वैलनेस
स्टोर

जानिए क्‍यों वर्तमान में जीना है खुश रहने का अल्‍टीमेट तरीका, यहां हैं इसके साधारण उपाय

Published on:18 February 2021, 16:21pm IST
अपने अतीत को ठीक करने की कोशिश करना या भविष्य की चिंता करना, तनाव को आमंत्रित करने के अल्‍टीमेट तरीके हैं। वहीं दूसरी ओर, वर्तमान में रहना खुश रहने की कुंजी है।
टीम हेल्‍थ शॉट्स
  • 83 Likes
वर्तमान में जीना है खुश रहने का एकमात्र तरीका। चित्र-शटरस्टॉक।

वर्तमान में रहते हुए, हम अतीत की लपटों या भविष्य की आशंकाओं में उलझे रहते हैं। जब हमारा मन पिछली चैट्स, आहत करने वाली यादों और आने वाली चिंताओं के भय से घबरा जाता है, तो यह हमारे जीवन को तनावपूर्ण बना देता है।

आज के वैज्ञानिक और तकनीकी युग ने ऐसी इच्छाओं के लिए रास्ता और आसान कर दिया है, जिन्हें कभी संतुष्ट नहीं किया जा सकता। यही कारण है कि हम हमेशा अतीत या भविष्य में डोलते रहते हैं। मनुष्य के रूप में हमें अपने विचारों को नियंत्रित करने की आवश्यकता है, न कि दूसरे तरीके से, जहां हमारा दिमाग हमारे विचारों के नेतृत्व में है।

पाएं अपनी तंदुरुस्‍ती की दैनिक खुराकन्‍यूजलैटर को सब्‍स्‍क्राइब करें

वर्तमान में न रहना, तनाव का एक प्रमुख स्रोत हो सकता है

यदि हम अपनी समस्याओं और तनाव के कारणों का विश्लेषण करते हैं, तो आपको यह जानकर आश्चर्य होगा कि हमारे तनाव का 90% हमारे अतीत के विश्लेषण या भविष्य को लेकर योजना बनाने के कारण है। सरल शब्दों में, इसका मतलब है कि हम वर्तमान के बारे में चिंतित नहीं हैं और हमारे तनाव का कारण या तो एक पिछली घटना है या आने वाले समय के बारे में है।

यह भी पढ़ें: ये 5 संकेत बताते हैं कि आपको है भावनात्मक उपचार की जरूरत, ये टिप्‍स आपके लिए हो सकते हैं मददगार 

यदि हम अतीत में लगातार दस्तक दे रहे हैं, तो इसका मतलब है कि आप अभी भी इसे स्वीकार नहीं कर पा रहे हैं। जब तक हम अतीत की घटनाओं को स्वीकार नहीं करेंगे, तब तक हम आगे नहीं बढ़ पाएंगे। अतीत अब चला गया है और इसके बारे में कुछ भी नहीं किया जा सकता है। इसलिए उसे ठीक करना हमें वर्तमान में कार्रवाई करने से रोक सकता है, क्योंकि हमारे पास अतीत में नकारात्मक अनुभव थे।

अगर आप तनाव में रहती हैं, तो डाइट में शिमला मिर्च जरूर शामिल करें। चित्र: शटरस्‍टॉक
खुश रहने के लिए तनाव का प्रबंधन जरूरी है। चित्र: शटरस्‍टॉक

जिस क्षण हम अपने भविष्य को लेकर चिंता करना शुरू करते हैं, हम स्पष्ट रूप से वर्तमान से बहुत दूर चले जाते हैं। जैसे ही हम अतीत के नकारात्मक अनुभवों की कल्पना करना शुरू करते हैं, तो वे हमारे भविष्य को प्रभावित करेंगे। इसलिए, हम उन मानसिकताओं को विकसित करते हैं जो उनसे बाहर निकलकर हमारे वर्तमान व्यवहार को प्रभावित करती हैं।

वर्तमान में जीने के कई लाभ हैं

वर्तमान में रहने का हमारा भावनात्मक परिप्रेक्ष्‍य (emotional quotient) और हमारे शारीरिक स्वास्थ्य पर एक महत्वपूर्ण प्रभाव पड़ता है। हम इस तथ्य से अच्छी तरह से वाकिफ हैं कि हमारे द्वारा लिए जाने वाले मानसिक तनाव की मात्रा हमारे स्वास्थ्य पर हानिकारक प्रभाव डालती है। इससे बचना जरूरी है।

अतीत में लिप्त होना या भविष्य के बारे में सोचना जीवन में बहुत कम महत्व रखता है। वर्तमान में हम जो निर्णय लेते हैं, उसके बारे में सचेत विचार एक प्रगतिशील भविष्य की ओर हमारे जीवन को निर्देशित करता है। हां, हमें अपने भविष्य के निर्णयों में हमारी मदद करने के लिए अपने पिछले अनुभवों से सबक लेने की ज़रुरत है, लेकिन हमारे वर्तमान को प्रभावित किए बिना।

वर्तमान में रहना है खुश रहना

खुश रहने के लिए उस क्षण में जीना बहुत जरूरी है। खुशी ऐसा कुछ भी नहीं है जिसके बारे में आपको सोचना है। आप वर्तमान समय में इसे महसूस करके केवल आनंद और खुशी का अनुभव कर सकती हैं। आपको प्राप्त होने वाली खुशी या अनुभव स्पर्शरेखा और धन पर निर्भर नहीं करता है, बल्कि यह आपके जीवन में आपके आभारी होने की क्षमता पर निर्भर करता है।

यह भी पढ़ें: फिजियोलॉजी एक्‍सपर्ट के बताए ये 5 कौशल रख सकते हैं आपके रिश्‍ते को लंबे समय तक सुरक्षित 

टीम हेल्‍थ शॉट्स टीम हेल्‍थ शॉट्स

ये हेल्‍थ शॉट्स के विविध लेखकों का समूह हैं, जो आपकी सेहत, सौंदर्य और तंदुरुस्ती के लिए हर बार कुछ खास लेकर आते हैं।