फॉलो

क्या पूरे दिन मानसिक रूप से परेशान रहती हैं आप? इसे डील करने के हैं 5 तरीके 

Updated on: 11 June 2020, 16:15pm IST
पिछले कुछ दिनों के दौरान हम सब ने मेंटल प्रेशर का सामना किया है। हमारे मानसिक स्वास्थ्य पर लॉकडाउन और कोरोना वायरस का बहुत ज्यादा असर पड़ा है। 
टीम हेल्‍थ शॉट्स
  • 87 Likes
अब भी हमारे यहां छोटे-मोटे तनाव को बहुत गंभीरता से नहीं लिया जाता, जो अवसाद के जोखिम को बढ़ा देता है। चित्र: शटरस्‍टॉक

पिछले कुछ दिनों के दौरान हम सब ने मेंटल प्रेशर का सामना किया है। हमारे मानसिक स्वास्थ्य पर लॉकडाउन और कोरोना वायरस का बहुत ज्यादा असर पड़ा है। 

इस बात से कोई फर्क नहीं पड़ता कि हम क्या करते हैं और क्या नहीं करते। हर इंसान फिलहाल भावनाओं की उथल पुथल से गुजर रहा है। हम सबकी हालात अलग हो सकती है, हो सकता है कि कुछ लोग ज्यादा मुश्किल हालातों से गुजर रहे हो? या कुछ लोगों को उनका कम सामना करना पड़ रहा है?

लेकिन सबसे महत्वपूर्ण बात यह है कि इस वक्त हम खराब होती मानसिक स्वास्थ्य की सीमा रेखा को पार करते जा रहे हैं। सबसे ज्यादा जरूरी बात यह है कि हम इस समय इन हालातों को अच्छे से संभाल ले बस। हम सबको यह कोशिश करनी पड़ेगी कि हालात हमें किसी गहरी अंधी खाई में धकेले इसकी बजाए हम जल्दी इससे बाहर निकल आए। 

डिपार्टमेंट ऑफ मेंटल हेल्थ एंड बिहेवियरल साइंस फॉर्टिस मेमोरियल रिसर्च इंस्टीट्यूट में एक क्लीनिकल साइकोलॉजिस्ट है डॉक्टर कामना छिब्बर,  वह हमें समझाती हैं कि हमें इस मानसिक अवसाद से कैसे डील करना चाहिए। हमें स्वस्थ्य कैसे रहना चाहिए :

इसके लिए कामना ने हमें 5 तरीके बताए

  1. बात कीजिए

कमना कहती है कि हां हम आजकल कम्युनिटी केयर या सामाजिक कल्याण को अंडरएस्टीमेट करते हैं। इसकी महत्वता को कम समझते हैं। पर वो कहती है यदि आप मानसिक तौर पर बुरे दौर से गुजर रहे हैं तो आपको अपने दोस्तों या परिवार के किसी संबंधी से जरूर अपनी फीलिंग्स को शेयर करना चाहिए। ना सिर्फ यह आपके मानसिक बोझ को हल्का करेगा बल्कि यह आपके अंदर से नकारात्मक सोच को भी बाहर निकाल देगा। 

उन भावनाओं को एकत्रित मत करो।अपने परिवार के साथ बात करो। चित्र सौजन्य: शटरस्टॉक
  1. नियमित दिनचर्या पालन करें

कामना कहती है कि आपको अपनी दिनचर्या का नियमित रूप से पालन करना चाहिए। भले आजकल आपके दिन कितने ही बुरे चल रहे हो, मानसिक रूप से आप बुरे हालातों से गुजर रहे हों, लेकिन आपको अपनी नियमित दिनचर्या का पालन जरूर करना चाहिए। यह आपके अंदर नॉर्मलसी पैदा करेगा।

