वैलनेस
स्टोर

इन 4 तरह के टॉक्सिक लोगों से आज ही से बना लें दूरी, भावनात्‍मक स्‍वास्‍थ्‍य रहेगा दुरुस्‍त

Published on:16 April 2021, 18:30pm IST
दुर्भाग्य से, हम उन लोगों से घिरे हैं, जो हर समय माइंड गेम खेलते हैं। हां, वे टॉक्सिक हैं और आपको नुकसान पहुंचा सकते हैं। यही कारण है कि उन्हें जल्द से जल्द पहचानना और उनसे दूर रहना जरूरी है।
टीम हेल्‍थ शॉट्स
  • 86 Likes
अपने भावनात्‍मक स्‍वास्‍थ्‍य के लिए जरूरी है ऐसे लोगों से दूर रहना। चित्र: शटरस्‍टॉक

हमारे आसपास कई तरह के लोग हैं। कुछ अच्छे हैं, कुछ बुरे और कुछ टॉक्सिक हैं। उनमें से अधिकांश की पहचान करना आसान है, लेकिन टॉक्सिक लोगों को पहचानना मुश्किल है। इन्‍हें पहचानने में या तो बहुत देर हो चुकी होती है या आप कभी भी इसका पता नहीं लगा पाते। ऐसा इसलिए है क्योंकि वे आपकी भावनाओं के साथ खिलवाड़ करने में माहिर होते हैं। वे एक तरह का विश्वास पैदा करते हैं, जिससे आप उन पर बहुत हद तक विश्वास करने लगते हैं।

दुर्भाग्य से, यहां हम में से अधिकांश उन्हें पहचानने में विफल हो जाते हैं। इसलिए हम चाहते हैं कि आप टॉक्सिक लोगों को जानें, ताकि आप उनसे दूर रह सकें।

क्‍यों जरूरी है टॉक्सिक लोगों का पहचानना

एक टॉक्सिक व्यक्ति के आसपास रहना बहुत मुश्किल होता है। वे आपकी सारी ऊर्जा को निचोड़ लेंगे और उस पर पनपेंगे। यह सब अंततः आपके भावनात्मक स्‍वास्‍थ्‍य को नुकसान पहुंचाएगा। साथ ही, ऐसे व्यक्ति के साथ दोस्ती करने का कोई मतलब नहीं है, जो इतना आत्ममुग्ध और टॉक्सिक है कि वह आपके बारे में थोड़ा भी नहीं सोच रहा।

ऐसे लोग आपकी पूरी एनर्जी बर्बाद कर सकते हैं। चित्र: शटरस्‍टॉक

अब आप जानते हैं कि हम क्यों चाहते हैं कि आप ऐसे लोगों से सावधान रहें।

डॉ. राहुल खेमानी, एक प्रसिद्ध मनोचिकित्सक हैं। वे हमें चार सबसे सामान्य प्रकार के टॉक्सिक लोगों के बारे में बता रहे हैं, जो आपके भावनात्मक स्‍वास्‍थ्‍य के लिए खतरनाक हैं

1. जो सेल्फ ऑबसेज्ड हैं

डॉ खेमानी बताते हैं – आप उन्हें नार्सिसिस्ट कहें या सेल्फ- अब्सोर्बर, लेकिन ऐसे लोग कभी भी आपके शुभचिंतक या मित्र नहीं हो सकते। ऐसा इसलिए है क्योंकि इनके पास आपके लिए समय या ऊर्जा नहीं है।

“कुछ लोग ऐसे हैं जो दूसरों को महत्व देना नहीं जानते। वे खुद के बारे में बात करेंगे, लेकिन आपसे आपकी स्थिति के बारे में कभी नहीं पूछेंगे। वे केवल आपको तब याद करेंगे जब उन्हें आपकी आवश्यकता होगी या कुछ मुद्दों का सामना करना पड़ेगा।

2. जो हमेशा नकारात्मक रहते हैं

कुछ लोग हमेशा सभी के बारे में नकारात्मक बातें करते हैं, आपको एक समान तरीके से सोचने के लिए मजबूर करते हैं। वे खुद पर इतनी अच्छी तरह से मुखौटा लगाते हैं कि आप धीरे-धीरे उन्हें महत्व देना शुरू कर देते हैं।

टॉक्सिक दोस्त है तो उन्हें जीवन से बाहर करने में झिझके नहीं। चित्र: शटरस्‍टॉक

आखिरकार, आपको ऐसी दोस्ती से कोई सकारात्मक परिणाम नहीं मिलेगा। उनके दृष्टिकोण ऐसे हैं कि वे डर और चिंता को नियंत्रित कर सकते हैं, यहां तक ​​कि जब कोई आवश्यकता नहीं है।

3. ईर्ष्यालु

ये वे लोग हैं जो इन सब में सबसे ज्यादा खतरनाक होते हैं। क्योंकि ईर्ष्यालु लोगों के लिए, घास हमेशा दूसरी तरफ हरियाली वाली होती है। यहां तक ​​कि जब उनके साथ कुछ महान होता है, तो वे इससे संतुष्ट नहीं होते। इसका कारण यह है कि वे दुनिया के खिलाफ अपने भाग्य को मापते हैं, जबकि उन्हें अपनी संतुष्टि को भीतर से प्राप्त करना चाहिए।

