वैलनेस
स्टोर

Low Self Esteem : 4 संकेत बताते हैं कि आपको अपने आप पर काम करने की जरूरत है

Published on:27 April 2021, 20:20pm IST
शर्म, संकोच और निराशा जैसी स्थित‍ि आत्मविश्वास में कमी से उत्पन्न हो सकती है। जीवन में प्रगति के लिए आपको इसे ठीक करने की जरूरत है।
  • 81 Likes
लो सेल्‍फ एस्‍टीम आपके जीवन को बुरी तरह से प्रभावित कर सकती है। चित्र: शटरस्‍टॉक

सिर्फ पक्‍का इरादा और मजबूत प्रयास ही नहीं है, जो आपके व्यक्तिगत संबंधों और करियर की सफलता के लिए जरूरी है। सच बात यह है कि इसके लिए आत्‍मसम्‍मान का होना भी बहुत जरूरी है। सीधे शब्दों में कहें, तो आपको खुद पर और अपनी क्षमताओं पर भरोसा करने की आवश्यकता है। जानिए कि आप इसके लिए खुद को कैसे तैयार कर सकती हैं।

‘आत्म सम्मान’ शब्द का अर्थ अपने आप का मूल्यांकन करने से है। ये ऐसा मूल्यांकन है, जो हमारे आत्मविश्वास और विपत्ति से बाहर आने की क्षमता को निर्धारित करता है। इसका अर्थ यह भी है कि जिन लोगों में आत्मसम्मान कम होता है, वे शर्म, अस्वस्थता और निराशा जैसी भावनाओं का अनुभव करते हैं।

आपके पास सही इरादा और कौशल हो सकता है, लेकिन वास्तव में अपना सर्वश्रेष्ठ, व्यक्तिगत और पेशेवर रूप पाने के लिए, आपको अपने आत्मसम्मान को भी विकसित करने की आवश्यकता है।

यहां 4 संकेत दिए गए हैं जिससे ये पता चलेगा कि आप लो सेल्‍फ एस्‍टीम की शिकार हैं और आपको खुद पर काम करने की जरूरत है :

अगर किसी तरह का तनाव या असहजता महसूस कर रहे हैं, तो मदद मांगने में संकोच न करें। चित्र: शटरस्‍टॉक

1. आप से आलोचना बर्दाश्त नहीं होती

जब आप अपनी स्वयं की क्षमताओं पर भरोसा नहीं करती, तब आप अपने मन में ऐसा सोचते हैं कि आपसे मिलने वाला हर व्यक्ति आपसे अधिक प्रभावशाली है। अगर आप लोगों की आपके प्रति क्या सोच है, इस बात से डर कर चलते हो, तो आपको आलोचना का हर टुकड़ा हमले के समान लगेगा।

वास्तविकता यह है कि रचनात्मक निपुणता आपके कौशल में सुधार के मामले में बेहद फायदेमंद हो सकती है। इसलिए, जब आप आलोचना को सकारात्मक रूप से लेंगे तो यह आपके व्यक्तिगत विकास में बाधा नहीं बनेगा।

2. आप सामाजिक संपर्क से बचती हैं

अपने व्यक्तित्व के बारे में ज्यादा चिंतन करने के कारण, और कई बार आप आसपास के लोगों की तुलना में अपने प्रति हीन भावना महसूस करने लगते हैं। जिसके चलते आप सामाजिक संबंधों से पीछे हटने लगते हैं। दोस्तों और सहयोगियों के किसी निमंत्रण को रद्द करना समझ में आता है। पर इसे लगातार करना आपके मानसिक स्वास्थ्य पर नकारात्‍मक प्रभाव डालता है।

क्‍या आप भी दोस्‍तों से मिलने से कतराती हैं? चित्र: शटरस्‍टॉक

ये आपको अकेला महसूस करा सकता है और आपके आत्मसम्मान के मुद्दों को बढ़ा सकता है। इसलिए, इस बात से डरना महत्वपूर्ण नहीं है कि लोग आपको कैसे आंकेंगे। स्वस्थ व्यक्तिगत संबंध बनाने के लिए खुद को इस सोच से बाहर रखें।

लो सेल्‍फ एस्‍टीम से उबरने के लिए आपको खुद को कुछ समय देने की आवश्यकता हो सकती है। लेकिन अपने आप को सामाजिक मेलमिलाप से अलग न करें।

3. आप बेहद संवेदनशील हैं

जब आप आत्मसम्मान की कमी से पीड़ित होते हैं, तो यह वास्तव में आपके भावनात्मक स्वास्थ्य को प्रभावित कर सकता है और आपको बेहद संवेदनशील महसूस करवा सकता है। आपके मित्र की छोटी-छोटी बातें जैसे आपके मैसेज का तुरंत जवाब न देना, या आपके बॉस द्वारा किसी विशेष दस्तावेज़ में परिवर्तन करने के लिए कहना आपकी मनोदशा को खराब कर सकता है।

जिससे आपको लगेगा कि आप बहुत बुरे हैं और आपको कुछ नहीं आता। पर असल में ऐसा नहीं है। आत्म सम्मान में कमी वाले लोग ज्यादा सोचने (ओवर थिंकिंग) के कारण इस मानसिक समस्या से गुजरते हैं। यकीनन ये आपके डेली रूटीन और मेंटल हेल्‍थ को बहुत बुरी तरह से प्रभावित कर सकता है।

घबराएं नहीं, पहल करें। चित्र: शटरस्‍टॉक

4. असफलता के डर से चीजों को आगे बढ़ाने से बचती हैं

अपने आप को एक विशेष शैक्षणिक पाठ्यक्रम में दाखिला लेने और एक नौकरी के लिए आवेदन करना आपको परेशान करता है। आप एक और अतिरिक्त गतिविधि जिसे आप चाहते हैं, साइन अप नहीं करेंगे, जो आप वास्तव में सीखना चाहती थीं। हां, ये आत्मसम्मान में कमी होने के नकारात्मक परिणाम हैं, जो आपको लगातार असफलता के डर से चीजें करने से रोकता हैं।

आपकी क्षमताओं में पर्याप्त आत्मविश्वास न होना निर्धारित करेगा कि आपका भविष्य कैसा हो। वास्तव में, यह आपको बेहद निराश महसूस करा सकता है।

सखियों, अपने जीवन में सकारात्मक प्रभाव देखने के लिए स्वस्थ तरीके से अपने आत्मसम्मान का निर्माण करें!

यह भी पढ़ें – इन 4 तरह के टॉक्सिक लोगों से आज ही से बना लें दूरी, भावनात्‍मक स्‍वास्‍थ्‍य रहेगा दुरुस्‍त