हर बार अधूरा छूट जाता है टार्गेट, तो इन 5 टिप्स के साथ करें बेहतर टाइम मैनेजमेंट 

Published on: 19 July 2022, 20:17 pm IST

समय के सही प्रबंधन से आप अपने कामों को सही और सरलता से कर सकेंगी। इसके लिए आपको कड़ी मेहनत करने की नहीं, बल्कि स्मार्ट वर्क की ज़रुरत है।

time management
जानिए अपना टाइम मैनेज करने के लिए कुछ टिप्स चित्र-शटरस्टॉक।

दिन की शुरुआत में आपकी टू डू लिस्ट में अगर कामों की संख्या बहुत ज़्यादा है, तो घबराएं नहीं। समय के सही प्रबंधन से आप अपने कामों को सही और सरलता से कर सकेंगी। इसके लिए आपको कड़ी मेहनत करने के बारे में नहीं सोचना है, बल्कि ज़रुरत है स्मार्ट वर्क की। चलिए जानें कि अहमदाबाद की करियर कोच और गाइड ऋचा त्रिपाठी इस विषय में क्या कहती हैं और उनसे सीखें टाइम मैनेजमेंट के साथ समय रहते अपने सभी कामों को पूरा करने के गुर (How to achieve target )। 

काम में डेडलाइन का बड़ा महत्व है। अपने कामों को समय पर पूरा कर पाना दर्शाता है कि आपके टाइम मैनेजमेंट में कमी है। यह आपकी पर्सनल ही नहीं, प्रोफेशनल स्किल्स की कमी को भी दर्शाता है। 

यदि आप अपने समय को ठीक से मैनेज करती हैं, तो यह आपके दिमाग को आपकी सबसे महत्वपूर्ण गतिविधियों पर ध्यान केंद्रित करने के लिए तैयार करता है। आपके जीवन में अधिक संतुलन बनाता है और आपको मनचाहा परिणाम प्राप्त करने में मदद कर सकता है।

यहां जानिए समय पर काम पूरा करने के कुछ इफैक्टिव टिप्स 

1 महत्वपूर्ण कार्यों को दें वरीयता 

आपको उन कार्यों को पहले पूरा करना चाहिए, जो सबसे ज्यादा जरूरी हैं। आपको अपनी प्राथमिकता तय करने की ज़रुरत है जो आपको बताए कि कौन सा काम महत्वपूर्ण है।  ताकि बाद में काम को पूरा करने की चिंता में अतिरिक्त समय नहीं लगाना पड़े। यदि आप पहले महत्वपूर्ण कार्यों को समाप्त कर देती हैं, तो आपके पास कम ज़रूरे कार्यों के लिए पर्याप्त समय होगा। 

यदि कोई कार्य सामने आता है जिस पर आपको तत्काल ध्यान देने की आवश्यकता है, तो आप हमेशा कम जरूरी कार्यों को आगे के लिए रख सकती हैं।

2 लक्ष्य निर्धारित करें और एक टाइमटेबल का पालन करें

हम जो कुछ भी करते हैं, एक कारण से करते हैं। हमारा अंतिम उद्देश्य लक्ष्य तक पहुंचना होता है। यदि आपके पास लक्ष्य डिफाइन नहीं हैं, तो आप ट्रैक से भटक सकती हैं। आप हमेशा अपने या अपनी टीम के लिए स्मार्ट लक्ष्य निर्धारित करें, जो आपको चीजों को मैनेज करने में मदद करेगा। एक बार जब आप टार्गेट को पूरा करना शुरू कर देती हैं, तो अपने आपको निखारने का एक बेहतर मौका होगा।

अपने लक्ष्यों को प्राप्त करने के लिए, एक उद्देश्यपूर्ण कार्यक्रम पर टिके रहना भी सामान रूप से ज़रूरी है। आपको यह पता लगाना चाहिए कि किसी दिए गए कार्य को पूरा करने में कितना समय लगेगा और यह कब तक दिया जा सकता है। यदि आपके पास सब तय होगा तो यूं समझिए कि आपने आधा रास्ता पार कर लिया है। 

सीखें न कहना, चित्र: शटरस्टॉक

3 ब्रेक लेना न भूलें

काम के दौरान नियमित रूप से ब्रेक लेने वाले कर्मचारी अधिक उत्पादक होते हैं। ये छोटे ब्रेक उन्हें अपने कार्यों को बेहतर ढंग से पूरा करने में सक्षम बनाते हैं। शॉर्ट ब्रेक लेना जहां फायदेमंद होता है, वहीं आलस या डिस्ट्रैक्शन दूर करना भी जरूरी है। 

किसी भी सोशल मीडिया प्लेटफॉर्म पर एक चैट नोटिफिकेशन आसानी से एक घंटे की चिट-चैट में बदल सकता है। इसे रोकने और गुणवत्तापूर्ण काम करने के लिए काम के दौरान अपने सोशल मीडिया अकाउंट्स को पूरी तरह से देखने से बचें।

4 “नहीं” कहना सीखें

यदि आपके पास बहुत अधिक काम है, तो ज़रूरी  होने पर “नहीं” कहना सीखना चाहिए। अगर आप किसी गैर-ज़रूरी वाले कार्य को तुरंत स्वीकार करती हैं, तो आप अपनी अन्य जिम्मेदारियों पर ध्यान केंद्रित करने में सक्षम नहीं होंगी। 

अतिरिक्त काम करने के लिए सहमत होना आपको अपने साथियों का मतभेद झेलने पर भी विवश कर सकता है। ज़्यादा काम लेना आपको दिन के अंत में कम उत्पादक साबित करेगा। 

5 मल्टी टास्किंग करें मजदूरी नहीं

मल्टीटास्किंग का मतलब थकावट तक “काम  करना” नहीं है। अपने मस्तिष्क की ऊर्जा को कुशलतापूर्वक इस तरह  प्रशिक्षित करें कि आप कम समय में अधिक हासिल कर सकें। 

उदाहरण के लिए, यदि आपके पास ईमेल की बाढ़ आ गई है, तो जब आप पहले से ही किसी अन्य कार्य के बीच में हों, तो आपको जवाब देने के लिए मजबूर होना पड़ सकता है। कुछ लोग मल्टी-टास्किंग के लिए स्किल्ड होते हैं, तो कुछ नहीं। इस मामले में, आपको उन ईमेल को पढ़ने और उनका जवाब देने के लिए कुछ समय अलग रखना चाहिए जो अत्यावश्यक नहीं हैं। किसी ईमेल के लिए अपना तय काम छोड़ना बुद्धिमानी नहीं है।

काम अधिक होने की स्थिति में मदद मांगने से न चूकें। यह आपकी कार्य क्षमता को परभावित नहीं करेगा, बल्कि आपके काम को दिन के अंत में डेडलाइन से पहले पूरा करने में मदद करेगा जो आपको प्रोफेशनली बेहतर बनाएगा।

यह भी पढ़ें:आपका प्रोफेशन और सोहबत, दोनों बढ़ा सकते हैं आपके लिए डिमेंशिया का जोखिम

शालिनी पाण्डेय शालिनी पाण्डेय

स्वास्थ्य राशिफल

ज्योतिष विशेषज्ञ से जानिए क्या कहते हैं आपकी
सेहत के सितारे

यहाँ पढ़ें