ये संकेत बताते हैं कि आपका बच्चा शारीरिक या भावनात्मक शोषण से गुजर रहा है, सावधान रहना है जरूरी 

बाल शोषण शारीरिक, भावनात्मक या यौन हो सकता है। कभी-कभी इसे पहचानना आसान नहीं होता है इसलिए इन संकेतों पर ध्यान दें और अपने बच्चे की सुरक्षा के लिए नीचे दिए गए सुझावों का पालन करें।

child sex abuse ek hrinit apradh hai
बाल यौन शोषण एक घृणित अपराध है। चित्र: शटरस्टॉक
टीम हेल्‍थ शॉट्स Published on: 18 August 2022, 19:49 pm IST
  • 121

बच्चे इतने नाज़ुक और मासूम होते हैं कि किसी भी खतरे, चोट, हमले और दुर्व्यवहार की चपेट में आ सकते हैं। वे कई परिस्थितियों और कारणों से  हानिकारक प्रभावों और “जोखिम की स्थिति” के प्रति संवेदनशील हो सकते हैं। चलिए जानें बच्चों की शारीरिक और भावनात्मक शोषण से सुरक्षा के बारे में सभी महत्त्वपूर्ण बातें।

बाल संरक्षण क्या है?

बाल संरक्षण से तात्पर्य बच्चों को हिंसा, दुर्व्यवहार, उपेक्षा या शोषण के शिकार होने से बचाने के लिए की गई कार्रवाई से है। यह बच्चों को वास्तविक या काल्पनिक किसी भी जोखिम या खतरे से बचाव से जुड़ा है। इसके अतिरिक्त, यह बच्चों को सामाजिक, मनोवैज्ञानिक और भावनात्मक स्तर पर होने वाली पीड़ा और अस्थिरता से सुरक्षा प्रदान करता है।

बाल शोषण क्या है?

बाल शोषण बच्चे के साथ होने वाला दुर्व्यवहार है और यह यौन, भावनात्मक या शारीरिक हर रूप में हो सकता है। इस प्रकार के दुर्व्यवहार को बाल शोषण और बाल उपेक्षा के रूप में भी जाना जाता है दुर्व्यवहार झेलने वाले बच्चे अक्सर  स्वाभिमान और स्वास्थ्य पर नकारात्मक प्रभाव झेलते हैं।

जानें क्या करें बच्चों की सुरक्षा के लिए पेरेंट्स, चित्र: शटरस्टॉक

यह ऐसे हर कार्य से जुड़ा है जो बच्चे को खतरे में डाल सकता है। वयस्क माता-पिता, भाई-बहन या कोई अन्य देखभाल करने वाला जैसे शिक्षक या खेल का कोच हो सकता है।

शारीरिक शोषण

किसी बच्चे को हाथ या पैर से मारना, लात मारना, काटना, जलाना या पटकना ये सभी शारीरिक शोषण के उदाहरण हैं। परिवार के भीतर हिंसा की घटनाएं और  अत्यधिक या गलत अनुशासन भी शारीरिक शोषण का एक कारण बन सकता है। बाल शोषण हल्की चोट, जलन, घाव, या काटने के निशान से लेकर हर तरह के गंभीर फ्रैक्चर यहां तक कि बच्चे की मौत तक गंभीर हो सकती है।

जिन घरों में घरेलू हिंसा प्रचलित है या जब बच्चों को गरीबी में पाला जाता है, वहां भी हिंसा की संभावना अधिक होती है। जब कोई बच्चा किसी अजनबी के साथ माता-पिता के रूप में बड़ा होता है या उसके साथ दो से अधिक भाई-बहन रहते हैं।

जानें इसके लक्षण

ऐसे घाव जिनका कारण न पता लगे  जैसे जलना, फ्रैक्चर, या चोट लगना
बहुत आक्रामक होना या स्वभाव के विपरीत हर बात मान लेना
बच्चे का वयस्कों या किसी खास व्यक्ति से सावधान रहने लगना
चोटें जो दिए गए विवरण के अनुरूप नहीं हैं
शरीर के उन हिस्सों में चोट लगना जो अक्सर ढके या सुरक्षित रहते हैं।
बच्चा अचानक बच्चों या जानवरों के प्रति अपमानजनक
चोट या अन्य घावों को छुपाता है

भावनात्मक शोषण

जब किसी बच्चे की भावनात्मक, मनोवैज्ञानिक या सामाजिक भलाई और मूल्य की भावना को बार-बार नुकसान पहुंचाया जाता है, तो इसे भावनात्मक शोषण माना जाता है। आलोचना करने, अस्वीकार करने, भेदभाव करने, नीचा दिखाने, उपेक्षा करने, अलग-थलग करने, भ्रष्ट करने और डराने का एक पैटर्न इस श्रेणी में आ सकता है। जब अन्य प्रकार के दुर्व्यवहार होते हैं, तो भावनात्मक शोषण आमतौर पर मौजूद ही होता है। इस प्रकार के दुरुपयोग के हमेशा तत्काल या स्पष्ट परिणाम नहीं होते हैं। भावनात्मक शोषण के दीर्घकालिक प्रभाव तब तक ध्यान देने योग्य नहीं हो सकते जब तक कि बच्चा वयस्कता तक नहीं पहुंच जाता और चुनौतीपूर्ण या परेशान करने वाले व्यवहार या लक्षण प्रदर्शित करना शुरू नहीं कर देता।

