स्किन को नेचुरली सॉफ्ट बनाना है तो हर रोज नहाने से पहले लगाएं तेल, आजमाया हुआ है नुस्खा

जाड़े में स्किन का विशेष ख्याल रखना पड़ता है। यहां हैं वे 3 कारण, जिनकी वजह से नहाने से पहले तेल मालिश करना जरूरी होता है।
आयुर्वेद भी सर्दियों में नहाने से पहले शरीर की तेल मालिश करने पर मुहर लगाता आया है। चित्र : शटरस्टॉक
स्मिता सिंह Published on: 4 December 2022, 17:00 pm IST
ऐप खोलें

बचपन में सर्दियों की शुरुआत के साथ ही घर में तेल का प्रयोग बढ़ जाता था। बालों, स्कैल्प, सिर के अलावा मम्मी स्किन पर भी तेल लगाने को कहा करती थी। वे सर्दियों में नहाने के पहले हाथ-पैर और पूरे शरीर पर तेल की मसाज करने की सलाह देती थीं। मम्मी का यह नुस्खा मैंने टीवी सीरियल में भी मुगल राजकुमारियों को आजमाते हुए देखा था। दरअसल, आयुर्वेद भी सर्दियों में नहाने से पहले शरीर की तेल मालिश करने पर मुहर लगाता (benefits of applying oil on body before bath) आया है।

नहाने से पहले तेल लगाना क्यों है जरूरी (benefits of applying oil on body before bath)

इन्टरनेशनल जर्नल ऑफ़ नर्सिंग स्टडीज में जाड़े के दिनों में नहाने से पहले तेल लगाने की जरूरतों पर वर्ष 2017 में एक शोध आलेख प्रकाशित हुआ। जैन कोटनर, वरवारा कांति और गेबर डोबोस की टीम ने 60 से भी अधिक बड़े और बच्चों पर नहाने से पहले नारियल तेल लगाने का प्रभाव देखा। इस स्टडी के निष्कर्ष के अनुसार, नियमित त्वचा की देखभाल के लिए नहाने के पहले तेल लगाया गया।जिन बच्चों और वयस्कों की स्किन ड्राई थी, उनकी स्किन बैरियर वर्क में सुधार पाया गया। उनकी स्किन में सुधार हुआ और ड्राईनेस खत्म हुई।

आयुर्वेद भी करता है नहाने से पहले तेल मालिश की सिफारिश(ayurveda technique of oil massage)

आयुथवेदा के फाउंडर और सीईओ डॉ. संचित शर्मा कहते हैं कि आयुर्वेद में नियमित तेल मालिश करने की बात कही गई है। आयुर्वेद में तेल मालिश को अभ्यंग कहा जाता है। अभ्यंग न सिर्फ मांसपेशियों को टोन करता है, बल्कि वात के कारण ड्राय स्किन को भी मुलायम बनाता है।

शरीर पर आधे घंटे से लेकर 1 घंटे तक तेल मालिश की जा सकती है। यदि तिल के तेल का प्रयोग किया जाता है, तो इससे रात में मालिश करना सही होता है।

जाड़े के दिनों में नहाने से पहले तेल लगाने से होते हैं 3 फायदे (benefits of applying oil on body before bath)

1 नमी का होता है अवशोषण (Absorption of moisture)

इन्टरनेशनल जर्नल ऑफ़ नर्सिंग स्टडीज के शोध आलेख के अनुसार जाड़े के दिनों में स्किन और अधिक ड्राई हो जाती है। स्किन में मौजूद नेचुरल ऑयल सूखने लगते हैं। नहाने से पहले ऑयल लगाने से त्वचा और पानी के बीच एक अवरोध पैदा हो जाता है। इससे पानी के साथ स्किन ऑयल बाहर नहीं निकल पाता है।

2 टॉक्सिंस ( Toxins) हो जाते हैं खत्म 

इंटरनेशनल जर्नल ऑफ़ मॉलिक्यूलर साइंस की रिसर्च रिपोर्ट के अनुसार, कई प्लांट ऑयल जैसे कि कोकोनट ऑयल, ओलिव ऑयल, तिल का तेल एंटी बैक्टीरियल और एंटी इन्फ्लामेट्री गुणों वाला होता है। यह वुंड को रिपेयर करता है। जब आप नहाने से पहले तेल को गर्म कर लगाती हैं, तो शरीर से टॉक्सिन्स बाहर निकल आते हैं। जब आप नहाती हैं, तो पानी के साथ ये सभी टोक्सिन भी धुल जाते हैं।

3 रैशेज और खुजली से होता है बचाव (oil massage for skin rashes and skin itching)

इन्टरनेशनल जर्नल ऑफ़ नर्सिंग स्टडीज के अनुसार, जाड़े के दिनों में ठंडी हवा स्किन की नमी सोख लेती है। आपकी स्किन पर रैशेज हो जाते हैं और आपको खुजली भी होने लगती है। नहाने से पहले जब आप तेल लगाती हैं, तो खोई हुई नमी वापस लौट आती है।

नहाने से पहले जब आप तेल लगाती हैं, तो खोई हुई नमी वापस लौट आती है। चित्र:शटरस्टॉक

दरअसल पानी नमी को अवरुद्ध कर देता है। इससे तेल को अब्जोर्ब करना आसान हो जाता है।

यहां हैं नहाने से पहले लगाये जाने वाले मां के बताये तेल (oil massage before take bath)

1 बादाम तेल (Almond Oil)

विटामिन ई से भरपूर बादाम तेल लगाने से स्किन की अंदर तक सफाई होती है और उसे संपूर्ण पोषण मिलता है।

2 नारियल तेल (Coconut Oil)

नारियल तेल में मौजूद एंटी-ऑक्सीडेंट, एंटी-बैक्टीरियल और एंटी-फंगल तत्व स्किन को नमी देते हैं। नहाने से पहले प्रयोग करने पर स्किन चमकदार बनी रहती है।

3 ऑलिव आयल (Olive Oil)

विटामिन-ई, विटामिन के, ओमेगा-3 फैटी एसिड, एंटीऑक्सीडेंट से भरपूर ओलिव आयल को नहाने से पहले लगाया जा सकता है।

जाड़े के दिनों में नहाने से पहले शरीर पर ओलिव आयल लगायें ।चित्र : शटरस्टॉक

इससे स्किन रिपेयर होती है और ड्राईनेस खत्म होती है।

4 तिल का तेल (Sesame oil)

कैल्शियम,कॉपर, मैंगनीज, फास्फोरस, जिंक, मैग्नीशियम, विटामिन बी1, विटामिन बी 6 वाले तिल का तेल जाड़े के दिनों में लगाने पर शरीर को गर्म रखता है। यह नमी को बरकरार रख कर स्किन की ड्राईनेस को खत्म कर देता है।

यह भी पढ़ें :- Bridal hair care tips : शादी की तैयारियों में बालों को न करें इग्नोर, एक्सपर्ट बता रहीं हैं कुछ खास टिप्स

लेखक के बारे में
स्मिता सिंह

स्वास्थ्य, सौंदर्य, रिलेशनशिप, साहित्य और अध्यात्म संबंधी मुद्दों पर शोध परक पत्रकारिता का अनुभव। महिलाओं और बच्चों से जुड़े मुद्दों पर बातचीत करना और नए नजरिए से उन पर काम करना, यही लक्ष्य है।

हेल्थशॉट्स कम्युनिटी

हेल्थशॉट्स कम्युनिटी का हिस्सा बनें

ज्वॉइन करें
Next Story