ये हैं वे 5 आदतें जो आपको सफलता की सीढ़ियां चढ़ने से रोक रहीं हैं

Published on: 6 January 2022, 19:00 pm IST

अगर आपको भी ऐसा लगता है कि किसी और ने आपको आगे नहीं बढ़ने दिया या सपोर्ट नहीं किया, तो एक बार अपनी इन आदतों का भी मूल्यांकन कर लें।

successful banne ke liye in 5 habits ko chod dein
जीवन में असफलता के 5 कारण। चित्र : शटरस्टॉक

आदतें वे क्रियाएं हैं जो हम अपने दैनिक जीवन में करते हैं। वे हमारी पहचान का हिस्सा हैं। हम शायद ही उन्हें कभी नोटिस करते हैं लेकिन वे हमेशा हमारे तौर-तरीकों में मौजूद होती हैं और हमारे चरित्र के निर्माण में योगदान करती हैं। आदतें मुख्य रूप से दो प्रकार की होती हैं। ये अच्छी और बुरी आदतें हैं।

अच्छी आदतें हमें सकारात्मक चरित्र बनाने में मदद करते हैं। जबकि बुरी आदतें हमें धीरे-धीरे नष्ट कर देती हैं। कुछ बुरी आदतें हैं जो वास्तव में हमें जीवन में सफल होने से रोक सकती हैं। वे हमारी उपलब्धि की राह में हमेशा मौजूद बाधाएं हैं। इन्हें यदि छोड़ दिया जाए, तो हम खुद को बेहतर बना सकते हैं और जीवन में मनचाही सफलता प्राप्त कर सकते हैं।

यदि 2022 को आप सफल बनाना चाहते हैं तो इन 5 बुरी आदतों को आज ही छोड़ें।

1 आलस्य

यदि आप अपनी जिंदगी में सफल होना चाहते हैं, तो आलस्य त्याग दें। यह आपका सबसे बड़ा दुश्मन हो सकता है। ज़रा सोचिए, आपकी एक बहुत महवपूर्ण मीटिंग है, जिसमें आप अपने लेज़ी बिहेवियर के कारण लेट हो जाते हैं। इससे न सिर्फ आप एक अच्छा अवसर गवा देंगे, बल्कि कोई आप पर समय पर आने के लिए भरोसा नहीं करेगा। इसलिए आने वाले साल में यदि आप सफलता प्राप्त करना चाहते हैं तो जीवन में आलस्य त्याग दें।

aalsi hone achcha nhin h
बहुत ज़्यादा आलस्य अच्छा नहीं है। चित्र : शटरस्टॉक

2 आलोचना पर ध्यान न दें

आपको अपने आसपास ऐसे लोग आसानी से मिल जाएंगे, जो आपकी पीठ पीछे आलोचना करते रहते हैं। यह आपके पड़ोसी या रिश्तेदार कोई भी हो सकता है। अक्सर हम कोई काम करने से पहले अगर यह सोच लेते हैं कि लोग क्या कहेंगे – यदि हम असफल हो गए तो आप उस कार्य को मन से कर नहीं पाते।

इसलिए, दूसरों की निंदा से घबराना नहीं चाहिए। क्योंकि जब आप अच्छा करते हैं, तब भी ऐसे लोग उसमें बुराई ढूंढ लेते हैं। इसलिए आपको अपने लक्ष्य पर ध्यान केंद्रित करना चाहिए और लोगों की परवाह नहीं करनी चाहिए।

3 हर बात पर खुद को दोषी ठहराना

जब आपमें आत्मविश्वास की कमी होती है, तो आप खुद में दोष ज़्यादा ढूंढते हैं। जबकि यह सही नहीं है। हर एक सफल आदमी ने कभी न कभी असफलता देखी है। इसलिए आप हर असफलता के लिए खुद को दोषी ठहराना बंद कर दें। इसके बजाय अपनी कमियों को सुधारने पर ध्यान केंद्रित करें।

khud ko blame n karein
खुद को ब्लेम न करें। चित्र: शटरस्टॉक

4 बदलाव से न डरें

चाहे आपकी उम्र कोई भी हो, यदि आप नई तकनीक को अपनाने, नए कौशल सीखने या नए विचारों को आजमाने के लिए तैयार नहीं हैं, तो दुर्भाग्य से, आप पीछे छूट जाएंगे। आज, दुनिया आगे बढ़ रही है और पहले से कहीं ज्यादा तेजी से बदल रही है, और जो लोग बदलाव इनकार करते हैं वे सफलता प्राप्त नहीं कर सकते हैं।

इसलिए रिस्क लें, नई चीजों को आज़माएं और बदलाव से डरें नहीं। यह आपके अच्छे के लिए हो सकता है।

5 खुद को नकारात्मक होने से रोकें

यदि हर काम को करने से पहले आपके मन में नकारात्मक विचार आने लगते हैं, तो यह एक बुरी आदत है। आप ऐसा न समझें कि जिंदगी में सारे दुख आपके ऊपर ही हैं। बल्कि यह समझें कि हर दूसरा व्यक्ति इससे पीड़ित है। इसलिए कार्य को शुरू करने से पहले मन में नकारात्मक विचार न लाएं। और मुसीबतों का हंसकर सामना करें।

यह भी पढ़ें : सेहत ही नहीं, आपके मूड और भावनात्मक स्वास्थ्य के लिए भी फायदेमंद है सर्दियों की धूप

ऐश्‍वर्या कुलश्रेष्‍ठ ऐश्‍वर्या कुलश्रेष्‍ठ

प्रकृति में गंभीर और ख्‍यालों में आज़ाद। किताबें पढ़ने और कविता लिखने की शौकीन हूं और जीवन के प्रति सकारात्‍मक दृष्टिकोण रखती हूं।

स्वास्थ्य राशिफल

ज्योतिष विशेषज्ञ से जानिए क्या कहते हैं आपकी
सेहत के सितारे

यहाँ पढ़ें