बहुत चाह कर भी जल्दी नहीं उठ पातीं, तो ये ट्रिक्स कर सकती हैं आपकी मदद 

Published on: 12 June 2022, 09:30 am IST

रात देर तक जागती हैं और सुबह देर से उठती हैं, तो अब इस आदत को छोड़ने का समय है। वरना बहुत सारी बीमारियां आपके साथ रहने वाली हैं। 

subah uthne ke fayde
सुबह जल्दी उठने पर पॉजिटिव मेंटल एटीट्यूड पूरे दिन रहेगा। चित्र:शटरस्टॉक

बिजी लाइफस्टाइल के कारण हम रात देर से सोते हैं और सुबह देर से जागते भी हैं। इस कारण हम न केवल कई सुंदर प्राकृतिक दृश्यों को देखने से चूक जाते हैं, बल्कि शरीर को मिलने वाले लाभ से भी वंचित रह जाते हैं। सिर्फ इतना ही नहीं यह हमारी मेंटल हेल्थ को भी धीरे-धीरे कमजोर करता चला जाता है। तो अगर आप लंबे समय तक जवां और चुस्त-दुरुस्त रहना चाहती हैं, तो सुबह जल्दी उठने की आदत डाल लें। आयुर्वेद के हवाले से हम यहां बता रहे हैं सुबह जल्दी उठने (Benefits of getting early in the morning) के फायदे। 

क्या कहता है आयुर्वेद 

आयुर्वेद की प्राचीन भारतीय चिकित्सा प्रणाली के अनुसार, सुबह 4 से 6 बजे के बीच जल्दी उठने से हम निगेटिव थिंकिंग और डिप्रेशन से आसानी से निपट पाते हैं। हम दिन भर तरोताजा महसूस करते हैं। हम न केवल प्रकृति से जुड़ पाते हैं, बल्कि हमारे अंदर सत्व गुण (mental clarity and positivity) भी बढ़ जाता है। 

सुबह जल्दी उठने के फायदे के बारे में विस्तार से बता रहीं  हैं विख्यात स्पिरिचुअल मास्टर और सोल मिरेकल की फाउंडर और डॉ. मनमीत कुमार।

 मन और मस्तिष्क के लिए फायदेमंद है ये 

डॉ. मनमीत कहती हैं, “यदि आप सुबह 6 बजे के बाद जागने की आदी हैं, तो अपने जागने के समय को धीरे-धीरे समायोजित कर सकती हैं। यदि अपने ऊपर एक ट्रिक आजमाएं, तो अपने उठने के समय को ठीक कर सकती हैं। आप अपना अलार्म हर दिन या हर दूसरे दिन 15 मिनट पहले सेट कर लें। 

यह क्रम आप तब तक जारी रखें, जब तक कि आपमें आराम से सुबह 6 बजे या उससे पहले जागने की आदत न पड़ जाए। जल्दी उठने से न सिर्फ आपकी मेंटल हेल्थ बूस्ट होगी, बल्कि यह रात में जल्दी सोने की आपकी क्षमता में भी सुधार ले आएगा। इससे आपकी स्लीप क्वालिटी में भी सुधार हो सकता है। आप साउंड स्लीप ले सकती हैं।’

 जल्दी उठने के कारण न सिर्फ आपकी बॉडी और माइंड हेल्थ अच्छी होगी, बल्कि आप खुद को स्पिरिचुअलिटी की ओर भी अग्रसर कर पाएंगी। 

 

यहां जान लें जल्दी उठने के फायदे-

1 सिर्फ अपना समय 

डॉ. मनमीत के अनुसार, यह सही है कि आजकल की लाइफस्टाइल के कारण आपके पास सुबह बिल्कुल वक्त नहीं होता है। फिर भी भागदौड़ वाली दिन की शुरुआत करने से पहले सुबह जल्दी उठने पर कुछ समय अपने ऊपर दे पाएंगी। इस समय का सदुपयोग करते हुए कुछ मिनट आंखें बंद कर शांत बैठ जाएं। यह मेडिटेशन भी हो सकता है। अपने विचारों पर गौर करें।

2 शोर से पहले शांति 

दिन की भागदौड़ से पहले कुछ पल की शांति (silence) होती है। सुबह जल्दी जागने पर इस समय का फायदा उठाएं।

3 पॉजिटिव नजरिया 

सकारात्मक दृष्टिकोण (positive attitude) के साथ दिन की शुरुआत करें। बेवजह किसी पर चिढ़ने या गुस्सा करने की बजाय आप लोगों के प्रति कृतज्ञता प्रकट करने लगेंगी। आप पाएंगी कि थैंक्यू या शुक्रिया शब्द आपको भी पॉजिटिव वाइव्स से भर रहा है।

4 बेहतर टाइम मैनेजमेंट 

सुबह जल्दी उठने पर आप टाइम मैनेजमेंट सीख जाएंगी। इससे पॉजिटिव मेंटल एंटीट्यूड पूरे दिन रहेगा।

5 बेहतर प्राण वायु 

मंत्र जाप या प्रार्थना करने के लिए भोर का समय सबसे अच्छा होता है। यह प्राण वायु (life force energy) से पूर्ण होता है। साथ ही, इस समय पॉजिटिव वाइव्स सबसे ज्यादा होते हैं।

 

यहां कुछ ट्रिक्स दी गईं हैं जो सुबह जल्दी उठने में आपकी मदद करेंगी 

 

जल्दी उठने से सब कुछ अच्छा होने का भाव जागता है। इसलिए सुबह जल्दी उठने की आदत कैसे डाली जाए, यह जानना बेहद जरूरी है।

 1 अपनी अलार्म घड़ी/मोबाइल फोन को अपने बिस्तर से दूर रखें। ताकि आपको इसे बंद करने के लिए बिस्तर से उठना पड़े।

2 अलार्म बंद करने का प्रयास करते समय तुरंत लाइट ऑन करें।

3 अपने मन को इस विचार से भर दें कि मैं आज एक अच्छी वजह से उठ रही हूं।

4 अपने भरोसेमंद मित्रों या परिवार के सदस्यों को सुबह जल्दी उठने की योजना के बारे में सूचित करें और अपनी प्रगति पर नजर रखें।

5 सुबह जल्दी न उठने के लिए दिमाग में तैयार सभी बहानों को एकतरफ रख दें।मन को यह बार-बार कहें कि सुबह जल्दी उठना है।

हर सुबह अपने दिल और दिमाग को इन अच्छीे आदतों का तोहफा दीजिए । चित्र : शटरस्टॉक
सुबह जल्दी उठने के फायदे कुछ दिनों में नजर आने लगेंगे। चित्र:शटरस्टॉक

सुबह जल्दी उठने के फायदे आपको कुछ दिनों में ही नजर आने लगेंगे। हां नियमित तौर पर सुबह 6 बजे उठना जरूरी है।

यहां पढ़ें:- फिटनेस और मेंटल हेल्थ दोनों के लिए फायदेमंद है सिद्धा वॉकिंग, जानिए कैसे करना है इसका अभ्यास

स्मिता सिंह स्मिता सिंह

स्वास्थ्य, सौंदर्य, रिलेशनशिप, साहित्य और अध्यात्म संबंधी मुद्दों पर शोध परक पत्रकारिता का अनुभव। महिलाओं और बच्चों से जुड़े मुद्दों पर बातचीत करना और नए नजरिए से उन पर काम करना, यही लक्ष्य है।

स्वास्थ्य राशिफल

ज्योतिष विशेषज्ञ से जानिए क्या कहते हैं आपकी
सेहत के सितारे

यहाँ पढ़ें