फॉलो
वैलनेस
स्टोर

भावनात्‍मक स्‍वास्‍थ्‍य को बूस्‍ट करना है तो इन 7 एक्टिविटीज में करें खुद को शामिल

Published on:16 October 2020, 20:14pm IST
अपने मानसिक स्वास्थ्य को बेहतर बनाए रखने के लिए जरूरी है कि आप अपने भावनात्‍मक स्‍वास्‍थ्‍य पर भी ध्‍यान दें। यहां हैं ऐसी सात एक्टिविटीज जो आपकी इमोशनल हेल्‍थ को दुरुस्‍त रख सकती हैं।
टीम हेल्‍थ शॉट्स
  • 71 Likes
ये सात एक्टिविटीज आपकी इमोशनल हेल्‍थ को बूस्‍ट करती हैं। चित्र: शटरस्‍टॉक

बहुत से लोग अक्सर मानसिक स्वास्थ्य और भावनात्मक स्वास्थ्य के बीच भ्रमित हो जाते हैं। उन्‍हें लगता है कि इन दोनों का ही उपयोग एक-दूसरे के विकल्‍प के तौर पर किया जा सकता है। जबकि यह पूरी तरह सच नहीं है। मानसिक स्वास्थ्य आपके मनोवैज्ञानिक, भावनात्मक और सामाजिक कल्याण के बारे में है। वहीं भावनात्मक स्वास्थ्य आपकी भावनाओं के साथ क्या करना है, और आप कैसा महसूस करते हैं, पर केंद्रित है।

अच्छे मानसिक स्वास्थ्य के लिए अपने भावनात्मक स्वास्थ्य को संभालना महत्वपूर्ण है। यही कारण है कि हम यहां आपको सात मूड बूस्टिंग एक्टिविटीज के बारे में बताने वाले हैं। ये सभी आपके भावनात्मक स्वास्थ्य को संभालने में मददगार होंगी।

पाएं अपनी तंदुरुस्‍ती की दैनिक खुराकन्‍यूजलैटर को सब्‍स्‍क्राइब करें

1. आभार सूची बनाएं

इससे पहले कि आप रात को सोएं, सुनिश्चित करें कि आप उस दिन को दोबारा याद करने के लिए अपने आप को 10-15 मिनट दे सकते हैं। उन सभी चीजों को लिखें,जिनके लिए आप आभारी हैं। हर दिन इस तरह की एक सूची बनाने से आपको अधिक सकारात्मक बनने में मदद मिलेगी। साथ ही आप अपना ध्यान अपने जीवन में अच्छी चीजों की ओर लगा पाएंगी। यह कठिन समय का बेहतर तरीके से मुकाबला करने में आपकी मदद करेगा!

2. खुद को व्यवस्थित करें

क्या आपने कभी चिड़चिड़ापन और निराशा महसूस की है? जब आपके आस-पास की चीजें बिखरी और गड़बड़ हैं? यदि हां, तो आप अकेले नहीं हैं। सभी चीजें अपनी जगह से बिखरी पड़ी हो तो इसका आपके भावनात्मक स्वास्थ्य पर नकारात्मक प्रभाव पड़ सकता है।

भावनात्‍मक रूप से मजबूत रहने के लिए खुद को व्‍यवस्थित करें। चित्र: शटरस्‍टॉक
भावनात्‍मक रूप से मजबूत रहने के लिए खुद को व्‍यवस्थित करें। चित्र: शटरस्‍टॉक

अपने स्पेस को व्यवस्थित करने से आप अपने तनाव, समय और प्राथमिकताओं को बेहतर ढंग से प्रबंधित कर सकते हैं। इसलिए,जब भी आप लो महसूस करते हैं या इतने स्ट्रॉंग नहीं होते हैं, तो थोड़ा बेहतर आयोजन करने का प्रयास करें। यह आपको अपने मन को शांत करने में मदद करेगा और आपको अधिक केंद्रित महसूस कराएगा।

3. मन के भावों को लिखने की कोशिश करें

यदि आप ऐसे व्यक्ति हैं, जिसे अपनी भावनाओं को समझना और महसूस करना मुश्किल होता है, तो लिखना आपके लिए मददगार साबित हो सकती है। दिन भर में क्या हुआ, आपको कैसा लगा और आपने इसे कैसे संभाला, इस पर ध्यान देकर छोटे-छोटे स्टेप लेना शुरू करें। समय की अवधि में, यह पत्रिका आपको अपनी खुद की भावनाओं को समझने में मदद करेगी कि आपने इससे कैसे निपटा और आप भविष्य में कैसे सुधार कर सकते हैं।

