वैलनेस
स्टोर

ये 10 लक्षण बताते हैं कि आप या आपका पार्टनर हैं अति संवेदनशील व्‍यक्ति

Updated on: 1 February 2021, 17:35pm IST
क्या आप एक अत्यधिक संवेदनशील व्यक्ति हैं? यदि हां, तो आप इन 10 परेशानियों से रिलेट कर पाएंगे
ऐश्‍वर्या कुलश्रेष्‍ठ
  • 82 Likes
अत्‍यधिक संवेदनशील होना बुरा नहीं है। चित्र: शटरस्‍टॉक

HSP यानी हाइली सेंसिटिव पर्सन, ऐसे लोग होते हैं जिन्‍हें अति संवेदनशील कहा जाता है। कभी -कभी इन्हें ऐसा लगता है कि जिन्दगी की कमान इनके हाथों से छूट रही है! बाकी लोगों के लिए शायद यह मामूली बात हो सकती है पर सेंसिटिव लोगों के लिए यह एक चिंताजनक विषय है। जो चीज़ें आम लोगों को परेशान करती हैं, वही चीज़ें सेंसिटिव लोगों की बीमारी का कारण बन जाती हैं।

संवेदनशील लोगो में ऐसी किसी समस्या आने पर हथेलियों में पसीना आना, पेट में जलन या ऊर्जा में कमी महसूस हो सकती है।

अगर आप भी एक हाइली सेंसिटिव पर्सन हैं, तो आपको घबराने की ज़रुरत नहीं है। ये कोई विकार नहीं है। संवेदनशीलता के लिए हममें से कई लोग “गलत” माने जाते हैं! वास्तव में यह बिल्‍कुल सामान्य है।

द हाइली सेंसिटिव पर्सन के लेखक डॉ. ऐलेन एरॉन के अनुसार, लगभग 15-20 प्रतिशत आबादी अत्यधिक संवेदनशील है। क्या आप एक अत्यधिक संवेदनशील व्यक्ति हैं? यदि हां, तो आप इन 10 परेशानियों से रिलेट कर पाएंगे:

अति संवेदनशील व्यक्तियों को तेज़ आवाज़ से असुविधा होती है ।चित्र- शटरस्टॉक।

अति संवेदनशील व्यक्तियों को तेज़ आवाज़ से असुविधा होती है ।चित्र- शटरस्टॉक।

अत्यधिक संवेदनशील व्यक्तित्‍व के लक्षण 

1. तेज़ आवाज़ से असुविधा

कन्सर्ट्स, मूवी थिएटर और यहां तक ​​कि अपने हेडफ़ोन में संगीत भी कुछ लोगों के लिए शोर बन सकता है। हालांकि, किसी को भी अपने कान के ड्रम को ब्लास्ट करना पसंद नहीं है। मगर अत्यधिक संवेदनशील लोगों के लिए, शोर अपनी इंद्रियों पर एक हमले के समान महसूस हो सकता है।

समस्या तब और बदतर हो जाती है जब आपके पास वॉल्यूम को नियंत्रित करने का कोई तरीका न हो। जब अन्य लोग इससे बिल्कुल भी परेशान नहीं होते हैं, तो आप “मुश्किल” महसूस करते हैं।

2. छोटी नींद

संवेदनशील हो या नहीं, जीवन में थकान होना आम बात है। हम सभी समय-समय पर खराब महसूस करते हैं। हालांकि, सेंसिटिव व्यक्ति को दूसरों की तुलना में अधिक नींद की आवश्यकता हो सकती है। जब वे अच्छी नींद नहीं ले पाते, तो वे आराम न कर पाने की वजह से एक अच्छा अवसर मिस कर देते है। इनके लिए थोड़ी देर आंखें बंद करना भी परेशानी का कारण बन जाता है।

3. हिंसा या खूबसूरती देखकर अप्रत्याशित प्रतिक्रिया

किसी को भी हिंसा और क्रूरता पसंद नहीं है, लेकिन HSP के लिए ये बिल्कुल घृणा समान है। एक डरावनी फिल्म देखने से वे शारीरिक रूप से बीमार महसूस कर सकते हैं। इसी तरह, वे कुछ ट्रिगरिंग विषयों (जैसे पशु क्रूरता या अन्य समान क्रूर कार्य) के बारे में शो या किताबें देखने या पढ़ने में सक्षम नहीं होते। लेकिन इसके विपरीत यह भी सच है कि ऐसे व्यक्ति अक्सर कला देखकर बहुत सकारात्मक प्रतिक्रियाएं देते हैं। यह उन्हें रुला सकता है और वे दिनों तक इसे याद करके खुश हो सकते है।

यदि आप एक HSP हैं, तो आप आश्चर्यचकित हो सकते हैं कि अन्य लोग आपकी तरह कला और सौंदर्य पर प्रतिक्रिया क्यों नहीं करते। हो सकता है कि आप अपनी प्रतिक्रियाओं के बारे में बात करना चाहें, लेकिन आप ऐसा नहीं करते। क्योंकि आप जानते हैं कि आप इसे वैसे नहीं देखते हैं जैसे और लोग। जिससे आप जल्दी ही अलग-थलग महसूस करने लगते हैं।

