मम्मी कहती हैं पीरियड्स में दही नहीं खाना चाहिए, पर क्या एक्सपर्ट भी यही कहते हैं? जानिए यह सुरक्षित है या नहीं?

Published on: 4 February 2022, 22:00 pm IST

मां अकसर पीरियड्स के दौरान दही और खट्टी चीजों के सेवन की मनाही करती है। पर क्या करें जब आपको भी दही खाने की क्रेविंग हो रही हो!

Periods mein dahi khaya jaa sakta hai
पिरियड्स में दही खाया जा सकता है। चित्र : शटरस्टॉक

जब हर महीने आपको पीरियड्स आता है, तो वह अकेला नहीं होता! ऐंठन, सूजन, शरीर में दर्द और मूड स्विंग भी साथ आते हैं! इस दौरान आप क्या खाते हैं यह मायने रखता है। भ्रांतियों की दुनिया में ऐसे कई खाद्य पदार्थ हैं जिसे मासिक धर्म के दौरान खाना चाहिए या नहीं खाना चाहिए। दही उनमें से एक है।

जहां कुछ खाद्य पदार्थ हैं जो आपके मासिक धर्म चक्र को प्रबंधित करने में मदद कर सकते हैं, वहीं कुछ ऐसे खाद्य पदार्थ भी हैं जो आपकी परेशानी को बढ़ा सकते हैं। पीरियड्स के दौरान क्या खाएं और क्या न खाएं, इसका चयन करना जरूरी है। हां लेडीज, यह एक मिथ है कि खट्टा भोजन खाने से गंभीर ऐंठन हो सकती है या भारी रक्तस्राव हो सकता है। इसके साथ ही यह आम धारणा है कि पीरियड्स के दौरान महिलाओं को दही खाने से भी बचना चाहिए।

आपने भी कई बार अपनी मां से यह सुना होगा कि आपको दही नहीं खाना चाहिए क्योंकि इससे आपका रक्त प्रवाह बढ़ सकता है। लेकिन क्या इसमें कोई सच्चाई है? तथ्यों की जांच करने के लिए, हेल्थशॉट्स ने एक विशेषज्ञ से यह पुष्टि करने की कोशिश की है।

क्या पीरियड्स में दही खा सकते हैं?

जी हां, पीरियड्स के दौरान दही का सेवन किया जा सकता है।

एशियन इंस्टीट्यूट ऑफ मेडिकल साइंसेज, फरीदाबाद की प्रमुख आहार विशेषज्ञ विभा बाजपेयी कहती हैं, “कैल्शियम के अच्छे स्रोत के रूप में दही हमारी हड्डियों और शरीर को पर्याप्त ताकत देने में मदद करता है। इसके अलावा, दही की प्रोबायोटिक प्रकृति सूजन और अन्य पाचन समस्याओं को कम करने में काम करती है। इसके अलावा, पीरियड्स के दौरान दही का सेवन चिंता और अवसाद को कम करने के साथ-साथ मांसपेशियों में दर्द और ऐंठन को कम करने में मदद करता है।”

Periods ke samay khatte khadya padartho ka sewan na kareपीरियड्स के दौरान खट्टे खाद्य पदार्थों का सेवन न करें। चित्र: शटरस्‍टॉक

पीरियड्स के दौरान खट्टे खाद्य पदार्थों और दही से परहेज करना सदियों पुरानी मान्यता है जो केवल मिथ है। ये किसी भी तरह से आपकी परेशानी को नहीं बढ़ाते हैं। वास्तव में, दही को स्वस्थ आंत बैक्टीरिया को बढ़ावा देने में मदद करने के लिए माना जाता है। इससे सूजन या कब्ज की संभावना कम हो जाती है, जो ज्यादातर महिलाओं को उनके पीरियड्स के दौरान होती है।

इस दौरान दही खाने का एक सबसे अच्छा तरीका है छाछ या लस्सी बनाकर इसका सेवन करना। क्योंकि यह हमारे शरीर को हाइड्रेट करने में मदद करता है और खोए हुए पोषक तत्वों की पूर्ति करता है।

रात या शाम को क्यों नहीं खाना चाहिए दही?

दही प्रोटीन और कैल्शियम का एक समृद्ध स्रोत होने के कारण आपकी हड्डियों, दांतों और शरीर के अन्य कार्यों के लिए अच्छा है। इसके प्रोबायोटिक गुण पाचन में भी मदद करते हैं। विभा बाजपेयी कहती हैं, ” इस सुपरफूड का सेवन दिन के किसी भी समय किया जा सकता है। लेकिन कुछ शर्तों के तहत आपको रात या शाम को दही लेने से बचना चाहिए।”

दही से संबंधित कुछ अन्य जरूरी बातों पर ध्यान दें

  1. जिन लोगों को खांसी-जुकाम हो या जिन्हें अस्थमा की समस्या हो उन्हें रात के समय दही का सेवन नहीं करना चाहिए।
  2. आयुर्वेदिक उपचार लेते समय दही खाने से बचें क्योंकि यह आयुर्वेदिक दवा के साथ परस्पर क्रिया कर सकता है और इसके परिणामस्वरूप दवा का अवशोषण कम हो सकता है।
  3. सामान्य व्यक्ति बिना किसी शिकायत के रात को दही में मेथी, काली मिर्च आदि डालकर ले सकते हैं।
Raat ko dahi khana healthy nahi hai रात को दही खाना हेल्दी नहीं है। चित्र: शटरस्‍टॉक

पीरियड्स के दौरान खट्टे खाद्य पदार्थों और दही से परहेज करना सदियों पुरानी मान्यताएं हैं जो केवल मिथ हैं। वे किसी भी तरह से आपकी परेशानी को नहीं बढ़ाते हैं। वास्तव में, दही को स्वस्थ आंत बैक्टीरिया को बढ़ावा देने में मदद करने के लिए माना जाता है। इससे सूजन या कब्ज की संभावना कम हो जाती है जो महिलाओं को उनके पीरियड्स के दौरान होती है।

पीरियड्स के दौरान किन खाद्य पदार्थों से बचना चाहिए?

आपका आहार आपके मासिक धर्म के दिनों में एक महत्वपूर्ण भूमिका निभाता है, और इसलिए यह जानना महत्वपूर्ण है कि पीरियड्स के दौरान क्या खाना चाहिए और किन खाद्य पदार्थों से बचना चाहिए।

  1. अतिरिक्त मसालेदार भोजन से दूर रहें
  2. अतिरिक्त नमकीन भोजन से बचें
  3. कॉफी के सेवन से बचें
  4. प्रोसेस्ड और फैटी फूड का सेवन सीमित करना चाहिए
  5. ध्यान रहे कि शराब का सेवन ना करें

पीरियड्स के समय मौजूद मिथ के आगे न झुकें और एन्जॉय करें।

यह भी पढ़ें: सेक्स लाइफ में कुछ टर्न ला सकती है 40 की उम्र, जानिए इनसे कैसे निपटना है

टीम हेल्‍थ शॉट्स टीम हेल्‍थ शॉट्स

ये हेल्‍थ शॉट्स के विविध लेखकों का समूह हैं, जो आपकी सेहत, सौंदर्य और तंदुरुस्ती के लिए हर बार कुछ खास लेकर आते हैं।