गर्मियों में खुद को अंदर से ठंडा रखने के लिए पिएं स्पेशल खस खस वाला दूध, जानिए इसकी हेल्दी रेसिपी

Published on: 5 June 2022, 08:00 am IST

मेरी मम्मी कहती हैं खस खस का दूध आपको गर्मियों में अंदर से ठंडा रखने में मदद कर सकता है। इतना ही नहीं यह आपके लिए फायदेमंद भी है।

khus khus doodh ke fayde
दूध के फायदे और नुस्खा। चित्र : शटरस्टॉक

आजकल हम गर्मी दूर करने के लिए कई सारे उपाय करते हैं। ऐसे में ज़्यादातर लोग ए.सी में बैठना पसंद करते हैं और ठंडे – ठंडे रिफ्रेशिंग ड्रिंक्स पीना पसंद करते हैं। यह दोनों ही तरीके आपको गर्मी नहीं लागने देंगे, लेकिन आपकी बॉडी हीट का क्या? गर्मियों में बढ़ते तापमान की वजह से हर किसी को गर्मी लगती है, लेकिन आपको अंदर से गर्मी लग रही होगी, तो आप क्या करेंगी?

ठीक ऐसा ही कुछ दिनों पहले मेरे साथ हो रहा था। और एसी से लेकर ठंडे ड्रिंक्स ट्राई करने तक कुछ भी काम नहीं कर रहा था। तभी मेरी मां नें मुझे खस खस का दूध (Khus Khus Milk) लाकर दिया। मुझे लगा पता नहीं क्यों वे मुझे ये दूध पीला रही हैं। हालांकि, दूध का स्वाद वाकई बहुत अच्छा था। पर इसके पीछे का मकसद कुछ समझ नहीं आया।

मगर फिर मम्मी हर दिन मुझे ऐसी ही रात में खस खस का दूध पिलाने लगीं और मुझे जो गर्मी महसूस होती थी, वो कब गायब हो गयी मुझे पता भी नहीं चला। एक दिन मम्मी से इस बारे में पूछने पर उन्होनें बताया कि खस – खस (Poppy Seeds) का दूध, शरीर को ठंडा रखता है, क्योंकि इसकी तासीर ठंडी होती है। मुझे सुनकर बड़ा आश्चर्य हुआ, तो इस बारे में मैंने ऑनलाइन पढ़ने की कोशिश की। देखिये मुझे क्या मिला।

जानिए गर्मियों में आपके लिए कैसे फायदेमंद है खस – खस का दूध?

खस – खस की तासीर ठंडी होती है और यह अपने सुखदायक और शीतलन प्रभावों के लिए जाना जाता है। यह हर प्रकार की सूजन को शांत करने में मदद करता है। यह नसों और तंत्रिका तंत्र दोनों में सूजन से राहत देने में मदद करता है। यह प्रतिरक्षा प्रणाली को भी बढ़ाता है और मन को शांत करता है। एनसीबीआई के अनुसार खसखस में एनाल्जेसिक गुण होते हैं, इसलिए यह अनिद्रा का भी इलाज करता है और हृदय, तंत्रिका और श्वसन प्रणाली में सुधार करता है।

यदि आपकी भी बॉडी में हीट बहुत ज़्यादा बनती हैं, तो ट्राई करें ये खस खस दूध की रेसिपी (Khus Khus Milk Recipe)

खस खस दूध बनाने के लिए आपको चाहिए

1 बड़ा चम्मच सफेद खसखस ​​(खसखस)
कप बादाम
1 बड़ा चम्मच घी
2 कप दूध, कमरे का तापमान
1 छोटा चम्मच इलायची पाउडर या 2 – 3 हरी इलायची
2 बड़े चम्मच कोकोनट शुगर या स्वादानुसार
चम्मच हल्दी पाउडर या केसर

Khaskhas ke beej healthy hai
खसखस के बीज आपके स्वास्थ्य के लिए बेहद लाभकारी हैं। चित्र-शटरस्टॉक।

खस खस का दूध बनाने की विधि 

बादाम को गर्म पानी में 10-15 मिनट रात भर के लिए भिगो दें। छिलका हटा दें और छिलके वाले बादाम को एक बाउल में निकाल लें।

एक अलग कटोरी में, खसखस ​​(सफेद खसखस) को कप पानी में रात भर या 3-4 घंटे के लिए भिगो दें।

पेस्ट बनाएं

अगले दिन भीगे हुए खसखस ​​को छलनी में छान लें। इसका पानी निथार लें।

ब्लेंडर के एक छोटे जार में, खसखस ​​और छिलके वाले बादाम मिलाएं। चिकना पेस्ट होने तक पीस लें और पेस्ट को एक बाउल में निकाल लें।

सामग्री की कम मात्रा के कारण इसमें कुछ समय लग सकता है।

खसखस का दूध तैयार करें

एक भारी तले की कढ़ाही में घी गर्म करें। खसखस का पेस्ट डालकर धीमी आंच पर भूनें।

पेस्ट को तब तक पकाते रहें जब तक कि वह हल्के भूरे रंग का न हो जाए और पैन के किनारों को छोड़ना शुरू न कर दे। कम हीट पर इसमें 5 से 10 मिनट का समय लग सकता है। इस पूरे समय के दौरान, पेस्ट को नियमित अंतराल पर हिलाने रहना चाहिए।

इसके बाद दूध और इलायची पाउडर डालें। एक बार तेज़ आंच पर हिलाएं और उबाल लें। आंच को कम कर दें और दूध को 10 मिनट तक बिना ढके उबलने दें ताकि वह थोड़ा गाढ़ा हो जाए।

गाढ़ी क्रीम को इकट्ठा करने के लिए पैन के किनारों को खुरचें और इसे वापस दूध में मिला दें।
अब खास खास के दूध में स्वादानुसार कोकोनट शुगर और हल्दी/केसर डालें।

इसके पोषण मूल्यों में शामिल है

कैलोरी: 396kcal | कार्बोहाइड्रेट: 31g | प्रोटीन: 13g | वसा: 26 ग्राम | संतृप्त वसा: 10 ग्राम | कोलेस्ट्रॉल: 44mg | सोडियम: 107mg | पोटेशियम: 508mg | फाइबर: 4जी | चीनी: 25 ग्राम | विटामिन ए: 395IU | विटामिन सी: 1mg | कैल्शियम: 397mg | आयरन: 2mg

यह भी पढ़ें : कच्चे आम से बनी ये 3 हेल्दी रेसिपी ले आएंगी आपके मुंह में पानी, सेहत के लिए भी हैं फायदेमंद

ऐश्‍वर्या कुलश्रेष्‍ठ ऐश्‍वर्या कुलश्रेष्‍ठ

प्रकृति में गंभीर और ख्‍यालों में आज़ाद। किताबें पढ़ने और कविता लिखने की शौकीन हूं और जीवन के प्रति सकारात्‍मक दृष्टिकोण रखती हूं।