लगातार पतले होते जा रहे हैं बाल? तो आपकी मदद कर सकते हैं सदियों से आजमाए जा रहे ये 5 घरेलू उपाय

बालों के झड़ने के कई कारण हो सकते हैं, जिनमें से बालों का पतलापन सबसे अहम कारण है। आइये जानते हैं कि आखिर बाल क्यों पतले होने लगते हैं और इससे बचने के उपाय।

hair thining ke karan
बाल पतले होने के कारण और घरेलू उपचार। चित्र : शटरस्टॉक
  • 140

बरसात के मौसम में बालों का झड़ना बेहद नॉर्मल है। और हम सभी अपने जीवन में कभी न कभी बालों के बहुत ज़्यादा झड़ने का अनुभव किया है। कई बार यह मौसमी परिवर्तन के कारण होता है। मगर, यह कई बार बालों के पतले होने के कारण भी होता है। पतले बाल कमजोर हो जाते हैं और टूटने लगते हैं। ऐसे में यह जानना बौट ज़रूरी है कि आखिर बालों के झड़ने और पतले होने का कारण क्या है।

जानिए क्या है बाल पतले होने का कारण?

उम्र बढ़ना (Aging)

बालों की मोटाई में बदलाव उम्र बढ़ने का परिणाम हो सकता है। बाल प्रोटीन से बनते हैं। एक हेयर फॉलिकल का औसत जीवनकाल 2 से 7 वर्ष होता है। फिर बाल गिर जाते हैं और इसकी जगह नए बाल आ जाते हैं। उम्र बढ़ने के साथ, बाल छोटे हो जाते हैं और उनमें पिगमेंट कम हो जाता है। बाल उम्र बढ़ने के साथ पतले, महीन और हल्के रंग के हो जाते हैं। ऐसे में कई हेयर फॉलिकल्स भी नए बाल पैदा करना बंद कर देते हैं।

एंड्रोजेनिक एलोपीशिया (Androgenic Alopecia)

एंड्रोजेनिक एलोपीशिया पुरुषों में बालों के झड़ने और महिलाओं में बालों के पतले होने के सबसे आम कारणों में से एक है। एंड्रोजेनिक खालित्य से बाल एम-आकार के पैटर्न में पतले हो जाते हैं। मंदिर (सिर के किनारे) और सिर के मुकुट (शीर्ष भाग) पर बालों का झड़ना होता है।

फीमेल पैटर्न हेयर लॉस (FPHL)

यह महिलाओं में बालों के झड़ने के सबसे आम कारणों में से एक है। FPHL से लाखों महिलाएं प्रभावित हैं। यह तब शुरू होता है जब एक महिला 40, 50 या 60 के दशक में होती है।

जानिए आप अपने बालों को घरेलु उपायों की मदद से कैसे पतला होने से रोक सकती हैं

1. हेयर मसाज

बालों की मोटाई बढ़ाने में स्कैल्प मसाज मददगार होती है। हेयर मसाज से कोशिकाएं उत्तेजित होती हैं और इससे रक्त प्रवाह में सुधार होता है जिससे बालों की मोटाई बढ़ जाती है।

hair mask lagaen
इसे बालों की जड़ों से नोेक तक अप्‍लाई करें। चित्र: शटरस्‍टॉक

2. अमला

बालों को शैंपू करने के लिए आप आंवले के सूखे पाउडर का इस्तेमाल कर सकती हैं। इसे हेयर टॉनिक के रूप में भी इस्तेमाल किया जा सकता है। बालों की देखभाल के लिए आंवला की सलाह दी जाती है।

3. शिकाकाई

बालों के विकास को बढ़ावा देने और बालों को झड़ने से रोकने के लिए आप शिकाकाई के पाउडर का उपयोग कर सकती हैं। इसका उपयोग बालों के स्वस्थ विकास और बालों के रंग को बरकरार रखने के लिए किया जाता है।

4. ब्राम्ही

बालों के विकास को बढ़ावा देने के लिए आप ब्राम्ही युक्त हेयर ऑयल का उपयोग कर सकती हैं। ब्राम्ही में मौजूद अल्कलॉइड बालों के विकास के लिए जिम्मेदार हैं।

5. मेथी

मेथी या मेथी आमतौर पर इस्तेमाल की जाने वाली सुगंधित जड़ी-बूटी है। मेथी के पत्ते बालों का झड़ना रोकने में फायदेमंद होते हैं। यह बालों के विकास को बढ़ावा देने में भी सहायक है।

यह भी पढ़ें : चाहती हैं सुंदर और घनी पलकें, तो ये 5 घरेलू उपाय कर सकते हैं आपकी चाहत पूरी

  • 140
लेखक के बारे में
ऐश्‍वर्या कुलश्रेष्‍ठ ऐश्‍वर्या कुलश्रेष्‍ठ

प्रकृति में गंभीर और ख्‍यालों में आज़ाद। किताबें पढ़ने और कविता लिखने की शौकीन हूं और जीवन के प्रति सकारात्‍मक दृष्टिकोण रखती हूं।

हेल्थशॉट्स कम्युनिटी

हेल्थशॉट्स कम्युनिटी का हिस्सा बनें

ज्वॉइन करें
nextstory

हेल्थशॉट्स पीरियड ट्रैकर का उपयोग करके अपने
मासिक धर्म के स्वास्थ्य को ट्रैक करें

ट्रैक करें