाएं बुखार को भगाने के ये 5 मूल मंत्र

बुखार आपके शरीर का प्रतिरोध और सूचना तंत्र है। किसी भी बाहरी वायरस के हमले के बाद शरीर का तापमान बढ़ जाता है और वह बताता है कि उसे मदद की जरूरत है। तब जानिए आपको इस स्थिति से निपटने के लिए क्या करना चाहिए।

जानिए बुखार से उबरने के 5 जांचे-परखे नुस्खों के बारे में। चित्र : शटरकॉक
ईशा गुप्ता Published on: 14 September 2022, 14:26 pm IST
  • 144

डेंगू (Dengue), मलेरिया (Malaria), मौसमी संक्रमण (Viral) या फिर कोविड-19, ज्यादातर स्थितियों में बुखार आना एक प्रारंभिक लक्षणों में शामिल है। असल में बुखार आपके शरीर का प्रतिरोध और सूचना तंत्र है। किसी भी बाहरी वायरस के हमले के बाद शरीर का तापमान बढ़ जाता है और वह बताता है कि उसे मदद की जरूरत है। इस स्थिति में अकड़न और अत्यधिक थकावट महसूस होने लगती है। हमारा शरीर कमजोर होने लगता है और भूख में तेजी से बदलाव आने लगता है। ज्यादातर डॉक्टर बुखार आने पर पेरासिटामोल लेने की सलाह देते हैं, जिससे शरीर का तापमान कम हो सके। पर हमारी दादी-नानी के पास दवाओं के अतिरिक्त और भी उपाय हैं, जो जल्द से जल्द बुखार की छुट्टी करने में मददगार साबित हो सकता है। आइए जानें क्या हैं बुखार से बाहर आने के वे मूल मंत्र (How to recover from fever)।

तो चलिए जानते हैं उन तरीकों के बारें में जिन्हें अपनाकर आप बुखार की छुट्टी जल्दी कर सकती हैं –

1. कमरे का तापमान कम रखें

बुखार आने पर हमारे शरीर का तापमान तेजी से बढ़ने लगता है और शरीर में ज्यादा गर्मी महसूस होने लगती है। इसी कारण बुखार से ग्रस्त व्यक्ति को कम तापमान वाले कमरे में रहने की सलाह दी जाती है।

मायो क्लिनिक की रिसर्च के मुताबिक कमरे का तापमान ज्यादा होने पर बुखार लंबे समय तक रहने की संभावना बनी रहती है। क्योंकि इसके कारण शरीर में अत्यधिक पसीना आने लगता है। पर इसका यह अर्थ नहीं है कि आप एसी चिल्ड कमरे में सोएं।

symptoms jo batate hain ki aapki body ko araam ki zaroorat hai
बुखार होने पर पर्याप्त आराम करना बेहद जरूरी है,चित्र : शटरस्टॉक

2. पर्याप्त आराम करना है बहुत जरूरी

बुखार होने पर पर्याप्त आराम करना बेहद जरूरी है, क्योंकि इससे हमारे शरीर को जल्द ठीक होने में मदद मिलती है। इसलिए बुखार की समस्या में ज्यादा से ज्यादा आराम करने की सलाह दी जाती है।

हारवर्ड मेडिकल स्कूल की नींद पर की गई रिसर्च के अनुसार नींद की कमी होने से आपका इम्यून सिस्टम कमजोर हो सकता है। जिसके कारण शरीर में स्ट्रेस हार्मोन बढ़ने का खतरा बना रहता है।

3. अत्यधिक पानी का सेवन करें

बुखार की समस्या होने पर शरीर में अत्यधिक पसीना आता है, जिसके कारण शरीर में डिहाइड्रेशन होने लगती है। इसलिए बुखार होने पर पानी और अन्य तरल पदार्थों का भरपूर मात्रा में सेवन करना चाहिए। इससे शरीर के टॉक्सिन और खराब बैक्टीरिया बाहर आ जाते हैं, तो बुखार से जल्द ठीक होने में मदद मिलती है।

caffeine aapke bacche ko BP badha sakta hai
बुखार की समस्या में कैफीन का सेवन कम करना चाहिए। चित्र: शटरस्‍टॉक

4. कैफीन का सेवन कम करें

बुखार की समस्या में व्यक्ति को बैलेंस डाइट लेनी चाहिए। जिससे जरूरी पोषक तत्व शरीर को मिलते रहें। लेकिन इसके साथ ही इस समय कैफीन का सेवन करना कम करना चाहिए।

मायो क्लिनिक की रिसर्च के मुताबिक कैफीन का अत्यधिक सेवन करने से बुखार, सिरदर्द, डायरिया, इरिटेशन जैसी समस्या हो सकती है। बुखार के दौरान कैफीन को अवॉइड करें या सेवन 100 mg तक कम करने की कोशिश करें।

5. कम मात्रा में भोजन करें

कम मात्रा में भोजन करना बुखार की समस्या से लड़ने में मदद कर सकता है। नेशनल इंस्टीट्यूट ऑफ हेल्थ के अनुसार बुखार के समय हमारा इम्यून सिस्टम कमजोर हो जाता है, जिससे कम खाने से हमारे शरीर को खुद को हील करने का समय मिल जाता है। इससे इस समस्या से जल्द बाहर आने में मदद मिल सकती है।

यह भी पढ़े – परेशान कर सकता है नाक, गले और छाती में बढ़ता कफ़, यहां हैं इससे निजात पाने के 5 उपाय

  • 144
लेखक के बारे में
ईशा गुप्ता ईशा गुप्ता

यंग कंटेंट राइटर ईशा ब्यूटी, लाइफस्टाइल और फूड से जुड़े लेख लिखती हैं। ये काम करते हुए तनावमुक्त रहने का उनका अपना अंदाज है।

हेल्थशॉट्स कम्युनिटी

हेल्थशॉट्स कम्युनिटी का हिस्सा बनें

ज्वॉइन करें
nextstory