ईर्ष्यालु लोगों के आस-पास बहुत अधिक समय बिताना खतरनाक है, क्योंकि वे आपको अपनी उपलब्धियों को तुच्छ बनाना सिखाते हैं।

4. मैनिपुलेटिव

जो लोग अपनी जरूरतों के लिए दूसरों के साथ छेड़छाड़ करते हैं, वे दोस्ती के बहाने आपका सारा समय और ऊर्जा निचोड़ लेते हैं। इनसे निपटना मुश्किल हो सकता है, क्योंकि वे आपके साथ दोस्तों की तरह व्यवहार करते हैं। वे जानते हैं कि आप क्या पसंद करते हैं, क्या आपको खुश करता है, और आपको क्या लगता है कि यह हास्यास्पद है।

मैनिपुलेशन आपके आत्मविश्वास को नुकसान पहुंचाता है। चित्र-शटरस्टॉक।

अंतर यह है कि वे इस जानकारी का उपयोग एक छिपे हुए एजेंडे के रूप में करते हैं। मैनिपुलेटर हमेशा आपसे कुछ चाहते हैं और यदि आप उनके साथ रिश्ते बनाना चाहते हैं, तो वह आपको सबसे दूर कर देंगे। वे आपको जीतने के लिए कुछ भी करेंगे, बस इसलिए वे आपके साथ हेराफेरी कर सकते हैं।

हमें उम्मीद है कि आप उपरोक्त में से किसी के साथ मित्र नहीं होंगे। यदि आप हैं, तो डॉ.
खेमानी के ये सुझाव आपको उनसे निपटने में मदद करेंगे।

विषाक्त लोगों से निपटने के लिए यहां कुछ उपयोगी सुझाव दिए गए हैं

1. टॉक्सिक लोगों पर सीमाएं निर्धारित करें

ऐसे लोग हर हाल में दूसरों को नियंत्रित करना चाहते हैं। सीमाएं निर्धारित करने की कोशिश आपको कहीं नहीं मिलेगी। वे इसे एक व्यक्तिगत चुनौती के रूप में देखते हैं। आप उन चीजों पर सीमा निर्धारित कर सकती हैं जिन्हें आप नियंत्रित करना चाहती हैं। टॉक्सिक लोगों पर बहुत अधिक समय या ऊर्जा बर्बाद न करें। बातचीत को संक्षिप्त और विषयों को हल्का रखें।

2. उनके व्यवहार से उन्‍हें पहचानें और दूरी बनाएं

यह स्वीकार करते हुए कि लोग टॉक्सिक हैं, अपने शब्दों और कार्यों से खुद को अलग करने की दिशा में पहला कदम होना चाहिए। ऐसे लोगों में केवल आपको परेशान करने की शक्ति होती है, यदि आप उनसे परेशान होते हैं। यहां तक ​​कि अगर आप शारीरिक रूप से खुद को दूर नहीं कर सकते, तो भी आपके पास भावनात्मक रूप से दूरी बनाने की शक्ति है।

उनके व्‍यवहार से उन्‍हें पहचानें और दूरी बनाएं। चित्र: शटरस्‍टॉक

3. अपनी भावनाओं के बारे में जागरूकता

भावनात्मक दूरी बनाए रखने के लिए जागरूकता की आवश्यकता है। कभी, आप अपने आप को उन स्थितियों में पाते हैं, जहां आपको आगे बढ़ने और सबसे अच्छा रास्ता चुनने की आवश्यकता होगी। यह ठीक है और ऐसा करने के लिए आपको डरना नहीं चाहिए।

4. समाधानों पर ध्यान दें, न कि समस्याओं पर

यदि आप अपने को और परिस्थितियों को बेहतर बनाने के लिए कार्यों पर ध्यान केंद्रित करती हैं, तो आप व्यक्तिगत तौर पर मज़बूत हो सकती हैं। यह सोचना बहुत मुश्किल है कि कोई व्यक्ति कितना जटिल है। इसके बजाय आप उन्हें संभालने के बारे में जानने के तरीके पर ध्यान दें। यह आपके नियंत्रण की भावना को बढ़ाता है। उनके साथ बातचीत करते समय आपके द्वारा अनुभव किए जाने वाले तनाव को कम करता है।

तो देवियों, किसी को भी भावनात्मक रूप से खुद पर हावी न होने दें। यह समय है कि आप अपने आसपास की नेगेटिविटी को पहचानें और इसे अपने जीवन से बाहर निकाल दें।

यह भी पढ़ें – हमने ढूंढ ली है परफेक्ट  पार्टनर मिलने की आपकी सही उम्र, जानिए इस बारे में क्‍या कहता है गणित 

टीम हेल्‍थ शॉट्स टीम हेल्‍थ शॉट्स

ये हेल्‍थ शॉट्स के विविध लेखकों का समूह हैं, जो आपकी सेहत, सौंदर्य और तंदुरुस्ती के लिए हर बार कुछ खास लेकर आते हैं।