ब्रेकअप का स्ट्रेस उबरने नहीं दे रहा, तो हेयर कट करवा कर देखिए 

विशेषज्ञ मानते हैं कि जब आप अपने लंबे बाल निडर होकर कटवा लेती हैं, तो ये आपके मन में इस विचार को भर देता है कि आप किसी भी बदलाव का सामना कर सकती हैं। 

baal katne se tanav se mukti
बालों को छोटे करवाने का मतलब है कि ब्रेकअप के बाद पुरानी बातों-यादों से मुक्ति।
स्मिता सिंह Updated on: 1 September 2022, 18:22 pm IST
  • 129

हमने बहुत सारी लड़कियों को अपने दुख से उबरते हुए हेयर कट करवाते देखा है। चाहें ब्रेकअप स्ट्रेस से बाहर आना हो या प्रोफेशनल स्ट्रेस, बहुत सारी लड़कियां इस फॉर्मूले को आजमाती हैं। पर क्या ये वाकई काम करता है? क्या सचमुच बाल कटवाना आपको दुख से उबरने (hair cut benefits for mental health) में मदद करता है? आइए जानते हैं इस बारे में विस्तार से। 

हेयर कट और मेंटल हेल्थ के बारे में क्या कहते हैं विशेषज्ञ 

वर्ष 2014 में स्टेनफोर्ड यूनवर्सिटी में प्रो मार्गरेट नील और पीएचडी स्टूडेंट पीटर बेल्मी के नेतृत्व में लगातार 5 स्टडीज की गईं। इसमें पुरुष और स्त्रियां दोनों शामिल थे। इस स्टडी के आधार पर उन्होंने यह निष्कर्ष निकाला कि बहुत सारे लोग यह मानते हैं कि हेयर कट के बाद उनका लुक चेंज होगा और यह उन्हें पुरानी बातें भूलने में मदद करेगा। 

यह एहसास उनकी मेंटल हेल्थ पर बढ़िया प्रभाव डालता है। साथ ही उन्हें यह भी लगता है कि सुंदर दिखने पर समाज और वर्कप्लेस में भी उनकी प्रतिष्ठा बढ़ जाएगी।

ब्रेकअप का दुख बड़ा बदलाव लाने के लिए करता है प्रेरित

हॉलीवुड और बॉलीवुड सेलिब्रिटीज अक्सर ब्रेकअप के बाद अजीबो-गरीब हेयर कट अपना लेती हैं। मुझे याद है कि एक ख्याति प्राप्त अभिनेत्री ने ब्रेकअप के बाद अपने लंबे बालों को बेहद छोटे करवा लिए थे। 

इस बारे में साइकोलॉजिस्ट डॉ. आशा गुप्ता बताती हैं, ‘जब एक रोमांटिक रिश्ता खत्म हो जाता है, तो लोगों के लिए अपने बालों में बदलाव करना आम बात है। ब्रेकअप के बाद का दुख किसी को भी लुक में बड़ा बदलाव लाने के लिए प्रेरित कर सकता है। वे हेयर कट के माध्यम से यह जता देना चाहती हैं कि जिस तरह सुंदर बालों की उन्हें कोई परवाह नहीं है, उसी तरह पुराने रिश्ते की बातों-यादों को भी वे याद नहीं रखना चाहती हैं।’

बढ़ जाता है ऑक्सीटोसिन

डॉ. आशा कहती हैं, “यदि हेयर कट आपको खुशी देता है, तो निश्चित तौर पर शरीर में ऑक्सीटोसिन हार्मोन की मात्रा बढ़ जाती है। हेयर कट सेल्फ केयर का एक साधन भी साबित हो सकता है। अक्सर निराशा या अवसाद में डूबे लोग इस स्थिति से बाहर आने के लिए हेयर कट का सहारा लेते हैं।’

hair trim ke fayde
हेयर कट सेल्फ केयर का एक साधन भी साबित हो सकता है। चित्र: शटरस्टॉक

मेंटल हेल्थ को मिलता है बढ़ावा

बालों का इमोशनल वेल बीइंग से गहरा संबंध है। कई स्टडी बताती हैं कि जब कोई व्यक्ति दुख से जूझ रहा होता है, तो हेयर कट उसे सेंस ऑफ कंट्रोल और इमोशनल रिलीज में मदद करता है। हेयर मसाज, बॉडी मसाज जिस तरह से हमें रिलैक्स करते हैं, ठीक उसी तरह हेयर कट भी हमें तनाव मुक्त करता है।

ajeeb hair cut
हेयर कट सेंस ऑफ कंट्रोल और इमोशनल रिलीज में मदद करता है। चित्र: शटरस्टॉक

महिलाएं हेयर कट के माध्यम से यह संदेश देना चाहती हैं कि अब उनके जीवन का नया अध्याय शुरू हो गया है। यह खुद को अभिव्यक्त करने का एक तरीका भी हो सकता है।

यह भी पढ़ें:-स्किन का रंग दो शेड तक गहरा कर सकती है सन एलर्जी, जानिए क्या है ये और इसके नुकसान 

  • 129
लेखक के बारे में
स्मिता सिंह स्मिता सिंह

स्वास्थ्य, सौंदर्य, रिलेशनशिप, साहित्य और अध्यात्म संबंधी मुद्दों पर शोध परक पत्रकारिता का अनुभव। महिलाओं और बच्चों से जुड़े मुद्दों पर बातचीत करना और नए नजरिए से उन पर काम करना, यही लक्ष्य है।

स्वास्थ्य राशिफल

स्वस्थ जीवनशैली के लिए ज्योतिष विशेषज्ञों से जानिए अपना स्वास्थ्य राशिफल

सब्स्क्राइब
nextstory