Healthy sugar substitute : मिठाई की बजाए इन 5 हेल्दी चीजों से करें शुगर क्रेविंग को संतुष्ट

बहुत अधिक मीठे की शौक़ीन हैं, तो एडेड शुगर से तैयार स्वीट्स हमेशा नहीं खाएं। इसकी बजाय अपनी डाइनिंग टेबल पर शुगर के हेल्दी ऑप्शन सजा कर रखें। जब मन करे आसानी से उपलब्ध होने वाले ऑप्शन को ट्राई करें और अपने शरीर को रखें हेल्दी एंड फाइन।
berries aur anya kai khaadya padarth healthy sugar substitute hain.
मीठा खाने से मस्तिष्क में सेरोटोनिन का स्तर बढ़ जाता है। इससे शांत और खुश महसूस किया जा सकता है। चित्र : अडोबी स्टॉक
स्मिता सिंह Published: 26 Oct 2023, 05:24 pm IST
  • 125
इनपुट फ्राॅम

कुछ लोगों को कभी-कभार स्वीट्स खाने की इच्छा होती है, तो कुछ लोग हर दिन कुछ मीठा खाना चाहते हैं। कुछ लोग तो हर भोजन के बाद कुछ न कुछ मीठा खाना चाहते हैं। हम सभी जानते हैं कि मीठा हमारे दांतों और स्वास्थ्य के लिए हानिकारक हैं। आपको भी मीठा खाने की क्रेविंग हो सकती है। एडेड शुगर से तैयार मिठाई स्वास्थ्य के लिए हानिकारक होती है। इसलिए अपने स्वीट टूथ को संतुष्ट करने के लिए हमेशा हेल्दी ऑप्शन (Healthy sugar substitute) की तलाश करें।

क्यों होती है शुगर क्रेविंग (Sugar cravings )

भोजन के बाद होने वाली शुगर क्रेविंग सेरोटोनिन के कारण हो सकती है। यह एक गुड ब्रेन केमिकल है, जो बढ़िया मूड से जुड़ा होता है। मिठाई खाने से मस्तिष्क में सेरोटोनिन का स्तर बढ़ जाता है। इससे शांत और खुश महसूस किया जा सकता है। वहीं मैग्नीशियम की कमी ब्लड शुगर लेवल को नियंत्रित करने और कोशिकाओं में ऊर्जा पहुंचाने की क्षमता को प्रभावित करती है। इसके कारण शुगर क्रेविंग बढ़ जाती है। ड्राई फ्रूट्स, सीड्स, एवोकाडो, कोको, हरी पत्तेदार सब्जियां और केला जैसे मैग्नीशियम युक्त खाद्य पदार्थ अधिक खाएं।

एडेड शुगर वाले स्वीट्स दांतों के लिए हानिकारक

एडेड शुगर या अधिक चीनी से दांतों में सड़न होने लगती है। हमारा मुंह बैक्टीरिया से भरा हुआ है। कुछ ओरल हेल्थ के लिए फायदेमंद हैं, तो कुछ नहीं। एक प्रकार के हानिकारक बैक्टीरिया खाए जाने वाले शुगर पर फ़ीड करते हैं। ये एसिड बनाते हैं, जो दांतों के इनेमल को नष्ट कर देते हैं। लार में फॉस्फेट और कैल्शियम होते हैं, जो दांतों की मरम्मत में मदद करते हैं। ज्यादा शुगर अंत में दांतों को नुकसान पहुंचा देते हैं।

बहुत अधिक चीनी पूरे स्वास्थ्य को प्रभावित करता है (Sugar affect overall health)

शोध में यह प्रमाणित हो चुका बहुत अधिक चीनी खाने से बहुत अधिक कैलोरी गेन हो सकती है। सही मात्रा में कैलोरी बर्न नहीं होने के कारण वजन बढ़ सकता है। अधिक वजन होने से हार्ट डिजीज, कुछ कैंसर और टाइप 2 डायबिटीज जैसी स्वास्थ्य समस्याओं का खतरा कई गुना बढ़ जाता है।

