डैंड्रफ से परेशान हैं, तो इन 4 तरीकों से करें टी ट्री ऑयल का इस्तेमाल

बालों में रूसी होने के मतलब है कि आपकी स्कैल्प या तो बहुत ज्यादा रूखेपन से जूझ रही है या वह बहुत ज्यादा ऑयली हो गई है। इन दोनों ही स्थितियों के लिए मेरी मम्मी टी ट्री ऑयल इस्तेमाल करने का सुझाव देती हैं।
जानिए रूसी से छुटकारा दिलाने में कैसे मददगार है टी ट्री ऑयल। चित्र :शटरकॉक
निशा कपूर Published on: 18 August 2022, 12:25 pm IST
ऐप खोलें

आजकल डैंड्रफ की परेशानी काफी आम हो गई है। इसकी वजह से ज्यादातर लोग परेशान रहते हैं और इससे छुटकारा पाने के लिए कई प्रकार के उपाय अपनाते हैं। पर मेरी मम्मी डैंड्रफ (Dandruff) दूर करने के लिए टी ट्री ऑयल (Tea Tree Oil) का सुझाव देती हैं। ऐसा नहीं है कि वे सिर्फ सोशल मीडिया के कारण टी ट्री ऑयल की फैन हो गईं हैं, बल्कि उनके पास इसे इस्तेमाल करने के सॉलिड रीज़न भी हैं। आइए जानते हैं डैंड्रफ दूर करने में कैसे कारगर है टी ट्री ऑयल (tea tree oil to get rid of dandruff)।

जानिए टी ट्री ऑयल के बारे में क्या कहता है साइंस

टी ट्री ऑयल को डैंड्रफ से निपटने का एक अच्छा हर्बल ट्रीटमेंट माना जाता है। चित्र : शटरकॉक

एंटीडैंड्रफ के रूप में

टी ट्री ऑयल को डैंड्रफ (Tea Tree Oil For Dandruff) से निपटने का एक अच्छा हर्बल ट्रीटमेंट माना जाता है। इससे जुड़े एक वैज्ञानिक शोध के मुताबिक, टी ट्री ऑयल में एंटीडैंड्रफ गतिविधि होती हैं। यह गतिविधि डैंड्रफ को पनपने से रोकने के साथ ही इससे छुटकारा दिलाने में सहायता कर सकती है। शोध में कहा गया है कि टी ट्री ऑयल को इसी कारण से एंटी डैंड्रफ शैम्पू में प्रयोग किया जाता है।

एंटीफंगल है टी ट्री ऑयल

डैंड्रफ के लिए टी ट्री ऑयल का प्रयोग इसके एंटीफंगल प्रभाव की वजह से होता है। एनसीबीआई (नेशनल सेंटर फॉर बायोटेक्नोलॉजी इंफॉर्मेशन) की वेबसाइट पर पब्लिश एक शोध में भी इस बात का जिक्र है। रिसर्च के मुताबिक, डैंड्रफ होने के पीछे यीस्ट पिट्रोस्पोरम ओवल जिम्मेदार होता है। इसके प्रभाव को टी ट्री ऑयल में मौजूद एंटी फंगल गतिविधि कम कर सकती है। इससे डैंड्रफ के इलाज में सहायता मिलती है।

एसेंशियल ऑयल में मॉइस्चराइजिंग गुण होता है चित्र : शटरस्टॉक

स्किन मॉइस्चराइजर के तौर पर

एनसीबीआई की वेबसाइट पर प्रकाशित एक मेडिकल शोध के मुताबिक, डैंड्रफ की एक वजह स्कैल्प का रूखापन भी है। एसेंशियल ऑयल में मॉइस्चराइजिंग गुण होता है। टी ट्री ऑयल भी एक तरह का एसेंशियल ऑयल है, इसलिए यह स्कैल्प के रूखेपन को कम करके डैंड्रफ की परेशानी से निजात दिला सकता है।

अब जानिए रूसी हटाने के लिए कैसे करना है टी ट्री ऑयल का इस्तेमाल

पहला तरीका : टी ट्री ऑयल

सामग्री – टी-ट्री ऑयल की 4 से 5 बूंदें, आधा चम्मच पानी

प्रयोग की विधि

टी-ट्री ऑयल को पानी में मिलाकर पूरे स्कैल्प पर अच्छी तरह लगाएं।
इसे करीब 15 से 20 मिनट तक स्कैल्प पर लगा रहने दें।
फिर शैम्पू से स्कैल्प और बालों को अच्छी तरह से धो लें।
टी ट्री ऑयल को हफ्ते में तीन बार लगाया जा सकता है।

नींबू का रस और टी ट्री ऑयल
चित्र : शटरस्टॉक

दूसरा तरीका : नींबू का रस और टी ट्री ऑयल

सामग्री – एक चम्मच नींबू का रस, टी ट्री ऑयल की 3 से 4 बूंदें, पानी की दो से तीन बूंदें

प्रयोग की विधि
टी ट्री ऑयल और नींबू के रस को पानी में मिलाकर पूरे स्कैल्प पर अच्छी तरह लगाएं।
तक़रीबन 30 मिनट के लिए इस मिश्रण को सिर पर लगा रहने दें।
30 मिनट बाद बालों को शैम्पू से अच्छी तरह धो लें।

तीसरा तरीका : अरंडी का तेल और टी ट्री ऑयल

सामग्री – एक चम्मच अरंडी का तेल, दो से चार बूंदें टी ट्री ऑयल

प्रयोग की विधि
सबसे पहले अरंडी के तेल को हल्का गुनगुना करके उसमें टी ट्री ऑयल मिला लें।
इसके बाद इसे पूरे स्कैल्प पर लगाएं और करीब 30 मिनट के लिए छोड़ दें।
आधे घंटे बाद बालों और स्कैल्प को शैम्पू से धो लें।

चौथा तरीका : विटामिन ई और टी ट्री ऑयल

सामग्री – एक विटामिन ई कैप्सूल, टी ट्री ऑयल की दो से तीन बूंदें

प्रयोग की विधि
विटामिन ई कैप्सूल और टी ट्री ऑयल को आपस में अच्छे से मिला लें।
फिर इसे स्कैल्प में लगाकर दो से तीन मिनट मसाज करें और 30 मिनट के लिए छोड़ दें।
आधे घंटे के बाद शैम्पू से स्कैल्प और बालों को अच्छी तरह धो लें।

लेखक के बारे में
निशा कपूर

देसी फूड, देसी स्टाइल, प्रोग्रेसिव सोच, खूब घूमना और सफर में कुछ अच्छी किताबें पढ़ना, यही है निशा का स्वैग।

हेल्थशॉट्स कम्युनिटी

हेल्थशॉट्स कम्युनिटी का हिस्सा बनें

ज्वॉइन करें
Next Story