वैलनेस
स्टोर

खुद को काम में फंसा हुआ महसूस कर रहीं हैं? तो इन 4 चार तरीकों से करें खुद को मोटीवेट

Published on:9 February 2021, 15:27pm IST
क्या आप भी काम में इतना फंस जाती हैं कि खुद का ध्यान ही नहीं रहता? चिंता करने वाली कोई बात नहीं है, लेकिन अपनी आकांक्षाओं को पूरा करने के लिए इससे निजात पाना और खुद को मोटीवेटिड रखना बेहद ज़रूरी है।
  • 78 Likes
खुद को मोटिवेट करने के लिए आपको खुद पर काम करना होगा। चित्र: शटरस्‍टॉक

कोई भी इसके बारे में ज्यादा बात नहीं करता कि कैसे हमारा करियर हमारी मेंटल हेल्थ को प्रभावित करता है। ये एक जीवनभर के लिए की गई कमिटमेंट की तरह है। हम अपनी आकांक्षाओं और भविष्य की योजनाओं के आधार पर अपने करियर का चयन करते हैं। जिससे हम मानसिक रूप से अपनी नौकरियों से जुड़ जाते हैं।

इसके अलावा, हम अपना पूरा दिन अपने सहयोगियों के साथ ऑफिस में बिताते हैं। इसलिए, हमारे कार्यालय का तनाव और नकारात्मक घटनाएं अक्सर हम पर नकारात्मक प्रभाव भी डालती हैं।

कोई फर्क नहीं पड़ता कि आपको क्या पसंद है, आपको अपनी मेहनत को बनाए रखने के लिए प्रेरणा की आवश्यकता है। ऑफि‍स पॉलीटिक्‍स से लेकर आपके काम के लिए पहचाने जाने तक, बहुत सारे कारक हैं, जो प्रोफेशनली आपको फंसा हुआ महसूस करवाने लगते हैं।

जब आप ऐसा महसूस करती हैं, तो यह आपके समग्र मानसिक स्वास्थ्य को प्रभावित करना शुरू कर देता है। आप चिंतित, उदास महसूस कर सकती हैं और काम पर ध्यान केंद्रित करना मुश्किल हो सकता है। महत्वाकांक्षी होने के बावजूद, आप ऐसा महसूस करने लगती हैं कि आप अपनी ऊर्जा का पूरा इस्तेमाल नहीं कर पा रहीं।

ये आपके मस्तिष्‍क पर असर करता है। चित्र: शटरस्‍टॉक
ये आपके मस्तिष्‍क पर असर करता है। चित्र: शटरस्‍टॉक

यदि आप खुद को काम में फंसा हुआ या स्‍टक महसूस कर रहीं हैं, तो आपको इन भावनाओं से निपटने के लिए सक्रिय कदम उठाने की आवश्यकता है। जब आपका प्रेरणा स्तर घटता है, तो आप खुद को इन चार तरीकों से पुन: प्रेरित कर सकती हैं:

आपने जो शुरू किया था, उस पर वापस जाएं

जब आप लो फील कर रही होती हैं, तो यह समझना थोड़ा मुश्किल होता है कि आपने अपने काम की शुरुआत कब की थी। तो एक कॉपी लें और लिखना शुरू करें कि आपको कैसा फील हो रहा है जबसे आपने काम करना शुरू किया है।

अपनी आकांक्षाओं, योजनाओं और लक्ष्यों के बारे में विस्तार से बताएं कि चीजें कैसे बदल गई हैं। अपने आप को अपनी उपलब्धियों की याद दिलाएं और जब आपने चीजों को अपना लिया है, तो आपने खुद को कैसे उठाया। यह आपको यह याद दिलाने में मदद करेगा कि आपने क्यों शुरू किया, और आपने कैसे अपने आप को खड़ा किया है।

कार्य सूची बनाएं

यदि प्रत्येक दिन कामों को पूरा करना मुश्किल लगता है, तो कार्य सूची बनाने का प्रयास करें। इसमें आपका समय, अनुसूची, नियत तिथियां और प्रत्येक कार्य की प्राथमिकता का स्तर शामिल हो सकता है। प्रत्येक कार्य को टिक कर करें, चाहे वह कितना भी बड़ा या छोटा क्यों न हो।

अपने डिवाइसेस की सेटिंग को चेक करती रहें। चित्र: शटरस्‍टाॅॅॅक
अपने डिवाइसेस की सेटिंग को चेक करती रहें। चित्र: शटरस्‍टाॅॅॅक

यह आपको प्रेरणा देगा और आपको सकारात्मक महसूस करने में मदद करेगा। सुनिश्चित करें कि प्रत्येक दिन के लिए ऐसी कार्य सूची बनाएं जिसे पूरा किया जा सकता है, क्योंकि यह पूरी न होने पर आपके तनाव के स्तर को बढ़ा सकती है।

खुद को बर्नआउट से भी बचाना है

जब आप ओवरवर्क कर रही होती हैं और लगातार तनाव में होती हैं, तो इसका मतलब है कि आप बर्नआउट की शिकार हैं। इसलिए, सुनिश्चित करें कि आप तनावग्रस्‍त होकर काम नहीं कर रहीं। यदि आप चाहें, तो पुन: शुरुआत करने के लिए थोड़ा ब्रेक लें। ताकि नई एनर्जी के साथ काम को फि‍र से शुरू कर सकें।

अपने काम के तनाव को थोड़ा गले लगाना सीखें

आपको इस तथ्य को स्वीकार करना होगा कि आपका करियर उतार-चढ़ाव से भी गुजर सकता है। कई बार, आपके पास उपलब्धियों की एक लकीर होगी, जो आपके प्रेरणा स्तरों को बढ़ाएगी। पर कई बार ऐसा भी होगा जहां आप लो फील करने लगेंगी। यह हर प्रोफेशन का हिस्सा है। आपको अपनी फ्लेक्सिबिलिटी बढ़ाने के लिए इसे स्वीकार करना होगा।

आप अपने खुद के चीयरलीडर हैं, और सफलता प्राप्त करने के लिए आपको खुद को मोटिवेटेड रखना होगा।

यह भी पढ़ें – सिर्फ वेलेंटाइन वीक के लिए किसी के प्‍यार में पड़ना आपकी मेंटल हेल्‍थ के लिए हो सकता है जोखिम भरा