बढ़ते गुस्से और फोकस में कमी के लिए जिम्मेदार हो सकता है ज्यादा शराब पीना, जानिए इससे कैसे छुटकारा पाना है

अलकोहल का ज्यादा सेवन करना सिर्फ लिवर ही नहीं, बल्कि आपकी ब्रेन हेल्थ को भी प्रभावित करता है। इसलिए जरूरी है कि समय रहे अल्कोहल डेटोक्सिफिकेशन शुरू करें।
Sharaab ke nuksaan
कैफीनयुक्त और शराब का सेवन पीरियड्स के दर्द को और भी बढ़ा सकता है। चित्र- अडोबी स्टॉक चित्र : एडॉबीस्टॉक
ज्योति सोही Published: 15 Mar 2023, 20:00 pm IST
  • 141

कोई भी काम जो एक सीमा से ज्यादा किया जाए, उसके नकारात्मक प्रभाव आज नहीं तो कल नज़र आने लगते है। फिर चाहे वो कुछ खाना हो या पीना। बहुत से लोग ऐसे हैं, जो शराब का सेवन करते है। एक लिमिट में रहकर और कभी कभार पार्टीज़ में पी जाने वाली शराब आपके लिए उतनी नुकसान दायक नहीं होगी, जितनी रोज़ाना पीना हो सकता है। इससे हृदस रोग, पाचन संबधी समस्याएं, इम्यून सिस्टम (Immune system) का वीक होना और हड्डियों में कमज़ोरी समेत कई परेशानियों का सामना करना पड़ सकता है। हांलाकि शराब को छोड़ना आसान काम नहीं है। मगर कुछ आसान तरीकों से आप बॉडी को डिटॉक्सिफाई कर सकते हैं (steps for alcohol detoxification) ।

शराब का सेवन करने वालों में पाए जाते हैं, ये लक्षण

आसानी से फैसला नहीं ले पाते हैं।

खाना खाने का मन न करना

मेंटली थकान महसूस करना

बात बात पर झल्ला जाना और क्रोधित होना

परिवार वालों से दूरी बना लेना

sharab ka asra fertility par dikhta hai
शराब का असर फर्टिलिटी पर नज़र आता है। अत्यधिक सेवन महिलाओं में प्रेगनेंट होने की क्षमता को प्रभावित करने का काम करती है। चित्र शटर स्टॉक

रिसर्च क्या कहता है

कैमब्रिज़ आर्गनाइजे़शन के एक अध्ययन में पाया गया है कि शराब के सेवन को छुड़ाने में 6 से लेकर 24 घंटो तक का वक्त क्रिटिकल होता है। इसमें पेशेंट के दोबारा शराब का सेवन करने का खतरा रहता है। इसके अलावा 36 से लेकर 72 घंटे तक का समय ऐसा होता है। जब मरीज को डिलीरम यानि प्रलाप और सीज़र अटैक का खतरा बना रहता है।

इन आसान तरीकों से आप अपनी बॉडी को डिटॉक्सिफाई कर सकते हैं।

1.ज्यादा पानी पीएं

शराब से मुक्ति पाने के लिए ज्यादा से ज्यादा पानी पीएं। दरअसल, शराब की तासीर गर्म होती है। इससे शरीर में पानी कमी होने लगती है। खुद को हाइड्रेटेड रखने के लिए वॉट इनटेक बढ़ाना ज़रूरी है। साथ ही पानी से शरीर में मौजूद टॉक्सिन्स अपने आप बाहर आ जाते हैं।

2.योग मुद्राओं का लें सहारा

अत्यधिक शराब का सेवन व्यक्ति को मानसिक तौर पर कमज़ोर कर देती है। ऐसे में याददाश्त कमज़ोर होने लगती है, फोक्स करने में दिक्कत आती है और कांफिडेंस की कमी महसूस होने लगती है। ऐसी कंडीशन से निपटने के लिए ध्यान लगाने से खाया विश्वास वापिस लौट आता है। इससे शराब को छोड़ने में सहायता मिलती है। रोज़ाना 45 मिनट योग करने से ऐल्कॉहॉलिजम से मुक्ति मिल सकती है।

3.हेल्दी डाइट लें

शराब की लत को दूर करने के लिए हेल्दी डाइट का सहारा लें। इसके लिए फ्रूट सैलेड लें। ये बहुत सोरे विटामिन्स और मिनरल्स से भरपूर होता है। इसके अलावा थोड़े थोड़े अंतराल पर स्मॉल मील्स खाएं। रोसटिड सीड्स और मखानों को स्नैक्स के तौर पर ले सकते हैं। डाइट को हेल्दी बनाने के लिए मौसमी फल और सब्जियां के अलावा लीन प्रोटीन और नट्स का सेवन करें।

अपनी रुचि के विषय चुनें और फ़ीड कस्टमाइज़ करें

कस्टमाइज़ करें
brain game
माइंड बूस्टिंग गेम है चेस. चित्र अडोबी

4.खुद को अन्य कामों में व्यस्त कर लें

अल्कोहल क्रेविग्ंस से बचने के लिए खुद को अन्य कामों में व्यस्त कर लें। चाहे कुकिंग हो, स्पोर्टस हों या गार्डनिंग, अपने आप को किसी भी एक्टिविटी में पूरी तरह से इन्वाल्व कर लें। इससे आपका ध्यान उस ओर नहीं जाएगा। इससे अल्कोहल डिटाक्सिफिकेशन में आसानी होगी।

5. शराब पीने वाले लोगों से दूर रहें

अपना सोशल सर्कल बदल लें। इससे आपके अंदर उसे दोबारा पीने का इच्छा जागृत नहीं होगी। अगर आप अल्कोहल से दूर होना चाहते हैं, तो स्मोकिंग को भी छोड़ दें। अन्यथा आप धीरे धीरे शराब पीना आरंभ कर सकते है। दरअसल, शराब की लत व्यक्ति को मानसिक तौर पर कमज़ोर बनाती है। वो लोग जो रोज़ाना इसका सेवन कर रहे है, उनकी संगति को त्यागना ज़रूरी है।

6.भरपूर नींद लें

रात में समय से सोएं और आठ घंटे की नींद को पूरा करें। नींद पूरी होने से हम खुद को बेहतर महसूस करते है। इससे शरीर में मौजूद टाक्सिन्स आसानी से बाहर आ जाते है।

मेडिकल एक्सपर्ट की लें सलाह

बहुत बार ऐसा पाया जाता है कि अगर आप लंबे वक्त से शराब पी रहे थे और एकदम उसे छोड़ देते हैं, तो इससे शारीरिक कमज़ोरी महसूस होने लगती है। साथ ही दोबारा सेवन शुरू करने के चासिज़ बढ़ जाते है। ऐसे में किसी मेडिकल एक्सपर्ट की सलाह लें। साथ ही उनके मार्गदर्शन में कदम आगे बढ़ाएं।

ये भी पढ़ें- पेट और स्किन दोनों के लिए फायदेमंद है पपीता, इस रेसिपी से बनाएं पपीते का हलवा

  • 141
लेखक के बारे में

लंबे समय तक प्रिंट और टीवी के लिए काम कर चुकी ज्योति सोही अब डिजिटल कंटेंट राइटिंग में सक्रिय हैं। ब्यूटी, फूड्स, वेलनेस और रिलेशनशिप उनके पसंदीदा ज़ोनर हैं। ...और पढ़ें

अगला लेख