हर चीज़ बोझ महसूस होती है? तो आपको है अपनी मेंटल हेल्थ पर ध्यान देने की जरूरत

अकेलापन, ग्लानि, शर्म या खुद को दूसरों से अलग महसूस करनाा यह बताता है कि आपके मानसिक स्वास्थ्य को मदद की जरूरत है। एक्सपर्ट इसके बारे में कुछ और भी बता रहीं हैं।
मानसिक बीमारी से निपटना “कठिन” हो सकता है। चित्र शटरस्टॉक
निशा कपूर Published on: 3 December 2022, 09:30 am IST
ऐप खोलें

छोटा हो या बड़ा तनाव (Stress) हर किसी की जिंदगी का हिस्सा बन गया है। बदलती लाइफस्टाइल में बढ़ता तनाव एक बहुत बड़ी समस्या है। जिससे वक्त रहते निजात पाना बेहद जरूरी होता है। तनाव सिर्फ आपके मानसिक स्वास्थ्य (mental health) को ही नहीं बल्कि शारीरिक स्वास्थ्य पर भी प्रभाव डालता है। मेंटल हेल्थ एक्सपर्ट बात करके जानते हैं कि आप तनाव में कैसा महसूस करते हैं और कैसे इससे बाहर आ सकते हैं।

मेंटल हेल्थ एक्सपर्ट औरा साइकोलॉजिस्ट डाॅ. ललिता कहती हैं कि मानसिक बीमारी से निपटना “कठिन” हो सकता है क्योंकि सामने आने वाले लक्षण अकेलापन, ग्लानि, शर्म या अन्य लक्षण होते हैं। अक्सर हम मानसिक स्वास्थ्य के इन हिस्सों के बारे में पर्याप्त बात नहीं करते हैं ऐसे में हम खुद को अकेला और अलग-थलग महसूस करते हैं।

मेंटल हेल्थ को संतुलित रखना जरुरी है. चित्र शटरस्टॉक।

1. खुद को हर किसी से दूर होते देखना (watching yourself push everyone away)

जब आपकी मेंटल हेल्थ (mental health) ठीक नहीं होती है। तब आप खुद को सबसे दूर करने लगते हैं और अकेले होने लगते हैं यह एक संकेत है कि आप अपनी मेंटल हेल्थ से से जूझ रहे हैं।

आप जब भी खुद को दूसरे से दूर पाते हैं यह दूर करने लगते हैं। तो आपको तनाव से बचने के लिए लोगों से बातचीत करनी चाहिए। कुछ बुक्स पढ़नी चाहिए। अपना पसंदीदा म्यूजिक सुनना चाहिए। ऐसा करने से आप अच्छा महसूस करेंगे।

2. निराश और उदास रहना (losing hope for the future and trapped in sadness)

एक्सपर्ट कहती हैं कि आप जब भी अधिक चिंताओं से घिरे होते हैं। तो सबसे पहले कुछ अच्छा होने की उम्मीद खो देते हैं साथ ही बेहद उदासी में रहते हैं। यदि आप भी ऐसा महसूस कर रहे हैं।

तो आपको अपने मेन्टल हेल्थ का ख्याल रखने की जरूरत है। इसके लिए आप सबसे पहले अच्छा सोचे, पॉजिटिव रहें। इसके लिए आप ध्यान लगाएं, योग करें अच्छी डाइट लें और खुद को अकेला बिल्कुल ना रखें।

यह भी पढ़े- आपके बढ़ते गुस्से की वजह कहीं प्रदूषण तो नहीं? जानिए इस बारे में क्या कहते हैं मेंटल हेल्थ एक्सपर्ट

3. काश हम औरों के जैसे होते (wishing you could be normal)

मेंटल हेल्थ से ग्रस्त होने पर आपको लगता है कि आप दूसरे लोगों से अलग हैं या नॉर्मल नहीं हैं। जबकि ऐसा सिर्फ आपकी चिंताओं के कारण होता है। इसलिए आपको चिंताओं से दूरी बनानी चाहिए। हर व्यक्ति अलग होता है, इसलिए ऐसा सोचना कि आप औरों के जैसे होते, मानसिक स्वास्थ्य में गिरावट का संकेत है।

4. अपने आपको ठीक से न पहचानना (feeling you don’t recognize who you are anymore)

हम डिप्रेशन में जाने के बाद खुद को ठीक से नहीं पहचानते। अपनी काबिलियत पर शक करने लगते हैं। हमें लगता है किसी काम को ठीक से करने के लायक नहीं है या हम कुछ भी ठीक से नहीं कर सकते हैं।

अपने आपको ठीक से पहचाने और अपनी काबलियत को समझे। यह स्वीकार करें कि आप सब कुछ कर सकते हैं।

खुद से प्‍यार करना और खुद के लिए दयालु रहना सबसे ज्‍यादा जरूरी है। चित्र: शटरस्‍टॉक

5. बोझ जैसा महसूस होना (feeling like burden)

तनाव की स्थिति हर रिश्ते को प्रत्येक कार्य को यहां तक कि खुद को भी एक तो जैसा महसूस करने लगते हैं हमें अपने नियमित कार्यों को करने में भी काफी समस्या होती है ऐसा आपकी खराब मेंटल हेल्थ के कारण होता है।

इससे बचने के लिए आपको अपनी मेंटल हेल्थ का ख्याल रखना चाहिए। ऐसे लोगों से दूर रहना चाहिए जो आपके लिए नकारात्मक सोच रखते हैं या जिनके साथ रहकर आप जिंदगी के प्रति नकारात्मक दृष्टिकोण रखते हैं।

एक्सपर्ट कहती हैं कि मैं जानती हूं और मैं कहती हूं कि हम इसमें अकेले नहीं हैं। ऐसा समर्थन है जो आपको आपकी मदद करने में सक्षम हो सकता है। लेकिन कृपया इस बात पर ध्यान दें कि क्या आप वास्तव में समर्थन के लिए परिवार, दोस्तों या अन्य मानसिक स्वास्थ्य पेशेवरों तक पहुंचने के लिए संघर्ष कर रहे हैं।

मेन्टल हेल्थ के लिए यह कठिन, अकेला और डरावना है, लेकिन चीजें बेहतर हो जाती हैं। बुरे हिस्से कभी-कभी बहुत भारी और असहनीय लगते हैं, लेकिन कोशिश करने से यह हमेशा इतना कठिन नहीं रहता है।

यह भी पढ़े- क्या वाकई टूथपेस्ट लगाने से एक्ने चले जाते हैं? एक्सपर्ट बता रहे हैं एक्ने से जुड़े ऐसे ही मिथ्स की सच्चाई

लेखक के बारे में
निशा कपूर

देसी फूड, देसी स्टाइल, प्रोग्रेसिव सोच, खूब घूमना और सफर में कुछ अच्छी किताबें पढ़ना, यही है निशा का स्वैग।

स्वास्थ्य राशिफल

स्वस्थ जीवनशैली के लिए ज्योतिष विशेषज्ञों से जानिए अपना स्वास्थ्य राशिफल

सब्स्क्राइब
Next Story