ज्यादा सोना भी हो सकता है आपकी सेहत के लिए खतरनाक, जानिए इसके स्वास्थ्य जोखिम

अगर आप लंबे वक्त तक सो रही हैं तो इससे दिनभर आप खुद को थका हुआ महसूस करती है। जानते हैं ओवरस्लीप के शरीर पर होने वाले प्रभाव।
jyada sona ho sakta hai ap ke liye hanikarak
ज़्यादा सोना हो सकता है आपकी सेहत के लिए हानिकारक। चित्र: शटरस्टॉक
ज्योति सोही Published: 22 Aug 2023, 05:46 pm IST
  • 141

बाॅडी को हेल्दी रखने के लिए हम कई तरह के प्रयास करते हैं। अन्य चीजों के समान हमें अपनी नींद को लेकर भी सतर्क रहने की आवश्यकता है। अगर आप दिनभर में 10 से 12 घंटे सो रही हैं, तो इसका दुष्प्रभाव आपके शरीर पर दिखने लगता है। अपने आप को तंदरूस्त बनाए रखने के लिए 7 से 8 घंटे की नींद काफी हैं। जानते हैं ओवरस्लीपिंग (Over sleeping) के शरीर पर होने वाले प्रभाव।

इस बारे में आकाश हेल्थकेयर के रेस्पिरेटरी एंड स्लीप मेडिसिन के सीनियर कंसल्टेंट डॉ. अक्षय बुधराजा का कहना है कि देर तक सोना किसी बीमारी का कारण भी बन सकता हे। उनके मुताबिक जब कोई व्यक्ति नौ घंटे से ज्यादा सोता है और दिनभर थकान (fatigue) महसूस करता है। ऐसी कंडीशन को हाइपरसोमनिया (insomnia) कहा जाता है। खुद को मेंटली और फिजिकली हेल्दी रखने के लिए 7 से 8 घंटे की नींद की आवश्यकता होती है।

नेशनल स्लीप फाउनडेशन के हिसाब से जानतें है कि आपके लिए कितनी नींद है आवश्यक

न्यूबार्न बेबी 14 से 17 घंटे
नवजात 12 से 15
स्कूल एज बच्चे 9 से 11 घंटे
टीनएजर्स 8 से 10 घंटे
एडल्ट 7 से 9 घंटे
सीनियर 7 से 8 घंटे

Jyada neend ho skti hai haanikaarak
जानतें है कि आपके लिए कितनी नींद है आवश्यक। चित्र : एडॉबीस्टॉक

देर तक सोने के लिए ये कारण हो सकते हैं जिम्मेदार

देर तक सोने के कारण
रात को देर तक जागना
अल्कोहल इनटेक (alcohol intake)  का बढ़ाना
दवा लेकर सोने से भी खूब नींद आती है।
सोने से पहले चाय या काफी का सेवन करना
हर पल तनाव में रहना

जानते है ओवरस्लीपिंग का हमारे स्वस्थ्य पर होता है कैसा प्रभाव

1. वज़न का बढ़ना

अगर आप लंबे वक्त तक सो रही हैं, तो ये भी आपके मोटापे का का एक कारण साबित हो सकता है। देर तक सोना आपकी पाचन क्रिया को मंद कर सकता है। इसके अलावा आप दिनभर लेज़ीनेस का भी अनुभव करने लगती है। दिनभर में 8 घंटे की नींद लेना आपके लिए उचित है। ओवरस्लीपिंग (over sleeping) से आपका वज़न धीरे धीरे बढ़ने लगता है।

2. पीठ का दर्द

बहुत से लोग अक्सर पीठ दर्द से गुस्त रहते हैं। इसका कारण लंबे वक्त तक बैठना और लेटना दोनों ही हो सकते हैं। खुद को हेल्दी बनाए रखसने के लिए अगर आप समय से सोती और समय से उठती हैं, तो इससे आपका स्वास्थ्य उचित बना रहता है।दरअसल, देर तक लेटने से आपके शरीर की मांसपेशियों में खिंचाव आने लगता है, जो धीरे धीरे दर्द में तब्दील होने लगता है।

back pain
लंबे वक्त तक बैठना और लेटना दोनों से ही कमर दर्द की समस्या हो जाती है। चित्र : शटरस्टॉक

3. इम्यून सिस्टम को करे प्रभावित

स्लीप फाउनडेशन के अनुसार वे लोग जो 9 घंटों से ज्यादा सोते है, वे किसी न किसी समस्या के शिकार होते हैं। इसके चलते आप कई क्रानिक प्रोबल्म का शिकार हो सकते हैं। साथ ही इम्यून सिस्टम भी वीक होने लगता है। रिसर्च की मानें, तो आपकी नींद आपकी दिनभर की गतिविधियों पर निर्भर करती है। अगर आप दिनभर बैठकर काम करती हैं, तो आपको 7 से 8 ध्ज्ञंटे की नींद ज़रूरी है। इसके अलावा अगर आप एथलीट हैं, तो आपकी नींद के घंटे बए़ सकते हैं।

4. डिप्रेशन

एनसीबीआई की एक रिसर्च के मुताबिक वे लोग जो ज्यादा सोते हैं, वे भी डिप्रेशन का शिकार हो जाते हैं।डिप्रेशन से ग्रस्त 15 फीसदी लोग अधिक सोते हैं। ऐसे में तनाव धीरे धीरे बढ़ने लगता है। इसके लिए ज्यादा सोना नियंत्रित करना चाहिए।

इस समस्या को सुलझाने के लिए इन टिप्स को करें फाॅलो

हेल्दी स्लीपिंग हेबिटस को मेंटेन करना बेहीद ज़रूरी है।

स्वस्थ भोजन को अपनी दिनचर्या का हिस्सा बनाएं। उचित आहार लें औश्र मील स्किन करने से भी बचें।

अपनी रुचि के विषय चुनें और फ़ीड कस्टमाइज़ करें

कस्टमाइज़ करें

कुछ देर एक्सरसाइज़ के लिए निकालें। इससे आपका शरीरबैलेंयड होने लगता है।

अपने आप को तनावग्रस्त होने से बचाएं। ज्यादा तनाव भी ओवरस्लीप का कारण बन जाता है।

ये भी पढ़ें-

  • 141
लेखक के बारे में

लंबे समय तक प्रिंट और टीवी के लिए काम कर चुकी ज्योति सोही अब डिजिटल कंटेंट राइटिंग में सक्रिय हैं। ब्यूटी, फूड्स, वेलनेस और रिलेशनशिप उनके पसंदीदा ज़ोनर हैं। ...और पढ़ें

अगला लेख