विचार को लिखने से, आपको स्वयं को समझने में भी मदद मिलेगी और उन गलतियों को भी जिसका सामना आपको करना पड़ा। यह गतिविधि न केवल आपको समस्या को समझने में मदद करेगी, बल्कि आपको एक संभावित समाधान भी प्रदान करेगी।

4.कुछ समय दोस्तों के साथ बिताएं

मनुष्य सामाजिक प्राणी हैं और चाहे आप खुद के साथ समय बिताना कितना पसंद करते हों, किसी समय अपने दोस्तों के साथ सामाजिक व्यवहार करना भी महत्वपूर्ण है। उन गतिविधियों में भाग लेने का प्रयास करें, जिनमें आप दोनों आनंद लेते हैं, या अपनी पसंदीदा जगह घूमने जाते हैं।

दोस्‍तों के साथ समय बिताना भी जरूरी है। चित्र: शटरस्‍टॉक
दोस्‍तों के साथ समय बिताना भी जरूरी है। चित्र: शटरस्‍टॉक

उनके साथ समय बिताने से आपका दिमाग नकारात्मक चीजों से हट जाएगा और आपके ब्रेन को सकारात्मकता की ओर ले जाएगा। इसके अलावा, दोस्त आपको बुरे समय पर वापस गिरने से भी रोकेंगे,जब आपकी भावनात्मक स्थिति सही नहीं होंगी। इसलिए,आपको अपने दोस्तों को करीब रखने की जरूरत है।

5. फोन को खुद से कुछ समय के लिए दूर करें

बहुत अधिक सोशल मीडिया पर रहना और फोन का उपयोग करना आपको नकारात्मक रूप से प्रभावित कर सकता है। हालांकि आप अपने आसपास होने वाली हर चीज़ के साथ जुड़े रहना रहना चाहते हैं, कभी-कभी यह वास्तव में हम पर भी भारी हो सकता है और तब आपको रोक लगाने की आवश्यकता होती है। अपने आप को कुछ समय दें, और अपनी ऊर्जा को किसी अन्य चीज़ पर केंद्रित करें जैसे कि किताब पढ़ना या अपने पसंदीदा पॉडकास्ट को सुनना।

6. समाज सेवा के लिए तैयार रहें

सबसे अच्छी चीजों में से एक यह है जो आप कर सकते हैं वह है कि आप समाज सेवा के लिए अपने कीमती समय का उपयोग करें। चाहें वह एक पशु आश्रय के लिए हो या एक अनाथालय या वृद्धाश्रम हो, समाज सेवा आपको अपनेपन का एहसास दिलाएगा और आपके भावनात्मक स्वास्थ्य को बढ़ावा देगा।

आप दूसरों की किस तरह मदद कर सकते हैं, उसके ब्‍यौरा भी यहां है। चित्र: शटरस्‍टॉक
आप दूसरों की किस तरह मदद कर सकते हैं, उसके ब्‍यौरा भी यहां है। चित्र: शटरस्‍टॉक

इसके अलावा,यह जीवन और कुछ स्थितियों के प्रति एक नया दृष्टिकोण भी दे सकता है। स्वयं सेवा करने से आपका ध्यान स्वयं से हटकर दूसरों पर केंद्रित हो जाता है, जो आपके भावनात्मक स्वास्थ्य के लिए बहुत अच्छा है।

7. गहरी सांस लेने का अभ्यास करें

गहरी सांस लेने से आपके पूरे शरीर को शांत होने में मदद मिलती है और आपको कठिन परिस्थितियों को बेहतर तरीके से संभालने के लिए तैयार करता है। जब आप गहरी सांस लेने का अभ्यास करते हैं, तो आप देखेंगे कि आपके दिल की धड़कन सामान्य हो गई है। आप अधिक आराम महसूस करती हैं। इससे आपको अपनी भावनाओं और विचारों को नियंत्रण करने में अधिक मदद मिलेगी।

इन सुझावों को आज़माने के लिए आप सभी तैयार हैं? हम शर्त लगाते हैं कि आप यह जरूर करेंगे! क्या आप जानते हैं कि इसने आपकी मदद कैसे की,नीचे कमेंट में जरूर लिखे! हम सुनने के लिए बेताब है।

0 कमेंट्स

कृपया अपना कमेंट पोस्ट करें

Your email address will not be published. Required fields are marked *

टीम हेल्‍थ शॉट्स टीम हेल्‍थ शॉट्स

ये हेल्‍थ शॉट्स के विविध लेखकों का समूह हैं, जो आपकी सेहत, सौंदर्य और तंदुरुस्ती के लिए हर बार कुछ खास लेकर आते हैं।