वैलनेस
स्टोर

क्या आप बिना किसी प्रेरणा के स्वयं से प्रेरित हो सकते हैं? जानिए क्या है आंतरिक प्रेरणा

Published on:24 August 2021, 16:13pm IST
आंतरिक प्रेरणा मनोवैज्ञानिक जरूरतों पर आधारित है, जिसे सही निर्णय लेने के लिए पूरा किया जाना चाहिए लेकिन बिना किसी बाहरी प्रोत्साहन के।
टीम हेल्‍थ शॉट्स
  • 111 Likes
intrinsic motivation
जानिए क्या है आंतरिक प्रेरणा . चित्र : शटरस्टॉक

हम में से कई लोगों को दैनिक आधार पर मोटीवेटेड रहना मुश्किल लगता है, चाहे वह कसरत करने के लिए हो, पढ़ाई या फिर काम करने के लिए। कोविड -19 ने इस समस्या को और बढ़ाया है, क्योंकि परफॉमेंस की चिंता के आलावा, हमें अब एक खतरनाक वायरल संक्रमण से बचना है।

ऐसे मामले में, उन गतिविधियों में शामिल होना सबसे सही है, जो हमें खुशी देती हैं, चाहे उनका परिणाम कुछ भी हो। किसी बाहरी पुरस्कार की अपेक्षा किए बिना कुछ करने के इस कार्य को ‘intrinsic motivation’ कहा जाता है। यह उन गतिविधियों के माध्यम से किया जा सकता है जो हमारे लिए सुखद, चुनौतीपूर्ण और दिलचस्प हैं।

आखिर क्या है आंतरिक प्रेरणा (intrinsic motivation)

यदि आप मोटिवेशन, टाइम लिमिट, या परिणाम के बारे में बिना सोचे सिर्फ अपने कार्य पर ध्यान देंगे तो आप आंतरिक रूप से प्रेरित महसूस कर सकते हैं। उदाहरण के लिए एक ऐसी पुस्तक को पढ़ना और आनंद लेना जिसका कंटेंट अच्छा है, बल्कि इसलिए नहीं कि आपको कोई कॉलेज असाइनमेंट मिला है।

दूसरा उदाहरण है एक खेल में भाग लेना है, सिर्फ इसलिए क्योंकि यह आपको पसंद है, न कि यह सोचकर कि इसके टूर्नामेंट में आपको ट्रॉफी मिलेगी।

intrinsic motivation
खुश रहिये, स्वस्थ रहिये। चित्र: शटरस्‍टॉक

आंतरिक प्रेरणा मनोवैज्ञानिक आवश्यकताओं पर आधारित होती है जिसे पूरा किया जाना चाहिए, और किसी बाहरी इनाम की संभावना के बिना, एक चुनौती पर काबू पाने से आनंद प्राप्त करना चाहिए। फ्रंटियर्स इन साइकोलॉजी द्वारा प्रकाशित एक शोध के अनुसार, पैसे जैसे बाहरी पुरस्कार वास्तव में परफॉर्मेंस के लिए हानिकारक हो सकते हैं।

यह ‘extrinsic motivation’ से कैसे अलग है

बाहरी प्रेरणा किसी गतिविधि के सफल समापन के बाद बाहरी पुरस्कार प्राप्त करने की अपेक्षा से प्राप्त होती है। लोग किसी भी मनोवैज्ञानिक संतुष्टि से रहित परिणाम पर केंद्रित लक्ष्य निर्धारित करके प्रेरणा पाते हैं। ये लक्ष्य धन, प्रसिद्धि, शक्ति, या उत्थान की सामाजिक स्थिति से लेकर हैं।

जो लोग आंतरिक प्रेरणा प्राप्त करते हैं, वे निम्नलिखित तरीकों से लाभान्वित होते हैं:

सीखने की बेहतर क्षमता: एक आंतरिक रूप से प्रेरित व्यक्ति जिज्ञासा विकसित करेगा, और हर बार कुछ नया सीखने के लिए अग्रसर होगा। वे आसानी से खुद को चुनौतियों के अधीन कर लेंगे, और काम या स्कूल में सबसे उत्तम प्रदर्शन करके दिखाएंगे।

intrinsic motivation
यह खुद को खुश रखने का तरीका है. चित्र: शटरस्‍टॉक

लोगों का सहयोग करना: ऐसे लोग खुद के साथ – साथ दूसरों को भी प्रेरित करते हैं और उनका सहयोग करते हैं। ऐसे लोग दोसरों के साथ अपनी खुशियां भी बांटते हैं।

संतुष्टि की भावना: ऐसे लोग अक्सर व्यक्तिगत संतुष्टि की भावना महसूस करते हैं। खासकर जब वे अपनी सफलता में दूसरों को शामिल करते हैं या दूसरों को एक सामान्य लक्ष्य प्राप्त करने में मदद करते हैं। यह उन्हें प्रेरित रहने में मदद करता है।

तो, लेडीज, आंतरिक प्रेरणा एक महत्वपूर्ण उपकरण है जो आपको अपने समग्र स्वास्थ्य और आत्म-सम्मान में सुधार करने में मदद करता है!

यह भी पढ़ें : क्या आप भी हर समय कंप्लेंट करती हैं? जानिए आपके लिए कितनी टॉक्सिक हो सकती है ये आदत

टीम हेल्‍थ शॉट्स टीम हेल्‍थ शॉट्स

ये हेल्‍थ शॉट्स के विविध लेखकों का समूह हैं, जो आपकी सेहत, सौंदर्य और तंदुरुस्ती के लिए हर बार कुछ खास लेकर आते हैं।