वैलनेस
स्टोर

आप भी घोस्टिंग की शिकार हैं? तो ये 10 तरीके आपको इस परेशानी से निकलने में मदद कर सकते हैं 

Published on:14 March 2021, 15:55pm IST
घोस्टिंग तब होती है जब आपसे कोई अचानक से बात करना बंद कर देता है। ये आपके मन मस्तिष्क पर बुरा प्रभाव डाल सकता है, तो आइये जानते हैं कि आप इससे कैसे निपट सकती हैं।
टीम हेल्‍थ शॉट्स
  • 79 Likes
जानिए अगर आप घोष्टिंग से पीड़ित हैं तो अपनी देखभाल कैसे करें। चित्र-शटरस्टॉक।

डेटिंग करते समय लोग अक्सर घोस्टिंग करते हैं। चाहें वो आपके पार्टनर हो, दोस्त या फिर कोई करीबी, बिना किसी कारण के नजरअंदाज किया जाना भावनात्मक रूप से दुखदायी हो सकता है। यह मूल रूप से एक ऐसी स्थिति है जहां कोई व्यक्ति बिना किसी चेतावनी या संकेत के आपके जीवन से बाहर निकल जाता है।  

किस के साथ भी ऐसा होना बेहद अपमानजनक और दिल दुखाने वाला होता है। पर आप इससे बचने के लिए कुछ कर नहीं सकतीं। घोस्टिंग आपकी मेंटल हेल्थ पर बुरा प्रभाव डालती है लेकिन, आप इससे निपटने के लिए अच्छे तरीके से काम कर सकती हैं।

आइये जानते हैं घोस्टिंग से निपटने के लिए और खुद को हील करने के लिए आप क्या कर सकती हैं:

1. वास्तविकता को स्वीकार करें और खुद को संभालने का मौका दें 

वास्तविकता को स्वीकार करना, अपनी भावनाओं को स्वीकार करना घोस्टिंग के उबरने में मददगार साबित हो सकता है। अपने दुःख का अनुभव करें क्योंकि आपके पास दुखी होने का पूरा अधिकार है। यह स्वीकार करना महत्वपूर्ण है कि यह दुःख की बात है क्योंकि तभी आप इस पर काबू पा सकती हैं।

2. उस व्यक्ति से जुड़ी हर चीज से छुटकारा पाएं

आपको अपनी इमोशनल हेल्थ के लिए खुद को उस व्यक्ति की यादों से अलग करना चाहिए। ऐसा करना बहुत कठिन हो सकता है, लेकिन आपको सबसे पहले एक्सचेंज किए गए उपहारों को हटा देना चाहिए, उनसे हर संपर्क तोड़ देना चाहिए और उन्हें सोशल मीडिया पर अनफॉलो करना चाहिए। इससे आपको खुद को हील करने में मदद मिलेगी।

यह भी पढें: ज्‍यादा खाना या बिल्कुल नहीं खाना, हो सकते हैं ईटिंग डिसऑर्डर के लक्षण, जानिए क्या कहतें है एक्सपर्ट

3. जल्दबाजी में प्रतिक्रिया न दें 

हम एक आधुनिक दुनिया में रह रहे हैं और संचार बहुत तेजी से हो रहा है। लेकिन, आपको किसी भी भावनात्मक संदेश को भेजने से बचना चाहिए, जिसे सामने वाला स्वीकार नहीं कर सकता है। अपने सोशल मीडिया प्रोफाइल पर इमोशनल पोस्ट अपडेट करने से बचें। अपनी भावनाओं के बारे में जल्दबाजी में प्रतिक्रिया न दें।

अकेलापन आपके मानसिक स्‍वास्‍थ्‍य को नुकसान पहुंचाता है। चित्र: शटरस्‍टॉक
घोष्टिंग आपके मानसिक स्‍वास्‍थ्‍य को नुकसान पहुंचाता है। चित्र: शटरस्‍टॉक

