वैलनेस
स्टोर

खदु से पॉजिटिव बातें करना आपका आत्मविश्वास बढ़ा सकता है, यहां दिए गए हैं 3 जरूरी टिप्स

Published on:21 June 2021, 17:44pm IST
मानसिक रूप से स्वस्थ रहने और भावनात्मक शक्ति का निर्माण करने के लिए पॉजिटिव सेल्फ-टॉक का अभ्यास करना महत्वपूर्ण है।
टीम हेल्‍थ शॉट्स
  • 82 Likes
पॉजिटिव सेल्फ-टॉक का अभ्यास करना महत्वपूर्ण है। चित्र : शटरस्टॉक

जीवन में हमारे लिए कई अज्ञात रहस्य और चुनौतियां हैं। क्या आपने कभी सोचा है कि अच्छे लोगों के साथ बुरा क्यों होता है? उदाहरण के लिए, कोई भी तलाक लेने के लिए शादी नहीं करता है। हम में से बहुत से लोग अकेले बच्चे को पालने की इच्छा नहीं रखते हैं, और हम सभी अपने परिवार से दूर नहीं रहना चाहते हैं, लेकिन यह हमारी वास्तविकता है।

जीवन में आने वाले ये कुछ पड़ाव हमारे आत्मविश्ववास को प्रभावित करते हैं। कई बार बाहरी कारणों से हमें जो शर्मिंदगी महसूस होती है, वह असल में हमारी अपनी आंतरिक शर्म होती है। नेगेटिव मैसेज हमारे द्वारा उत्पन्न नहीं होते हैं और न ही वे वास्तविकता पर आधारित हैं। पर क्या आप जानती हैं कि अपने आप से बातें करना और वह भी सकारात्मक बातें करना आपको इस खोए हुए आत्मविश्वास को पाने में मददगार साबित हो सकता है। आइए जानते हैं इसके लिए कुछ टिप्स ।

पॉजिटिव सेल्फ-टॉक का अभ्यास करने के लिए कुछ टिप्स:

1. मिरर थेरेपी

प्रेम दुनिया में मौजूद सभी नकारात्मकताओं का इलाज है। ये एक व्यक्तिगत रूप से आजमाई गई तकनीक है। इससे फर्क नहीं पड़ता कि मेरे शरीर का आकर केसा है या मेरी बाहरी सफलता कितनी है, जब भी मैं नकारात्मक भावनाओं से जूझती हूं, मैं आईने के सामने खड़ी होकर हमेशा यही बोलती हूँ ‘always sexy, always brilliant’।

जितना अधिक मैं आईने को देखती हुए और खुद को निहारते हुए इन अफ्फरमेशन को दोहराती हूं, मुझे उतना ही अच्छा महसूस होता है। इस अभ्यास के तीस दिनों के बाद, मुझे एक महत्वपूर्ण सुधार दिखाई देने लगता है। मैंने खुद को हर कर्व, बाल, शिकन और सेल से प्यार करने की अनुमति देना शुरू कर दिया है।

खुद को प्राथमिकता दें। चित्र: शटरस्‍टॉक

दुनिया में आखिर मेरे जैसा एक ही शरीर है, और मुझे इस खूबसूरत शरीर में रहने का मौका मिला है। यही आपको भी करना चाहिए! प्यार, प्रशंसा और करुणा के साथ हर दिन खुद को आईने में देखने के लिए प्रतिबद्ध रहें। अपने आप को, अपनी आंखों में देखें और जोर से कहें – ‘I am sexy’, ‘I am brilliant’, ‘I am perfect.’।’ अपने भीतर रहने वाले भव्य, सेक्सी व्यक्ति को पुनः प्राप्त करें।

निजी तौर पर, इससे कोई फर्क नहीं पड़ता कि मैं मेरा शरीर मोटा है। आपको खुद को वैसे ही प्यार करना चाहिए जैसी आप हैं। वही आपके लिए काम करेगा। केवल एक चीज जो मायने रखती है वह है अपनी शक्ति वापस लेना और आत्म-प्रेम के प्रतीक का अनुभव करना।

