Mirror Gazing : आपकी मेंटल हेल्थ के लिए फायदेमंद हो सकता है दर्पण में एकटक निहारना

Published on: 25 October 2021, 12:41 pm IST

मिरर गेजिंग मेडिटेशन आपको अपनी बॉडी लैंग्वेज, चेहरे के भाव और विचारों पर ध्यान केंद्रित करने में मदद करता है। ध्यान का यह रूप आपको तनाव कम करने में मदद कर सकता है।

mirror gazing meditation
आपकी मेंटल हेल्थ के लिए फायदेमंद हो सकता है दर्पण में एकटक निहारना। चित्र : शटरस्टॉक

सामान्य तौर पर, ध्यान करना वर्तमान क्षण में ध्यान केंद्रित करने में मदद करता है। यह भी कि हमारे अस्तित्व के प्रत्येक क्षण में क्या शामिल है। ध्यान करने के कई तरीके हैं, और ऐसा ही एक रूप है मिरर गेजिंग मेडिटेशन, जिसमें एकटक शीशे में देखना और अपने विचारों, शारीरिक मुद्रा, भावों और अपने प्रतिबिंब पर ध्यान केंद्रित करना शामिल है।

क्या है मिरर गेजिंग मेडिटेशन?

प्रसिद्ध योग विशेषज्ञ अभिषेक ओटवाल के अनुसार, “ध्यान मन को शांत करने और धीमा करने और सांस लेना, जागरूकता बढ़ाने का शक्तिशाली उपकरण है। चाहे आप आसन धारण कर रहे हों, या ध्यान की मुद्रा में बैठे हों, जब आप अपनी सांस पर ध्यान देते हैं, तो सब कुछ ठीक हो जाता है।”

हाल ही में, अभिनेत्री रिताशा राठौर ने अपने प्रशंसकों और सोशल मीडिया फॉलोअर्स को मिरर गेजिंग मेडिटेशन के बारे में बताने के लिए इंस्टाग्राम का सहारा लिया। उन्होंने अपने कैप्शन में लिखा था:

“जब आप अपने आप से आंखें मिलाते हैं, तो आप क्या महसूस करते हैं? जाहिर तौर पर मिरर गेजिंग मेडिटेशन को करने से मुझे पता चला है कि यह काफी शक्तिशाली है। खुद के बारे में कुछ ऐसा है, जो आपको प्रतिबिंबित करता है। हमारी आंखें हमारी आत्मा की एक खिड़की हैं। इसलिए किसी और की आंखों में देखने के बजाय बेहतर है कि मैं थोड़ा सा खुद को देखूं, है न?”

 

View this post on Instagram

 

A post shared by Rytasha Rathore (@rytash)

आपके लिए कैसे मददगार हो सकती है मिरर गेजिंग मेडिटेशन

हालांकि यह सोचना स्वाभाविक है कि दर्पण में देखनें से क्या ही हो जाएगा। मगर सही ध्यान और परिप्रेक्ष्य के साथ, यह वास्तव में तनाव को कम करने में मदद कर सकता है। मिरर गेजिंग ध्यान एक दर्पण में देखने और अपने स्वयं के प्रतिबिंब के साथ आंखों का संपर्क बनाने का एक अभ्यास है। इससे आप खुद को देखते हैं, अपने मन के अंदर झांकते हैं और शरीर की भाषा का निरीक्षण करते हैं।

इस अभ्यास को बॉडी लैंग्वेज, चेहरे के भावों पर ध्यान देने और विचारों की धारा में अंतर्दृष्टि प्राप्त करने के लिए डिज़ाइन किया गया है। शीशे में आप खुद को देखते हैं, चाहे वह आपके चेहरे के भाव हों या शरीर की भाषा।

जानिए मेंटल हेल्थ के लिए मिरर गेजिंग के फायदे

सेल्फ कोम्पेरिजन:

शीशे में देखते समय, आप अपनी खामियों और खूबियों को देख सकती हैं। शीशे में खुद को देखने से खुद के बारे में आप अवेयर होते हैं और यह खुद को पहचानने का एक अच्छा तरीका है।

अगर आपको मेडिटेशन करने में मुश्किल होती है, तो आप ये एक्टिविटी ट्राय कर सकती हैं। चित्र- शटर स्टॉक।

इमोशनल अवेयरनेस :

हम में से कई लोग अपनी भावनाओं को लगातार दबाते रहते हैं। शीशा आपको वास्तविकता का सामना करने में मदद करेगा। उन चिंताओं और मुद्दों के पुनरुत्थान को ट्रिगर करेगा, जो आपको परेशान करते हैं।

अब जानिए कैसे लगाना है दर्पण में ध्यान यानी मिरर गेजिंग का तरीका

1: एक शीशे के सामने खड़े हो जाएं और अपने प्रतिबिंब के साथ आंखों का संपर्क बनाएं।

2: अपनी श्वास, चेहरे के भाव और विचारों की धारा पर ध्यान दें।

3: अपने जोड़ों और शरीर के अंगों में सनसनी और अपने शरीर के तापमान पर ध्यान दें।

तो लेडीज, अपने मानसिक स्वास्थ्य को बढ़ावा देने और तनाव के स्तर को कम करने के लिए शीशे में ध्यान लगाने का प्रयास करें।

यह भी पढ़ें : किसी को माफ करना आपकी इमोशनल हेल्थ के लिए भी है फायदेमंद, यहां हैं क्षमा करने के 3 व्यवहारिक तरीके

टीम हेल्‍थ शॉट्स टीम हेल्‍थ शॉट्स

ये हेल्‍थ शॉट्स के विविध लेखकों का समूह हैं, जो आपकी सेहत, सौंदर्य और तंदुरुस्ती के लिए हर बार कुछ खास लेकर आते हैं।

स्वास्थ्य राशिफल

ज्योतिष विशेषज्ञ से जानिए क्या कहते हैं आपकी
सेहत के सितारे

यहाँ पढ़ें