वे कहती हैं इस बात से कोई फर्क नहीं पड़ता कि आप कितने बुरे हालात से गुजर रहे हैं और आपकी जिंदगी में क्या हो रहा है लेकिन यदि आप अपनी दिनचर्या का नियमित रूप से पालन करते हैं। तो आप अपनी भावनाओं को कंट्रोल करने में कामयाब हो सकते हैं।  आप अपने बुरे मानसिक अवसाद को बेहतर हालातों में बदलने में कामयाब हो सकते हैं। 

  1. शौक का करें पालन

इससे अच्छा भला और क्या हो सकता है ! जो आप खुशी से करना चाहते हैं और जिसे करने से आपको खुशी मिलती है उससे अपनी एक्टिविटी का हिस्सा बनाया जाए। चाहे वह कोई भी या किसी भी प्रकार की कला हो, किताबें पढ़ना, गाने सुनना हो या सुनना या कुछ और काम उसे अपनी दिनचर्या का हिस्सा जरूर बताइए।  कामना कहती है इसमें सबसे अहम बात यह है कि यह एक्टिविटी आपको नकारात्मक सोच से बाहर निकाल सकती है। इस समय में किया गया यह काम, अपने शौक पर बिताया हुआ यह समय आपको सकारात्मकता की तरफ मोड़ सकता है।  आपके अंदर से नकारात्मक सोच को निकाल कर बाहर फेंक सकता है। 

  1. एक्सरसाइज करना ना भूलें

आपने सही सुना ! वर्कआउट आपके लिए शारीरिक रूप से ही नहीं मानसिक रूप से भी बहुत कारगर साबित होता है। बल्कि मिशिगन स्टेट यूनिवर्सिटी के एक शोध में कहा गया है कि वर्कआउट आपके बुरे मूड को अच्छा बना देता है और बेहतर बना देता है। 

अच्छी मानसिक सेहत के लिए बस थोड़ा सा व्यायाम लम्बे समय तक आपका साथ दे सकता है। चित्र सौजन्य: शटरस्टॉक
  1. भरपूर नींद लें

बहुत बार अक्सर यह कहा गया है कि मानसिक रूप से स्वास्थ्य पर नींद का बहुत असर होता है। अच्छी नींद आपके लिए बहुत जरूरी है, यह ना सिर्फ आपके शारीरिक आराम के लिए जरूरी है बल्कि आपको मानसिक तौर पर भी शांत रखती है। कामना कहती हैं, “अच्छी नींद लेने का सबसे बेहतर तरीका है कि आप अपने फोन को साइड पर रखिए और कोई किताब पढ़ लीजिए।

रात सोने के लिए होती है, और हर रात को आप खुद को सोने के लिए तैयार कीजिए। वे कहती हैं, नकारात्मक सोच रात के समय और भी ज्यादा बुरा रूप ले लेती हैं इसलिए सोना बहुत जरूरी है। खासकर अच्छी नींद सोना बहुत जरूरी है।”

हम सब इस खराब समय का अपने-अपने तरीके से मुकाबला कर रहे हैं शारीरिक रूप से भी लड़ रहे हैं और मानसिक रूप से भी लड़ रहे हैं। शायद कहीं ना कहीं हम में से, बहुत से लोगों की हिम्मत जवाब दे रही हो।  लेकिन फिर भी वह अपनी ताकत बटोर रहे होंगे। यकीन मानिए सिर्फ कुछ कदम और……. सिर्फ कुछ कदम…… और आप देखेंगे कि आप अपने सबसे बुरे वक्त से बाहर निकल चुके हैं। 

0 कमेंट्स

कृपया अपना कमेंट पोस्ट करें

Your email address will not be published. Required fields are marked *

टीम हेल्‍थ शॉट्स टीम हेल्‍थ शॉट्स

ये हेल्‍थ शॉट्स के विविध लेखकों का समूह हैं, जो आपकी सेहत, सौंदर्य और तंदुरुस्ती के लिए हर बार कुछ खास लेकर आते हैं।

संबंधि‍त सामग्री