वैलनेस
स्टोर

लगातार थकान महसूस कर रहीं हैं, तो ये 4 तरीके आपको रिलैक्स होने में मदद करेंगे

Updated on: 9 July 2021, 17:34pm IST
काम का तनाव आपको मानसिक और शारीरिक रूप से प्रभावित कर सकता है। इसलिए, आपको तनाव के स्तर को कम करने के लिए सक्रिय कदम उठाने की जरूरत है।
टीम हेल्‍थ शॉट्स
  • 98 Likes
रिश्तों में तनाव बुर्नौत का कारण बन सकता है। चित्र: शटरस्टॉक

हर काम अपने तरीके से तनावपूर्ण होता है। हालांकि यह कहना उचित है कि चिकित्सक और अन्य एसेंशियल स्टाफ उच्च जोखिम वाली घटनाओं का सामना कर रहे हैं। इसके बावजूद पेपर वर्क, यात्रा, कम डिलीवरी की समय सीमा, कैरियर की समस्याएं और बहुत कुछ है, जो आपकी थकान का कारण बन सकता है।

कोविड -19 प्रतिबंधों के कारण एक और कारक जो बढ़ रहा है, वह है वर्क-फ्रॉम-होम (work from home)। ऑफिस में काम करना कुछ हद तक एक अच्छा माहौल प्रदान करता है, जो हमारी प्रेरणा और उत्पादकता को बढ़ाता है, मगर WFH सेट-अप में इसकी कमी हो सकती है। वर्क फ्रॉम होम चिंता और तनाव का कारण बन सकता है।

काम का तनाव आपको कैसे प्रभावित कर सकता है?

तनाव उन परिस्थितियों पर प्रतिक्रिया करने का शरीर का तरीका है, जो आपको शारीरिक, मानसिक और भावनात्मक दबाव में डालती हें। तनावपूर्ण घटनाओं के दौरान, शरीर एड्रेनालाईन जैसे रसायन जारी करता है और कुछ कार्यों को पूरा करने के लिए ऊर्जा प्रदान करने में भी सहायक हो सकता है।

तनाव आपको शारीरिक और मानसिक थकान दे सकता है। चित्र: शटरस्‍टॉक

मगर लंबे समय में, तनाव महत्वपूर्ण स्वास्थ्य समस्याओं का कारण बन सकता है। लंबे समय तक तनाव के जोखिम के लक्षणों में मांसपेशियों में तनाव, सिरदर्द, थकान, फोकस में कमी और नींद की कमी शामिल है।

यहां बताया गया है कि आप काम के तनाव को कैसे प्रबंधित कर सकती हैं

1. पॉजिटिव अफर्मेशन

पॉजिटिव अफर्मेशन एक अभिव्यक्ति है जिसे दोहराया जाता है। इसका उपयोग अवचेतन मन को एक ऐसे विचार से परिचित कराने के लिए किया जाता है, जो आपको प्रेरित कर सकता है। आपको आपके सकारात्मक गुणों की याद दिला सकता है और लक्ष्यों को पूरा करने के लिए आत्मविश्वास प्रदान कर सकता है।

अफर्मेशन संक्षिप्त होना चाहिए और इसमें विज़ुअलाइज़ेशन शामिल होना चाहिए। उदाहरण के लिए, “I will get promoted this year।”

2. ब्रीदिंग एक्सरसाइज

इसके पीछे आइडिया यह है कि ध्यानपूर्वक श्वास लें और श्वास के पैटर्न से अवगत हों, क्योंकि श्वास पैटर्न पर ध्यान केंद्रित करने से यह नोटिस करने में मदद मिलेगी कि कब जान बूझकर श्वास को आराम देना है और कब इसका प्रभार लेना है।

श्वास व्यायाम आप को बेहतर महसूस करने में मदद कर सकते हैं। चित्र : शटरस्टॉक

3. शारीरिक व्यायाम

व्यायाम शरीर के तनाव हार्मोन, जैसे एड्रेनालाईन और कोर्टिसोल के स्तर को कम करता है। यह मस्तिष्क में एंडोर्फिन, रसायनों के उत्पादन को भी उत्तेजित करता है, जो शरीर के नेचुरल पेन किलर्स और मूड लिफ्टर हैं। इसके अलावा, व्यायाम करने से जीवन में दिनचर्या और अनुशासन की भावना पैदा होगी, जो तनाव को प्रबंधित करने में मदद करेगी।

4. अपना पसंदीदा संगीत सुनें

संगीत में कोर्टिसोल के स्तर को कम करने की क्षमता होती है और इसलिए, तनाव का स्तर कम होता है। संगीत मन पर आराम का प्रभाव डाल सकता है, विशेष रूप से धीमा और सुरीला संगीत।

संगीत आपके शारीरिक स्वास्थ्य के साथ ही मानसिक स्वास्थ्य को भी कई तरह से लाभ पहुंचाता है। चित्र: शटरस्‍टॉक

संगीत हमारे शारीरिक कार्यों पर लाभकारी प्रभाव डाल सकता है, हृदय गति को धीमा कर सकता है, रक्तचाप को कम कर सकता है और तनाव हार्मोन के स्तर को कम कर सकता है।

तो लेडीज, काम से संबंधित तनाव को प्रबंधित करने के लिए इन स्वस्थ तरीकों को आजमाएं।

यह भी पढ़ें – आपको तनाव मुक्‍त कर खुशी का अहसास देता है पहली बारिश में नहाना, जानिए इसके 6 स्‍वास्‍थ्‍य लाभ 

टीम हेल्‍थ शॉट्स टीम हेल्‍थ शॉट्स

ये हेल्‍थ शॉट्स के विविध लेखकों का समूह हैं, जो आपकी सेहत, सौंदर्य और तंदुरुस्ती के लिए हर बार कुछ खास लेकर आते हैं।