मेंटल हेल्थ के प्रभावित होने पर नजर आ सकते हैं ये 5 शारीरिक लक्षण, इन्हे न करें नजरंदाज

बहुत से लोगों को मानसिक स्वास्थ्य के प्रभावित होने पर नजर आने वाले शारीरिक संकेतों की जानकारी नहीं होती। पर आप चिंता न करें आज हम आपको देंगे इस विषय से जुड़ी कुछ जरूरी जानकारी।
mental health kharab hone per nazar aane wale physical symptoms
मेंटल हेल्थ खराब होने पर नजर आने वाले फिजिकल सिम्पटम्स. चित्र : शटरस्टॉक
अंजलि कुमारी Published: 7 Feb 2024, 06:42 pm IST
  • 123

मानसिक और शारीरिक स्वास्थ्य दोनो एक दूसरे से जुड़े होते हैं। ऐसे में यदि एक प्रभावित हो जाए तो, तो दूसरे पर भी इसका असर पड़ता है। मानसिक स्वास्थ्य खराब होने पर शरीर में कई संकेत नजर आते हैं, जिन्हे हम अक्सर नजरंदाज कर देते हैं। बहुत से लोगों को मानसिक स्वास्थ्य के प्रभावित होने पर नजर आने वाले शारीरिक संकेतों की जानकारी नहीं होती। पर आप चिंता न करें आज हम आपको देंगे इस विषय से जुड़ी कुछ जरूरी जानकारी।

हेल्थ शॉट्स ने इस विषय पर सीके बिरला हॉस्पिटल गुरुग्राम और पारस हॉस्पिटल गुरुग्राम की साइकैटरिस्ट डॉक्टर सोनाली वाली से बात की। डॉक्टर ने मेंटल हेल्थ खराब होने की नजर आने वाले कुछ कॉमन फिजिकल सिम्पटम्स बताए हैं (signs of poor mental health)। तो चलिए जानते हैं इस बारे में अधिक विस्तार से।

यहां हैं मेंटल हेल्थ खराब होने पर नजर आने वाले फिजिकल सिम्पटम्स (signs of poor mental health)

1. अचानक से वजन का बढ़ना या घटना

बॉडी वेट का अचानक से बढ़ना या घटना, एक खराब मानसिक स्वास्थ्य की निशानी है। तनाव की स्थिति में शरीर में कॉर्टिसोल का स्तर बढ़ जाता है, जिसकी वजह से हंगर हार्मोन प्रभावित होता है। कुछ लोग स्ट्रेस में खाना छोड़ देते हैं, तो कुछ लोगों की डाइट असंतुलित हो जाती है। ज्यादातर लोग कंफर्ट फूड पर शिफ्ट हो जाते हैं, जिससे की शुगर और कैलरी इंटेक बढ़ जाता है। ऐसे में वजन बढ़ने के साथ साथ कई अन्य तरह की शारीरिक समस्याओं का भी सामना करना पड़ सकता है।

stress foods aur weight loss
वजन पर क्या है स्ट्रेस का प्रभाव। चित्र : एडॉबीस्टॉक

2. नींद से जुड़ी समस्या

स्लीप पैटर्न में होने वाले बदलाव मेंटल हेल्थ डिसऑर्डर के लक्षण हो सकते हैं। तनाव, डिप्रेशन, एंजायटी जैसी मानसिक स्थितियों में बॉडी में स्लीप हार्मोंस में बदलाव आते हैं, जिसकी वजह से इनसोम्निया यानी की नींद की कमी और अधिक नींद आने जैसी स्थिति का सामना करना पड़ सकता है। नींद के प्रभावित होने से कई अन्य शारीरिक समस्याएं भी आपको अपना शिकार बना सकती हैं।

यह भी पढ़ें: लिखना, पढ़ना और एक्सरसाइज मेंटल हेल्थ के लिए भी हैं जरूरी, यहां हैं 5 ब्रेन बूस्टिंग एक्टिविटीज

3. सेक्सुअल डिफिकल्टी

मेंटल हेल्थ के प्रभावित होने से सेक्सुअल हेल्थ पर भी नकारात्मक असर पड़ता है। तनाव, डिप्रेशन और एंजायटी जैसी स्थिति में महिलाओं में लिबिडो की कमी आ जाती है, वहीं पुरुषों में इरेक्टाइल डिस्फंक्शन की स्थिति देखने को मिल सकती है। इस स्थिति में सेक्सुअल एक्टिविटीज खासकर इंटरकोर्स में पार्टिसिपेट करना काफी मुश्किल होता है लोग सेक्स में पूरी तरह से रुचि खो देते हैं। तनाव के दौरान इंटरकोर्स काफी पेनफुल हो सकता है।

4. कांस्टीपेशन और डायरिया

मेंटल हेल्थ के प्रभावित होने पर कब्ज और दस्त हो सकता है। इस दौरान लोगों को बेहद लो फील होता है, साथ ही वे थके हुए रहते हैं। अधिक तनाव लेने से या तो व्यक्ति को बार बार बाथरूम के चक्कर लगाने पद सकते हैं, या व्यक्ति कब्ज का शिकार हो जाता है। ये दोनों लक्षण हर व्यक्ति में अलग अलग हो सकते हैं। इसके अलावा अन्य गैस्ट्रोइंटेस्टाइनल प्रॉब्लम्स जैसे की गैस, ब्लोटिंग और पेट में दर्द जैसी समस्या हो सकती है।

heart attack ka karan ban sakta hai
मानसिक स्वास्थ्य शारीरिक स्वास्थ्य को किस तरह से प्रभावित कर सकती. चित्र : एडॉबीस्टॉक

5. रैपिड हार्ट रेट

मेंटल हेल्थ संबंधी समस्या जैसे स्ट्रेस, एंजायटी और डिप्रेशन की स्थिति में ब्लड प्रेशर बढ़ जाता है और हार्टबीट काफी तेज हो जाती है। वहीं चेस्ट हैवी हो जाता है, चेस्ट पेन हो सकता है और सांस लेने में भी तकलीफ हो सकती है। वहीं इस स्थिति में बैचैनी महसूस होती है। बहुत से लोगों में मेंटल हेल्थ के प्रभावित होने से वॉमिटिंग और जी मचलने की समस्या देखने को मिल सकती है।

नोट: यदि आप अपने मेंटल हेल्थ से परेशान हैं, तो इसे हल्के में न लें, खासकर इस स्थिति में नजर आने वाले शारीरिक तथा मानसिक किसी भी प्रकार के लक्षण को नजरअंदाज न करें। इन्हे शुरुआत में नियंत्रित करना ज्यादा आसान हो सकता है, अन्यथा धीरे-धीरे स्थिति और ज्यादा गंभीर होती जाती है। मेडिटेशन, पॉजिटिव एक्टिविटीज, हेल्दी फूड्स के साथ ही जरूरत पड़ने पर प्रोफेशनल की सलाह लें।

यह भी पढ़ें: Clean Slate Dating : क्या आप जानते हैं पुरानी चीजें भुलाकर नया रिश्ता शुरू करने का यह तरीका?

अपनी रुचि के विषय चुनें और फ़ीड कस्टमाइज़ करें

कस्टमाइज़ करें

  • 123
लेखक के बारे में

इंद्रप्रस्थ यूनिवर्सिटी से जर्नलिज़्म ग्रेजुएट अंजलि फूड, ब्यूटी, हेल्थ और वेलनेस पर लगातार लिख रहीं हैं। ...और पढ़ें

अगला लेख