हेल्दी रिलेशनशिप की बुनियाद है रेस्पेक्ट, जानिए रिश्ते में सम्मान होने के संकेत

रिश्तों में सम्मन बेहद ज़रूरी है। अगर आप रिश्तों को रिस्पेक्ट नहीं दे पाते हैं, तो ज़ाहिर है, रिश्ते भी ज्यादा वक्त तक आपके साथ नही चल पाऐंगे। रिश्तों की अहमियत औ
emotional abuse ke sign kya hain
अक्सर रोमांटिक रिलेशनशिप्स और पति पत्नी के रिश्तों में धमकी, अपमान, ईर्ष्या और बदसलूकी इमोशनल एब्यूज़ को दर्शाता है।। चित्र शटर स्टॉक
ज्योति सोही Published: 6 Feb 2023, 12:00 pm IST
  • 142

कहते हैं, कि किसी भी रिश्ते को मज़बूत बनाने के लिए उसमें प्यार, विश्वास और सम्मान का होना बहुत अह्म है। आपसी समझदारी ही किसी प्रबल रिश्ते की नींव को मज़बूत करती है। मगर आजकल कपल्स में जल्दबाजी में होने वाला प्यार, फिर झटपट होने वाली लव मैरिज (love marriage) का अंत कहीं न कहीं डाइवोर्स (reason of divorce) पर आकर हो जाता है। उसके बाद जब वे कारण खोजते हैं, तो वो कुछ और नहीं बल्कि रिसपेक्ट की कमी ही होती है। जो प्यार के दौरान ही कहीं न कहीं खत्म हो चुकी होती है। फिर वे इस बात को समझते हैं कि अगर आप लॉग टर्म तक रिश्ते में रहना चाहते हैं, तो एक दूसरे का सम्मान करना ज़रूरी है (importance of respect in healthy relationship) ।

इस बारे में गंगा राम हास्पिटल की साइकॉलोजिस्ट, सीनियर कंसलटेंट, डॉ आरती आनंद हमें बता रही है कि कैसे रिश्तों में एक दूसरे के सम्मान का ख्याल रखकर उन्हें सुधारा जा सकता है।

अपनी बात को बिना किसी डर के कहना

डॉ आरती आनंद के मुताबिक अगर आप एक मज़बूत रिश्ते (strong bond) में हैं, तो अपनी बात को जाहिर करने में आपको डर का सामना नहीं करना पडे़गा। एक दूसरे के प्रति सम्मान हमें स्वतंत्रता का एहसास करवाता है। रिश्ते में फ्रीडम (freedom in relation) रहने से हम खुलकर अपने विचारों को साझा कर पाते हैं और हर काम में एक दूसरे की मदद कर पाते हैं।

relationship bonding
रिश्ते में एक दूसरे की तारीफ करना जरुरी है. चित्र शटरस्टॉक।

जो जैसा है, उसे वैसा एक्सेप्ट करें

विशेषज्ञों की मानें, तो जो व्यक्ति जैसा है, उसे आप वैसे ही अपनायें। अगर आप किसी के अंदर बदलाव लाकर उसे एक्सेप्ट करते भी हैं, तो वो रिश्ता ज्यादा समय तक नहीं टिक पाता है। अगर कोई मोटा है और आपने उसे पतले होने के बाद एक्सेप्ट किया, तो इस बात की कोई भी गारंटी नहीं है कि वो लाइफटाइम में दोबारा मोटा नहीं होगा। अगर आपके किसी से विचार मिलते हैं, तभी उस व्यक्ति को अपने जीवन का हिस्सा बनाने की कोशिश करें और उसे मान सम्मान दें।

ताना मारने और धुतकारने से बचें

बहुत बार ऐसा देखा गया है कि कई बार हमारी छोटी सी बात भी गॉसिप ऑफ द टाउन बन जाती है। कुछ लोग हर वक्त अपने साथी की गलतियों को जाहिर करने और उसे बात बात पर ताने मारने से नहीं रूकते हैं। ऐसे में रिश्तों में दरार आना लाज़मी है। अपने पार्टनर का अगर आप कम आंकते हैं और हर बात पर उसे डांटते और धुतकारते हैं, तो इससे रिश्ते की नींव कमज़ोर होने लगती है। ऐसे में आपसी प्रेम और सम्मान का होना ज़रूरी है। पारदर्शिता रिश्ते में ज़रूरी है। टासपेरेसी ज़रूरी है। बैलेस बनाकर रखना है। सबके सामने अपने पार्टनर को धुतकारे नहीं

रिश्ते में सम्मान क्यों है ज़रूरी

unhealthy relationship
जानिए रिश्ते को हेल्दी बनाए रखने के टिप्स. चित्र शटरस्टॉक।

रिश्ता मज़बूत बनता है

अगर पार्टनर एक दूसरे की बात को ध्यानपूर्वक सुनते और समझते हैं, तो रिश्तों में आपसी प्रेम बढ़ता है। एक दूसरे की कमियों से ज्यादा उनकी अच्छाइयां नज़र आने लगती है। दोनों लोग एक दूसरे से चीजें छुपाने की बजाय मिलजुल कर आगे बढ़ते हैं। उनका ये व्यवहार अन्य लोगों के लिए मार्गदर्शन का काम करता है।

तीसरा कोई आपके बीच नहीं आ सकता

अगर आपका बॉन्ड मज़बूत है, तो कोई भी तीसरा आपके मध्य किसी तरह की मिसअंडरस्टैण्डिंग की वजह नहीं बन सकता। अक्सर लोग दूसरों की जिंदगी में झांकाझांकी करते हैं। मगर रिश्ते में इस तरह से बंध जाएं कि तीसरे व्यक्ति की हर कोशिश नाकामयाब हो।

परिवार में खुशहाली का माहौल बना रहता है

आपका रिश्ता प्रबल होगा, तो परिवार में भी खुशहाली रहेगी। बड़े बुजुर्गों से लेकर आपके बच्चों तक उससे प्रभावित होते है। अगर आपके मध्य हमेशा मनमुटाव रहता है, तो उसका प्रभाव घर के वातावरण पर भी नज़र आता है। हर व्यक्ति आपको हल्के में लेने लगता है या फिर आपके प्रति सहानुभूति का भाव रखता है। कुछ लोग मौके का फायदा उठाकर आपको आपके पार्टनर के खिलाफ भड़काने का भी काम करने लगते हैं। दूसरों का ऐसा बिलेवियर आपके रिश्ते को कमज़ोर करने का काम कर सकता है।

आप जीवन में तरक्की करते हैं

अगर आप जीवन में आगे बढ़ना चाहते है और कोई मकाम हासिल करना चाहते हैं, तो मानसिक तौर पर संतुष्ट होना ज़रूरी है। अगर आपको पार्टनर का पूरा सहयोग प्राप्त होता है, तो आप आसानी से जीवन में अपनी मंज़िलों को पा सकते हैं।

ये भी पढ़ें- Obsessive love disorder: जानिए क्या है प्यार करने का ये तरीका, जो किसी भी रिश्ते के लिए घातक है

अपनी रुचि के विषय चुनें और फ़ीड कस्टमाइज़ करें

कस्टमाइज़ करें

  • 142
लेखक के बारे में

लंबे समय तक प्रिंट और टीवी के लिए काम कर चुकी ज्योति सोही अब डिजिटल कंटेंट राइटिंग में सक्रिय हैं। ब्यूटी, फूड्स, वेलनेस और रिलेशनशिप उनके पसंदीदा ज़ोनर हैं। ...और पढ़ें

अगला लेख