4. स्वयं को दोष न दें

यदि आपने तय किया है कि आप आगे बढ़ना चाहती हैं, तो अपनी व्यक्तिगत वृद्धि पर ध्यान दें। कभी भी किसी भी चीज के लिए खुद को दोष न दें। आप अपने प्रति सहानुभूति रखने की कोशिश करें।

5. रिजेक्शन से निपटें

एक बार जब आप निराश और दुखी महसूस कर रही हों, तो अपने आप से पूछें कि क्या आप वास्तव में दिल टूटने का एहसास कर रही हैं, क्योंकि सिर्फ आपको रिजेक्ट कर दिया गया है। अपनी भावनाओं को समझें और उनसे निपटें। रिजेक्शन से निपटना कठिन हो सकता है, लेकिन फिर से, याद रखें कि खुद को दोष न दें और केवल आगे बढ़ने की दिशा में काम करें।

6. दोस्तों और परिवार के साथ घूमने जाएं

जब आप किसी समस्या में होते हैं, तो आपका परिवार और दोस्त आपके रक्षक होते हैं! किसी ऐसे व्यक्ति के साथ बात करें जो आपको समझ सकता है, आपको सलाह दे सकता है और आपका साथ दे सकता है। घोस्टिंग आपको बुरी मानसिक स्थिति में छोड़ सकती हैं। इसलिए, तनाव कम करने और सकारात्मक भावनाओं को बढ़ाने के लिए प्रिय लोगों के साथ घूमना शुरू करें।

7. अपने स्वास्थ्य पर ध्यान दें

सुनिश्चित करें कि आपका भावनात्मक असंतुलन आपकी नींद में खलल नहीं डाल रहा है। इसके अलावा, व्यायाम करना शुरू करें क्योंकि शारीरिक गतिविधि से न केवल आपके शारीरिक स्वास्थ्य को बढ़ावा मिलता है। बल्कि यह आपकी मनोदशा को भी बढ़ाता है। सुनिश्चित करें कि आप स्वस्थ आहार ले रही हैं। अपना ख्याल रखना आपको भावनात्मक रूप से ठीक करने में मदद करेगा।

ये उपाय घोष्टिंग से निपटने के लिए कारगर हैं। चित्र-शटरस्टॉक।

8. प्यार पर विश्वास करना बंद न करें

जीवन में कभी भी घोस्टिंग का सामना करना आपका प्यार से भरोसा तोड़ सकता है, लेकिन किसी ऐसे व्यक्ति को मौका देने से बचें जो आपके अतीत के किसी बुरे अनुभव के कारण आकर्षित हो। डेट पर जाएं, नए लोगों से मिलें और खुद को अतीत से बाहर निकालने से न डरें।

9. ग्रेटफुल रहें

क्रोध, उदासी और घृणा की भावनाओं को आहत करने के बजाय, ग्रेटफुल रहें कि आप एक बुरी स्थिति से बाहर निकल आई हैं। खुद को अच्छा सोचने से न रोकें, भले ही आपको दिल टूट रहा हो।

10. यदि आवश्यक हो तो प्रोफेशनल सलाह के लिए जाएं 

घोस्टिंग महसूस करना काफी कठिन होता है। इसलिए, यदि आप महसूस कर रहे हैं कि आप बस उन्हें दूर नहीं कर सकते, तो प्रोफेशनल सलाह के लिए जाएं।

अंत में

घोस्टिंग होती है, लेकिन यह दुनिया का अंत नहीं है। अपनी भावनाओं को, अतीत को अपनी जिंदगी कंट्रोल न करने दें। अपने विकास और उपचार पर ध्यान केंद्रित करें।

यह भी पढें: सोते समय आपके शरीर के साथ होती हैं ये 5 चीजें, जानिए इसके क्या हैं कारण

टीम हेल्‍थ शॉट्स टीम हेल्‍थ शॉट्स

ये हेल्‍थ शॉट्स के विविध लेखकों का समूह हैं, जो आपकी सेहत, सौंदर्य और तंदुरुस्ती के लिए हर बार कुछ खास लेकर आते हैं।