जानें क्या है लक्षण

आत्म-विश्वास या आत्म-सम्मान की कमी होना
प्यार या अटेंशन पाने के लिए परेशान होना
पहले से हासिल की गई विकासात्मक क्षमताओं में आए कमी
बच्चे का अनुचित या डेरी भावनात्मक विकास
सामाजिक अलगाव या आमतौर पर होने वाली रूचि में कमी
डिप्रेशन

बच्चों की बदलती गतिविधियों पर रखें कड़ी नज़र, चित्र: शटरस्टॉक


विशिष्ट परिस्थितियों से बचना, जैसे स्कूल या बस छोड़ना
शैक्षणिक प्रदर्शन में गिरावट या सीखने के उत्साह में कमी                                                

किस तरह होता है यह शोषण 

बच्चे, स्कूलों या पड़ोस में भी कई तरह की धमकियों का सामना कर सकते हैं। इसका उद्देश्य शारीरिक और भावनात्मक दोनों तरह की तकलीफ है। यह जानबूझकर बार-बार किया जाता है। अक्सर यह देखा गया है कि लड़कों को शारीरिक रूप से धमकाया जाता है जबकि लड़कियों को मनोवैज्ञानिक रूप से चोटिल करने या दबाव में रखे जाने का अनुभव होता है।

इस तरह के अनुभव हानिकारक हो सकते हैं और बच्चे के मन  पर स्थायी प्रभाव डाल सकते हैं। शारीरिक नुकसान के अलावा, बदमाशी भी चिंता और अवसाद जैसे मानसिक स्वास्थ्य के मुद्दों का कारण बन सकती है।

माता-पिता अपने बच्चे की सुरक्षा सुनिश्चित करने के लिए क्या कर सकते हैं?

बच्चों से बात करना उनकी जागरूकता बढ़ाने में मदद करता है और उन्हें सिखाता है कि भविष्य में कठिनाइयों को कैसे दूर किया जाए ताकि वे संभावित रूप से उनसे बच सकें।

क्या करें पेरेंट्स 

1 यदि कोई व्यक्ति कभी अनुपयुक्त व्यवहार करता है तो बच्चे को बताएं कि क्या करना है और कैसे सहायता प्राप्त करनी है

2 अपने बच्चों के साथ उचित और अनुचित व्यवहार के साथ-साथ सुरक्षित और हानिकारक स्थितियों के बारे में बातचीत करें

3 यह जानने का प्रयास करें कि उनका बच्चा हर समय कहां है खह=आस्कर जब वह बाहर हो 

4 अपने बच्चे के साथ खुल कर बातचीत करें, क्योंकि इससे यह पहचानना आसान हो जाएगा कि आपका बच्चे के व्यवहार में क्या बदलाव आए हैं 

5 सुनिश्चित करें कि उनका घर और यार्ड सुरक्षित है, और यह सुनिश्चित करने के लिए पहले  छोटे बच्चों को अकेला नहीं छोड़ना है।

6 उन लोगों के साथ संबंध बनाएं जो अपने बच्चों की देखभाल करते हैं, जैसे शिक्षक, बेबीसिटर्स और उसके दोस्तों के माता-पिता, कई तरह से इस बारे में जानकारी देने के लिहाज से फायदेमंद हो सकते हैं।

abusive relationship kya hota hai
ज़रूरी है शोषण से बचाना बचपन को ? चित्र : शटरस्टॉक

यह सुरक्षा और किसी भी परिस्थिति में क्या किया जाए के लिए नियम निर्धारित करने को आसान बनाता है, जैसे कि अगर कोई बच्चा दुर्व्यवहार करता है तो क्या करें। यह संभावित दुरुपयोग को खोजने और रोकने में सहायता कर सकता है। यह आपके बच्चे के लिए एक सहायता प्रणाली और सतर्क पड़ोस बनाने में भी सहायता करता है।

और अंत में 

बाल शोषण एक ऐसा दुर्व्यवहार है जिसके बारे में आज शायद ही किसी ने न सुना । जिन बच्चों ने  दुर्व्यवहार का अनुभव किया है, वे विभिन्न रूपों में कई तरह के इसके बुरे प्रभावों से ग्रस्त हैं।

हालांकि, इसका उपचार संभव है पर शारीरिक हमला हो, यौन हिंसा हो या उपेक्षा जीवन के ऐसे पहलूओं से निपटना और उबरना चुनौतीपूर्ण हो सकता है । यदि आपके पास यह मानने का कोई कारण है कि आपके बच्चे या किसी अन्य बच्चे के साथ दुर्व्यवहार किया गया है, तो तुरंत सहायता प्राप्त करें।

यह भी पढ़ें: कंधों में दर्द की वजह कहीं, आपकी टाइट ब्रा तो नहीं? जानिए कैसे चुनें सही साइज की ब्रा 

  • 121
लेखक के बारे में
टीम हेल्‍थ शॉट्स टीम हेल्‍थ शॉट्स

ये हेल्‍थ शॉट्स के विविध लेखकों का समूह हैं, जो आपकी सेहत, सौंदर्य और तंदुरुस्ती के लिए हर बार कुछ खास लेकर आते हैं।

स्वास्थ्य राशिफल

ज्योतिष विशेषज्ञ से जानिए क्या कहते हैं आपकी,
सेहत के सितारे

यहाँ पढ़ें
nextstory