Healthy Bharwa Karela Recipe : एयर फ्रायर में बनाएं गिल्ट फ्री भरवां करेला, हम बता रहे हैं कैसे

यदि भरवा के लिए करेले को बनाने का पुराना तरीका देखा जाए तो इसे ऑयल में डीप फ्राई किया जाता है, जो इसे अनहेल्दी बना देते हैं। इसलिए मेरी मां इसे हमेशा एयर फ्राई करती हैं।
karela
एक स्वादिष्ट व्यंजन तैयार हो जाता है। क्यों न आप इस रेसिपी को ट्राई करें। चित्र : एडॉबीस्टॉक
अंजलि कुमारी Published: 25 Jun 2024, 07:25 pm IST
  • 124

करेला एक पौष्टिक सुपरफूड है, जिसे इसके स्वास्थ्य गुणों के लिए जाना जाता है। हालांकि, इसका स्वाद सभी को पसंद नहीं होता परंतु यदि इसे सही तरीके से तैयार किया जाए तो यह खाने में भी स्वादिष्ट हो सकता है। करेले में कई खास पोषक तत्व पाए जाते हैं, साथ ही साथ इसे डायबिटीज, ब्लड प्रेशर, पाचन संबंधी समस्याओं के साथ-साथ कई अन्य स्वास्थ्य समस्यायों में बेहद कारगर माना गया है। यदि आपको डायबिटीज ब्लड प्रेशर जैसी समस्या नहीं है, तो भी आपको इसे खाना चाहिए, क्योंकि यह बॉडी टॉक्सिंस को बाहर निकलने में मदद करता है।

मुझे करेले का स्वाद कुछ खास पसंद नहीं है, इसीलिए मेरी मां मुझे भरवां करेला बनाकर खिलाती हैं। हालांकि, यदि भरवा के लिए करेले को बनाने का पुराना तरीका देखा जाए तो इसे ऑयल में डीप फ्राई किया जाता है, जो इसे अनहेल्दी बना देते हैं। इसलिए मेरी मां इसे हमेशा एयर फ्राई करती हैं। इस प्रकार करेले की असल गुणवत्ता भी बनी रहती है, और एक स्वादिष्ट व्यंजन तैयार हो जाता है। क्यों न आप इस रेसिपी को ट्राई करें। आइए हेल्थ शॉट्स के साथ जानते हैं, भरवां करेला तैयार करने की रेसिपी (How to make bharwa karela in air fryer)।

जानें क्या हैं करेले के फायदे (karela benefits)

मणिपाल हास्पिटल, गाज़ियाबाद में हेड ऑफ न्यूट्रीशन और डाइटेटिक्स डॉ अदिति शर्मा ने करेले के कुछ महत्वपूर्ण फायदे बताए हैं। तो चलिए जानते हैं, इस बारे में।

करेले में बेहद कम मात्रा में कैलोरी पाई जाती है, वहीं यह फाइबर का एक समृद्ध स्रोत है। इसके सेवन से शरीर को पर्याप्त मात्रा में फाइबर की प्राप्ति होती है। हर 100 ग्राम करेले से 2 ग्राम फाइबर प्राप्त होता है। इसके सेवन से पाचन क्रिया सकारात्मक रूप से कार्य करती है, साथ ही साथ भूख भी नियंत्रित रहता है। नियमित रूप से करेले का सेवन शरीर में अधिक कैलोरी के जमाव को कम के देता है। इससे वेट मैनेजमेंट में मदद मिलती है।

Jaanein bittergoud kaise cook karein
एंटीऑक्सीडेंटस, विटामिन और मिनरल्स से भरपूर करेले को किचन गार्डन में उगाकर खाना ज्यादा फायदेमंद साबित होता है। चित्र : एडॉबीस्टॉक

करेले में फिनॉलिक कंपाउड पाए जाते हैं, जो ब्लड प्रेशर को नियंत्रित करने में आपकी मदद करते हैं। इसके साथ ही इसमें एंटीमाइक्रोबियल प्रॉपर्टीज मौजूद होती हैं, जो बॉडी टॉक्सिंस को बाहर निकाल कर, ब्लड को प्यूरिफाई करती हैं।

यह भी पढ़ें: डायबिटीज और हार्ट डिजीज से बचाता है करेला, मगर पहले जान लें इसे बनाने और खाने का सही तरीका

इसके साथ ही आयरन ओर फोलेट का एक अच्छा स्रोत है, इसके सेवन से शरीर में रेड ब्लड सेल्स की मात्रा बढ़ती है, जिससे एनीमिया को ट्रीट किया जा सकता है। जिन लोगों के शरीर में खून की कमी है, उन्हें करेला खाने की सलाह दी जाती है। वहीं शरीर में ब्लड लेवल बढ़ने से ऑक्सीजन का प्रवाह बढ़ जाता है। इससे शारीरिक संतुलन बना रहता है।

भरवां करेला की रेसिपी (bharva karela recipe)