2. अपने भविष्य की स्वयं कल्पना करें

अपने भविष्य की स्वयं कल्पना करें और सोचें कि आप क्या बनना चाहती हैं। क्या आप आत्म-प्रेम, आत्म-स्वीकृति और दुनिया की पेशकश करने के लिए आपको जो कुछ भी देना है, उस पर

विश्वास करने की इच्छा रखती हैं? अगर हां.. तो अपने भविष्य के सपने को स्वयं साकार करने की दिशा में काम करें। अपने आप को जानें। आप जो बनना चाहती हैं, वह बनने के लिए हर दिन कदम उठाएं। अपने सभी अंगों के साथ प्रेमपूर्ण संबंध रखें।

उदाहरण के लिए, मैं अपनी विशेषताओं की ज़ोर से प्रशंसा करती हूं। मैं अपनी गहरी भूरी आंखों को बताती हूं कि वे कैसे चमकती हैं। मैं अपने भूरे बालों को बताता हूं कि यह कितने अच्छे हैं। मैं अपनी तुलना किसी और से नहीं करती, और मैं किसी से अपनी तुलना मुझसे करने के लिए नहीं कहती।

यह आपमें आत्‍मविश्‍वास को भी बढ़ाता है।चित्र: शटरस्‍टॉक

3. दिन में 100 बार हंसें

अपनी खुशी पाना ही आपके जीवन का उद्देश्य है। यह सफर जितना आसान लग रहा है उतना कठिन है। सोशल एनिमल होने का एक हिस्सा दुनिया की अपेक्षाओं से निपटना है। इसमें रिश्ते और भौतिक सफलता शामिल है और आप उन्हें कैसे परिभाषित करती हैं, या वे आपको कैसे परिभाषित करते हैं। अपना उद्देश्य ढूँढना अक्सर बड़ी महत्वकांक्षाओं के साथ आता है।

जब मैंने अर्थ की खोज शुरू की, तो मेरी असुरक्षाएं सामने आईं। मैंने एक डर की मानसिकता के साथ शुरुआत की, यह सोचकर कि क्या मैं कभी अच्छी हो पाऊंगी। एक बार जब मुझे एहसास हुआ कि मेरा डर कहाँ से आ रहा है, तो मैं डर को प्यार में बदलने में सक्षम थी।

हंसना सबसे अच्छा है। चित्र: शटरस्‍टॉक

चूंकि हंसी आपकी आत्मा के लिए अच्छी है, इसलिए दिन के बेतरतीब समय में ज़ोर से हंसने का अभ्यास करें। अपने आप पर हंसें। यह अजीब और अप्राकृतिक लग सकता है, आपको ऐसा लग सकता है कि आप शोर कर रहे हैं या खुद को शर्मिंदा कर रहे हैं लेकिन हंसते रहें।

जितनी बार आपकी आत्मा को इसकी आवश्यकता हो उतनी बार हंसें। अगर आपको करना है तो दिन में 100 बार हंसें। यह सकारात्मकता को आकर्षित करता है, और आपको जीवन के तनाव को मुक्त करने की अनुमति देता है। वास्तव में, आप अपनी सोच को सकारात्मकता की ओर निर्देशित करके अपनी सफलता को बढ़ा सकती हैं।

तो लेडीज, इन 3 टिप्स को ध्यान में रखें और सुनिश्चित करें कि आपकी सेल्फ-टॉक पॉजिटिव हो!

यह भी पढ़ें : अंतर्राष्ट्रीय योग दिवस 2021 : जानिए क्यों सारी दुनिया कर रही है शारीरिक और मानसिक कल्याण के लिए योग पर भरोसा

टीम हेल्‍थ शॉट्स टीम हेल्‍थ शॉट्स

ये हेल्‍थ शॉट्स के विविध लेखकों का समूह हैं, जो आपकी सेहत, सौंदर्य और तंदुरुस्ती के लिए हर बार कुछ खास लेकर आते हैं।