खूबसूरती देखकर अप्रत्याशित प्रतिक्रिया।चित्र- शटरस्टॉक।
खूबसूरती देखकर अप्रत्याशित प्रतिक्रिया।चित्र- शटरस्टॉक।

4. भावनात्मक थकावट – जो अक्सर अन्य लोगों से आती है

क्या आपका जीवनसाथी तनावग्रस्त है? अचानक आप तनाव महसूस करते हैं? क्या आपका सबसे अच्छा दोस्त दुखी है? और आप उसके दुःख से दुखी हैं, भले ही आपका दिन ठीक चल रहा हो। कई अति संवेदनशील लोग दूसरों की भावनाओं को देखकर वैसा ही महसूस करने लगते है, फिर चाहें उनका दिन कैसा भी जा रहा हो।

5. जरूरत से ज्‍यादा सोचना

अति संवेदनशील लोग उन छोटी-छोटी चीजों को भी नोटिस करते हैं, जो दूसरों को याद भी नहीं रहती। जब किसी का स्वर उनके शब्दों से मेल नहीं खाता, तो वे नोटिस करते हैं। जब कोई प्रश्न का उत्तर दे रहा होता है तो वे किसी से आंखें नहीं मिलाते। और बाद में वे खुद को बातचीत में अव्क्वार्ड फील करते हैं। खासकर यदि उन्हें संदेह है कि दूसरा व्यक्ति पूरी तरह से ईमानदार नहीं है, या इससे भी बदतर है।

यह भी पढ़े : अगर आप भी अपने पार्टनर से बहुत ज्‍यादा अटैच हैं? तो आपको याद रखनी चाहिए ये तीन बातें 

6. लोगों से कम घुलना -मिलना

कई लोगों के लिए, बार, पार्टी में जाना या लोगों के एक बड़े समूह के साथ घूमना बस एक फन एक्टिविटी हैं। लेकिन एचएसपी के लिए, लंबे समय तक एक शोर में समय बिताना, भीड़ का माहौल बर्दाश्‍त करना मुश्किल हो सकता है। लोगों के बीच ऐसे लोग अजीब सा महसूस कर सकतें हैं।

7. आप आसानी से चीजों को भुला नहीं सकते

कोई व्यक्ति जब यूं ही भद्दा मजाक करता है, तो सब लोग ऐसी बात पर हंसने लगते हैं, लेकिन सेंसिटिव लोग झुंझला उठते हैं। दूसरे लोग इसे मजाक समझ कर भूल जाते हैं। पर ये लोग इसे दिल पर लगा लेते हैं।

भूख लगने पर गुस्सा आना । चित्र: शटरस्‍टॉक
भूख लगने पर गुस्सा आना । चित्र: शटरस्‍टॉक

8. छुट्टियां

छुट्टियों को आराम माना जाता है, है ना? कई लोगों के लिए ये बड़ा ही रिलैक्सिंग टाइम होता है। पर सेंसिटिव लोगो के लिए ये, “छोटी” चीज़े जैसे कि एक अलग बिस्तर पर सोना और एक नए वातावरण में ढलना बड़ा ही मुश्किल काम होता है।

9. ऐसे लोग जल्दी HANGRY हो जाते हैं

हम में से कोई भी hangry (भूख + गुस्से में) हो सकता है, लेकिन सेंसिटिव लोगो का चिढ़चिढ़ापन भूख लगने और खाना न मिलने पर चरम पर होता है। डॉ. एरन के अनुसार, रक्त शर्करा के स्तर में गिरावट और वृद्धि के लिए HSP, गैर-एचएसपी की तुलना में अधिक संवेदनशील होते हैं।

10. जब कोई आप पर तेज़ चिल्लाता है

अत्यधिक संवेदनशील लोगों के लिए शब्द, वास्तव में मायने रखते हैं। उन्‍हें अगर ये पता चल जाये कि कोई उनसे गुस्सा है तो या उनसे किसी करीबी ने तेज़ आवाज़ में बात की- तो ये उनके लिए एक आघात के सामान होता है।

ऐसे संवेदनशील लोगों के साथ प्रेम से व्यवहार करना चाहिये और समाज के सामने उनका मजाक नही उड़ाना चहिये। क्योंकि उनको खुद नहीं पता होता कि वे कितने संवेदनशील हैं। ये लोग बीमार नहीं, बल्कि ज़रूरत से ज्यादा सेंसिटिव हैं, इसलिये इनका ख्याल रखें।

यह भी पढ़ें – शोध में साफ हुआ कि दोपहर में कुछ देर सोना आपके दिमाग के लिए है फायदेमंद

ऐश्‍वर्या कुलश्रेष्‍ठ ऐश्‍वर्या कुलश्रेष्‍ठ

प्रकृति में गंभीर और ख्‍यालों में आज़ाद। किताबें पढ़ने और कविता लिखने की शौकीन हूं और जीवन के प्रति सकारात्‍मक दृष्टिकोण रखती हूं।