मुंह की बदबू ही नहीं डायबिटीज से भी राहत दिलाता है पान का पत्ता, जानिए इसके 6 फायदे

कई अवसरों पर विशेष सामग्री के तौर पर इस्तेमाल होने वाला पान का पत्ता अपने औषधीय गुणों के कारण हमेशा पसंद किया जाता रहा है।

Betel-leaf-health-benefits
पान में एंटी हाइपरग्लाइसेमिक गुण ब्लड में मौजूद ग्लूकोज को कंट्रोल करता है। चित्र शटरस्टॉक
निशा कपूर Published on: 27 October 2022, 08:00 am IST
  • 152

भारत में भाईदूज पर भाई को पान खिलाने की परम्परा काफी पुरानी है। पान के पत्ते में पाए जाने वाले औषधीय गुणों की वजह से इसे सेहत के लिए बहुत लाभकारी माना जाता है। असल में, पान के पत्ता एक बेहतर डिटॉक्सिफायर के रूप में भी काम कर सकता है। जिसकी वजह से यह वेट लॉस को और भी आसान बना देता है। आइए जानते हैं भाई दूज और अन्य विशेष आयोजनों पर इस्तेमाल होने वाले पान के पत्ते के सेहत लाभ।

एनसीबीआई (नेशनल सेंटर फॉर बायोटेक्नोलॉजी इनफार्मेशन) में प्रकाशित पबमेड सेंट्रल (PubMed Central) की रिसर्च के मुताबिक, पान के पत्ते में एंटीडायबिटिक (मधुमेह को नियंत्रित करने वाला), एंटी-अल्सर (अल्सर से लड़ने में सहायता करने वाला), एंटी इंफ्लेमेटरी (सूजन से राहत), एंटीऑक्सीडेंट और एंटी-कैंसर जैसे गुण शामिल होते हैं। जो आपके समग्र स्वास्थ्य के लिए लाभदायक है। पर यह जरूरी है कि पान के पत्ते में तंबाकू का इस्तेमाल न किया जाए।

paan ke fayde
पान की पत्तियों के बहुत फायदे हैं
चित्र : शटरस्टॉक

यहां जानिए पान खाने के 6 फायदे

1 डायबिटीज से राहत

एनसीबीआई के चूहों पर किए गए एक शोध के मुताबिक, पान के पत्तों में एंटी हाइपरग्लाइसेमिक गुण पाया जाता है, जो ब्लड में मौजूद ग्लूकोज को कंट्रोल करने में मददगार होता है। डॉक्टर भी टाइप 2 मधुमेह में पान के पत्ते का सेवन करने की सलाह देते हैं।

2 ओरल हेल्थ और डेंटल हीलिंग के लिए लाभकारी

दांतों को मजबूत बनाने और ओरल हेल्थ को दुरुस्त रखने में भी पान के पत्ते का इस्तेमाल किया जा सकता है। बैक्टीरिया की वजह से दांतों को होने वाले नुकसान को ठीक करने में पान के पत्ते एक दवा की तरह काम करते हैं। इसके साथ ही बैक्टीरिया की वजह से होने वाले मुंह के संक्रमण से भी राहत देने का काम कर सकते हैं।

यह भी पढ़े- विटामिन डी की कमी बढ़ा सकती है खराब कोलेस्ट्रॉल और हार्ट डिजीज का जोखिम, यहां जानिए कैसे

3 बेहतर पाचन के लिए

पान के पत्ते का इस्तेमाल पाचन संबंधी समस्याओं से राहत पाने के लिए भी किया जा सकता है। क्योंकि पान के पत्तों को चबाने से जो लार बनती है वो पाचन कार्यप्रणाली को बेहतर बनाने में मदद करती है। ऐसा पान में पाए जाने वाले डायजस्टिव गुण के कारण होता है।

gas ka ilaaj
एसिडिटी और गैस की समस्या को के लिए उपाए। चित्र : शटरस्टॉक

4 खांसी से राहत

एनसीबीआई की रिसर्च पेपर के मुताबिक, पान के पत्तों में एंटीऑक्सीडेंट और एंटी-माइक्रोबियल औषधीय गुण पाए जाते हैं। यह गुण खांसी से राहत दिला सकते हैं और संक्रमण को दूर कर खांसी के दौरान गले के कंजेशन से छुटकारा यानी गले को साफ करने का कार्य भी कर सकते हैं।

5 कैंसर से बचाव

पबमेड सेंट्रल (PubMed Central) की रिसर्च के मुताबिक, पान के पत्तों के अर्क में एंटी कैंसर गुण शामिल होते हैं, जो कैंसर को पनपने से रोकने में सहायता कर सकता है। एंटी कैंसर गुण ट्यूमर को बढ़ने से रोकने में भी कारगर सिद्ध हो सकता है। इसके साथ ही यह कैंसर की रोकथाम में भी सहायता कर सकता है।

6 वजन को नियंत्रित रखने में

पान के पत्ते शरीर में ऑक्सीडेशन प्रक्रिया को बढ़ाते हैं, जो भूख को प्रभावित किए बिना वजन को कंट्रोल में रखता है। जिससे बढ़ते वजन से राहत मिल सकती है।

यह भी पढ़े- सुपरफूड हैं भाई दूज पर इस्तेमाल होने वाली ये 5 सामग्रियां, जानिए इनके सेहत लाभ 

  • 152
लेखक के बारे में
निशा कपूर निशा कपूर

देसी फूड, देसी स्टाइल, प्रोग्रेसिव सोच, खूब घूमना और सफर में कुछ अच्छी किताबें पढ़ना, यही है निशा का स्वैग।

हेल्थशॉट्स कम्युनिटी

हेल्थशॉट्स कम्युनिटी का हिस्सा बनें

ज्वॉइन करें
nextstory