भरवां करेला बनाने के लिए आपको चाहिए

4 छोटे करेले
1 बड़ा चम्मच नमक
1 छोटा चम्मच हल्दी

करेले का भरावन तैयार करने के लिए

2 कप बारीक कटा हुआ प्याज
1 बड़ा चम्मच लहसुन का पेस्ट
1 बड़ा चम्मच पीली सरसों का पेस्ट
2 बड़े चम्मच सरसों का तेल (अपनी पसंद का कोई भी तेल)
1.5 बड़ा चम्मच सूखा आम पाउडर
1 छोटा चम्मच हल्दी पाउडर
2 बड़े चम्मच करेले के बीज (जिन्हें हमने निकाल दिया है) (वैकल्पिक, लेकिन बहुत बढ़िया स्वाद देता है)
1 बड़ा चम्मच नींबू का रस

kadwe ka fayda
मानसून में कड़वे भोजन के प्रयोग से पाचन क्रिया दुरुस्त रहती है। चित्र:शटरस्टॉक

जानें किस तरह तैयार करना है भरावन

सबसे पहले करेले को धोकर साफ कर लें।
इसे बीच से चीर लगाकर काटें, चम्मच की मदद से सारे बीज निकाल दें।
एक बड़ा बर्तन लें और उसमें पर्याप्त पानी भरें।
इसमें 1 बड़ा चम्मच नमक और 1 छोटा चम्मच हल्दी डालें, इसमें उबाल आने दें।
अब पानी में सारे करेले डाल दें। इसे तब तक उबालें जब तक यह 50 प्रतिशत तक पक न जाए।
इसे बाहर निकालें और अंदर का पानी निकाल दें।
अब इसे टिश्यू पेपर से पोंछकर सुखा लें।
इसे तब तक काउंटर पर ही रहने दें जब तक हम मसालों का मिश्रण तैयार न कर लें।

अपनी रुचि के विषय चुनें और फ़ीड कस्टमाइज़ करें

कस्टमाइज़ करें

इस तरह तैयार करें मसाले का मिश्रण

एक पैन लें, इसे गर्म करें और इसमें तेल डालें। सरसों के तेल को तब तक गर्म करें, जब तक इससे धुआं न निकलने लगे।
अब इसमें प्याज़ डालें, मध्यम आंच पर 1 से 2 मिनट तक भूनें।
लहसुन का पेस्ट डालें और तब तक भूनें जब तक कि सारी कच्ची महक न चली जाए।
अब इसमें हल्दी पाउडर और अमचूर पाउडर डाल दें। इसे मध्यम आंच पर भूनें।
फिर इसमें 2 बड़े चम्मच पानी और स्वादानुसार नमक डालें (ज़्यादा न डालें)। इसे 3-4 मिनट तक चलाएं, ताकि मसाला पेस्ट बन जाए।
तेल छोड़ने के बाद गैस बंद कर दें। इसे ठंडा होने दें।
फिर ग्राइंडर की मदद से सारे मसाले के मिश्रण को पीसकर चिकना पेस्ट बना लें।
इसे एक कटोरे में निकाल लें और इसमें नींबू का रस निचोड़े।

इस तरह करें करेले में स्टफिंग

तैयार किए गए मसाले के मिश्रण को सारे करेले में भरें। हालांकि, अधिक मात्रा में स्टफिंग न करें।

kadve khadhya padarth lar ke utpadan ko badhate hain.
करेले का नियमित सेवन मधुमेह वाले लोगों में बेहतर ग्लाइसेमिक नियंत्रण बनाए रखने में मदद करता है। चित्र : एडॉबीस्टॉक

अब जानें भरवां करेले को एयर फ्राई कैसे करना है (How to make bharwa karela in air fryer)

अपने एयर फ्रायर को 370 F पर 2 मिनट के लिए पहले से गरम कर लें।
करेले पर हल्का सा तेल लगाएं।
इसे एयर फ्रायर पैन में व्यवस्थित करें।
370 F पर 7-8 मिनट के लिए एयर फ्राई करें।
आपका समय अलग हो सकता है, यह करेले के साइज पर निर्भर करता है। मैं सामान्य करेले के साइज का समय बता रही हूं।
एक बार हो जाने पर इसे एयर फ्रायर से निकाल लें। ताज़े धनिया से गार्निश करें और इस स्वादिष्ट और हेल्दी करेले से बनी डिश का आनंद लें।

नोट: मेरी मां को करेले थोड़े नरम पसंद हैं, लेकिन यह व्यक्तिगत पसंद पर निर्भर करता है। अगर आपको बेहद कुरकुरा पसंद है, तो इसे अधिक फ्राई करें। खाना पकाने में कोई सख्त नियम नहीं है, यह हमेशा व्यक्तिगत पसंद पर निर्भर करता है।

यह भी पढ़ें: करेले का कड़वापन भुला देंगी मुंह में पानी लाने वाली ये 5 करेला रेसिपीज, सेहत के लिए भी हैं फायदेमंद

  • 124
लेखक के बारे में

इंद्रप्रस्थ यूनिवर्सिटी से जर्नलिज़्म ग्रेजुएट अंजलि फूड, ब्यूटी, हेल्थ और वेलनेस पर लगातार लिख रहीं हैं। ...और पढ़ें

अगला लेख