यहां हैं स्वीट टूथ को संतुष्ट करने के लिए 5 हेल्दी ऑप्शन (Healthy options to satisfy sweet tooth after meal)

1 खजूर (Dates)

स्वीट टूथ को संतुष्ट करने के लिए खजूर खाया (Healthy sugar substitute) जा सकता है। यदि पाचन संबंधी समस्या है, तो भोजन के बाद खजूर खाने से बचें। इसकी हाई फाइबर सामग्री स्माल चेन वाले कार्ब्स को पचाना मुश्किल बना देती है। अंत में यह सूजन का कारण बनती है। पाचन संबंधी समस्या नहीं होने पर इसे आराम से खाया जा सकता है।

dates sugar ke healthy substitute hain.
स्वीट टूथ को संतुष्ट करने के लिए खजूर और खजूर से तैयार सामग्री खाई जा सकती है। चित्र : अडोबी स्टॉक

2 गुड़ (Jaggery)

रोजाना भोजन के बाद गुड़ का एक टुकड़ा खाने से पाचन में सहायता करने वाले पाचन एंजाइमों को सक्रिय करने में मदद मिलती है। यदि भोजन के बाद कुछ मीठा खाने से खुद को रोक नहीं सकती हैं, तो शुगर क्रेविंग को कम करने के लिए गुड़ का एक छोटा टुकड़ा खा सकती हैं

3 बेरी (berries)

शुगर क्रेविंग को रोकने के लिए बेरी सबसे बढ़िया और पौष्टिक विकल्प है। इनका स्वाद मीठा होता है। इनमें हाई डाइटरी फाइबर होता है। इनमें चीनी काफी कम होती है। यदि आपकी चीनी खाने की इच्छा भूख की बजाय आदत से जुड़ी है, तो यह एक बढ़िया विकल्प बनता है

4 आंवला कैंडी (Amla Candy)

अपनी शुगर क्रेविंग को संतुष्ट करने के लिए आप डायनिंग टेबल पर आंवला कैंडी भी रख सकती हैं। एडेड शुगर कैंडीज की तुलना में कम कैलोरी वाली आंवला कैंडी सबसे बढ़िया (Healthy sugar substitute) है। लो कैलोरी वाली आंवला कैंडीज प्राकृतिक फल जैसी मिठास प्रदान करती है।

amla candy meethe ka vikalp hai
लो कैलोरी वाली आंवला कैंडीज प्राकृतिक फल जैसी मिठास प्रदान करती है। चित्र : अडॉबी स्टॉक

5 डार्क चॉकलेट (dark chocolate)

मील के बाद शुगर क्रेविंग होने पर डार्क चॉकलेट का एक टुकड़ा (Healthy sugar substitute) लिया जा सकता है। डार्क चॉकलेट में चीनी की मात्रा बेहद कम होती है। यह मीठे के शौकीन को संतुष्ट करने में मदद कर सकती है। इसमें एंटीऑक्सीडेंट और फ्लेवोनोइड्स होते हैं, जो शरीर में सूजन को कम करने में मदद कर सकते हैं।

यह भी पढ़ें :- थाइरॉयड की समस्या दूर कर मेटाबॉलिज्म को एक्टिव कर सकते हैं ये 5 सुपरफूड्स

अपनी रुचि के विषय चुनें और फ़ीड कस्टमाइज़ करें

कस्टमाइज़ करें

  • 125
लेखक के बारे में

स्वास्थ्य, सौंदर्य, रिलेशनशिप, साहित्य और अध्यात्म संबंधी मुद्दों पर शोध परक पत्रकारिता का अनुभव। महिलाओं और बच्चों से जुड़े मुद्दों पर बातचीत करना और नए नजरिए से उन पर काम करना, यही लक्ष्य है।...और पढ़ें

अगला लेख