वैलनेस
स्टोर

कुछ लोगों के मेंटल हेल्थ इश्यू सॉल्व नहीं कर पाती थेरेपी, जानिए इसके 4 जरूरी कारण

Published on:8 September 2021, 21:00pm IST
हमने मानसिक स्वास्थ्य के लिए थेरपी के चमत्कारों के बारे में सुना है। लेकिन यह सब पर काम नहीं करती है। इसके पीछे छिपे कारण जानना आपके लिए भी जरूरी है।
टीम हेल्‍थ शॉट्स
  • 90 Likes
janiye kyu kuchh logo par kam nahi kar pati mental health therapy
जानिए क्यों कुछ लोगों पर काम नहीं कर पाती मेंटल हेल्थ थेरेपी। चित्र: शटरस्टॉक

मानसिक स्वास्थ्य के बारे में अब लोग बात करने लगे हैं। और यह एक अच्छा संकेत है! लेकिन गौर करने वाली बात है – ज्यादातर लोग थेरेपी को जादू की छड़ी से कम नहीं मानते हैं। लेकिन सच्चाई यह है कि सीखने, भूलने और फिर से सीखने की प्रक्रिया में कुछ समय लगता है, और इस प्रक्रिया में धैर्य रखना चाहिए। यह सबसे बड़े कारणों में से एक है कि क्यों थेरपी हर किसी के लिए काम नहीं कर सकती है। बेशक, इसके कई अन्य कारण भी हो सकते है।

क्या आप इसके बारे में और जानने के लिए इच्छुक हैं? हमारे पास मनोवैज्ञानिक और मानसिक स्वास्थ्य सलाहकार प्रीता गांगुली हैं, जो इस बारे में विस्तार से बात कर रहीं हैं।

चिकित्सक और रोगी के बीच संतुलन न होना

जब हम किसी से मिलते हैं, चाहे वह दोस्त हो या साथी, सबसे पहली चीज जो हमें प्रभावित करती है वह है संबंध या कनेक्शन। कभी-कभी आप लगभग तुरंत ही क्लिक कर जाते हैं, क्योंकि आपके विचार और विश्वास एक-दूसरे के अनुरूप होते हैं। अन्य अवसरों के दौरान, आप कड़ी मेहनत कर सकते हैं, लेकिन कुछ ऐसा नहीं होता है। यह कुछ लोगों को अजीब लग सकता है, लेकिन एक चिकित्सक और रोगी के मामले में भी यही बात लागू होती है।

Kisi ke bhi pass jadu ki chhadi nahi hoti
आपको समझना चाहिए कि किसी के भी पास जादू की छड़ी नहीं होती। चित्र: शटरस्टॉक

गांगुली बताती हैं,”एक चिकित्सक और एक मरीज के बीच मैच होना महत्वपूर्ण है। हम आम तौर पर किसी ऐसे थेरेपिस्ट के पास जाते हैं जो किसी ने बताया हो, और यह जरूरी नहीं है कि हम तुरंत उनके साथ क्लिक करें। इसके अलावा, यह आवश्यक नहीं है कि वे हमारे ठीक होने की यात्रा में हमारा समर्थन करने के लिए सही व्यक्ति हों।

आपकी मान्यताएंऔर विश्वास एक जैसी होनी चाहिए। आप यह भी देखें कि वे आपके लक्ष्यों और जरूरतों के साथ कैसे तालमेल बिठाते हैं।अगर कोई आपके लिए काम नहीं करता है, तो बीच में भी आप चिकित्सक बदल सकते है।”

अवास्तविक उम्मीदें रखना

जैसा कि आपने पढ़ा, चिकित्सा कोई जादू की गोली नहीं है। इसलिए, जब आप लक्ष्य निर्धारित करते हैं, तो सुनिश्चित करें कि आप इसे स्पष्ट रूप से संवाद करते हैं। अपने चिकित्सक से भी चर्चा करें कि आप क्या करना चाहते है।

गांगुली कहती है,”इस चिकित्सा का समय भी महत्वपूर्ण है। उदाहरण के लिए, शायद मैं अभी किसी गहरी चीज़ पर काम करने के लिए तैयार नहीं हूँ, शायद मुझे छोटे लक्ष्यों पर काम करने की ज़रूरत है।अतः गति निश्चित रूप से जरूरी है। आप बहुत तेजी से आगे जाकर शरीर को झटका नहीं देना चाहते हैं या बहुत धीमी गति से न जाना चाहते हो जिससे आपको लगे कि कुछ भी नहीं हो रहा है।इसलिए आपके लिए जो काम कर रहा है, उसके प्रति सचेत रहना भी महत्वपूर्ण है।”

अनियमित होना

हर चीज की तरह, थेरेपी में निरंतरता और समर्पण की आवश्यकता होती है। जब आप वजन घटाने की योजना का फैसला करते हैं, तो आपको फर्क देखने के लिए दिन-प्रतिदिन उस पर काम करना पड़ता है। इसी तरह, चिकित्सा को अपनी साप्ताहिक दिनचर्या (या शायद महीने में दो बार) का हिस्सा बनाने के बारे में जागरूक होने पर यह मददगार साबित हो सकता है।

Apne upchar ke liye apko khud bhi teyar rahna hoga
अपने उपचार के लिए आपको खुद भी तैयार होना होगा। चित्र : शटरस्टॉक

गांगुली समझाती है,“अगर आप लंबे गैप्स ले रहे है, तो यह प्रक्रिया को मुश्किल करता है। जब चिकित्सा की बात आती है तो इसमें समर्पण आवश्यक है। अगर हम ऐसा नहीं कर सकते हैं, तो सिस्टम भी काम नहीं करेगा, क्योंकि प्रक्रिया जटिल हो जाती है।”

चिकित्सा के प्रति रेजिसटेन्स

गांगुली निष्कर्ष निकालती है, “यह भी हो सकता है कि आप उपचार के प्रति प्रतिरोधी हों रहे है। बेशक, यह हमारे कुछ विश्वासों, चिकित्सा के बारे में हमारे विचार और हमारी प्रगति कैसे हो रही है, इस पर निर्भर करता है।

इन सब में, अपने थेरेपिस्ट के साथ पारदर्शी होना जरूरी है। अगर कुछ सामने आता है, तो आपको उनके साथ साझा करने के लिए हिचकना नहीं चाहिए।”

यह भी पढ़ें – क्या आप अभी भी वर्क फ्रॉम हो कर रहीं है? तो यहां हैं ज़ूम थकान से निपटने का तरीका

टीम हेल्‍थ शॉट्स टीम हेल्‍थ शॉट्स

ये हेल्‍थ शॉट्स के विविध लेखकों का समूह हैं, जो आपकी सेहत, सौंदर्य और तंदुरुस्ती के लिए हर बार कुछ खास लेकर आते हैं।