Follow Us on WhatsApp

लगातार तनाव बढ़ा सकता है चेहरे की झुर्रियां और एजिंग के संकेत, जानिए क्या है स्ट्रेस और एजिंग का कनैक्शन

आज की भागदौड़ भरी जिंदगी में काम अधिक और समय कम है। समय की कमी ने रिश्तों और अपनेपन को भी कमजोर किया है। जिसके कारण लोग गंभीर तनाव के शिकार हो रहे हैं।

Stress aapki health ko affect karta hai
तनाव आपके स्वास्थ्य को कई तरह से प्रभावित कर सकता है। चित्र:शटरस्टॉक
संध्या सिंह Updated: 12 Apr 2023, 17:23 pm IST
  • 142

क्या आपने महसूस किया है कि जिस सप्ताह आप पर काम का बोझ अधिक होता है या आप किसी तरह के तनाव से घिरी होती हैं, उस सप्ताह आपका चेहरा उदास और बेजान नजर आता है! जी हां, ये तनाव के संकेत हैं जो आपके चेहरे पर सबसे पहले नजर आते हैं। अगर इन्हें लगातार इग्नोर किया जाए, तो आप उम्र से पहले बुढ़ापे का सामना कर सकती हैं। समय रहते तनाव को कंट्रोल करना क्यों जरूरी है, आइए जानते हैं इस बारे में विस्तार से।

एक तनावपूर्ण स्थिति या लंबी बीमारी आपको न केवल शारीरिक रूप से थकाती है, बल्कि मानसिक रूप से भी कमजाेर और उदास कर सकती है। जिसका असर आपके संपूर्ण स्वास्थ्य पर नजर आता है। विशेषज्ञ मानते हैं कि क्रोनिक स्ट्रेस अर्ली एजिंग का कारण बनता है। जिससे आपके बाल, चेहरा और त्वचा अपनी रंगत खोने लगते हैं।

कैसे आपके शारीरिक तंत्र को प्रभावित करता है तनाव

जब आप तनावग्रस्त होते हैं, तो आपका शरीर फाइट-या-फ्लाइट मोड के साथ प्रतिक्रिया करता है। यह एक हार्मोनल गतिविधि है, जो आपके स्वास्थ्य को बर्बाद कर सकती है। इसका कहर सिर्फ आपके आंतरिक स्वास्थ्य को प्रभावित नहीं करता है। बल्कि कई तरीकों से आपकी त्वचा पर भी असर डालता है।

ये भी पढ़े- Baisakhi 2023 : बैसाखी पर बनाएं मसालेदार अमृतसरी उड़द दाल की बड़ी, हम बता रहे हैं रेसिपी और स्वास्थ्य लाभ

तनाव आपकी त्वचा पर जल्दी झुर्रियों का कारण भी बनता है, इस बारे में और विस्तार से बात कर रहे हैं डॉ. आशुतोष श्रीवास्तव ने। डाॅ श्रीवास्तव सीनियर क्लीनिकल साइकोलॉजिस्ट हैं।

समझिए आपके शरीर को कैसे प्रभावित करता है तनाव

1 टेलोमेयर शॉर्टनेस (Telomere shortening)

डॉ. आशुतोष श्रीवास्तव बताते है कि “टेलोमेरेस हमारे गुणसूत्रों (chromosomes) के सिरों पर सुरक्षात्मक कैप होते हैं, जो हर बार हमारी कोशिकाओं के विभाजित होने पर छोटे हो जाते हैं। तनाव के कारण टेलोमेरेस अधिक तेजी से छोटे हो सकते हैं, जिससे सेलुलर उम्र बढ़ने और उम्र से संबंधित बीमारियों का खतरा बढ़ सकता है।”

tanav sehat ke liye accha nahi, isse bachav karein
तनाव से आपकी उम्र कम हो सकती है। चित्र : शटरस्टॉक

2 सूजन (Inflammation)

पुराने तनाव से पूरे शरीर में निम्न-श्रेणी की सूजन हो सकती है, जो ऊतकों और अंगों को नुकसान पहुंचा सकती है और पुरानी बीमारियों के विकास में योगदान कर सकती है। जिससे आपकी त्वचा पर उम्र बढ़ने के निशान दिख सकते है।

अपनी रुचि के विषय चुनें और फ़ीड कस्टमाइज़ करें

कस्टमाइज़ करें

3 ऑक्सीडेटिव तनाव (Oxidative stress)

तनाव प्रतिक्रियाशील ऑक्सीजन प्रजातियों (आरओएस) के उत्पादन को भी बढ़ा सकता है, जो अस्थिर अणु होते हैं और कोशिकाओं को नुकसान पहुंचाते हैं। यही उम्र बढ़ने में भी योगदान कर सकते हैं। जब फ्री रेडिकल्स एंटीऑक्सिडेंट से अधिक हो जाते हैं, तो इसका परिणाम ऑक्सीडेटिव तनाव होता है। इससे कई तरह की स्वास्थ्य समस्याएं हो सकती हैं, साथ ही पिगमेंटेड स्पॉट, झुर्रियां और त्वचा लटकने लगती है।

ये भी पढ़े- खतरनाक हो सकता है आम के साथ दही खाना, जानिए क्या है इस समर सुपरफ्रूट को खाने का सही समय और तरीका

4 हार्मोनल परिवर्तन (Hormonal changes)

डॉ. आशुतोष श्रीवास्तव बताते है कि “तनाव कोर्टिसोल और एड्रेनालाईन जैसे तनाव हार्मोन के उत्पन होने को ट्रिगर करता है, जो समय के साथ शरीर पर हानिकारक प्रभाव डाल सकता है। पुराना तनाव शरीर के सामान्य हार्मोनल संतुलन को बाधित कर सकता है, जिससे सूजन बढ़ जाती है, प्रतिरक्षा में कमी आती है, और अन्य नकारात्मक प्रभाव पड़ते हैं।”

5 जीवन शैली के कारक (Lifestyle)

तनाव अस्वास्थ्यकर जीवन शैली विकल्पों को भी जन्म दे सकता है, जैसे कि खराब आहार, व्यायाम की कमी और अपर्याप्त नींद, ये सभी उम्र बढ़ने में योगदान कर सकते हैं। तनाव के कारण आप अपनी जीवन शैला में कोई भी स्वस्थ चीज नही करते है, जो की स्वास्थ पर काफी नाकारात्मक प्रभाव डालता है।

अब जानिए आप तनाव के कारण होने वाली एजिंग को कैसे कंट्राेल कर सकती हैं

अमेरिकन एकेडमी ऑफ डर्मेटोलॉजी एसोसिएशन ने तनाव के कारण त्वचा पर पड़ने वाले प्रभावो को कम करने के लिए कुछ सुझाव दिए हैं।

stress management
तनाव आपकी त्वचा पर जल्दी झुर्रियों का कारण भी बनता है। चित्र : शटरस्टॉक

1 तनाव में हों तो अपनी पसंद का कुछ करें

सामान्य स्ट्रेस बस्टर्स के रूप में आप कुछ ऐसा काम कर सकती है जो आपको पसंद है या मजेदार फिल्में देख सकती है। व्यायाम आपके तनाव को भी कम करता है, परिसंचरण में सुधार करता है और आपको युवा दिखने में मदद करता है। व्यायाम की दिनचर्या शुरू करने या बदलने से पहले बस अपने डॉक्टर से एक बार बात कर लें।

2 संतुलित आहार लें

अपनी द्वारा लिए जा रहे शुगर को सीमित करें और फल और सब्जियों जैसे एंटीऑक्सिडेंट से भरपूर खाद्य पदार्थ ही खाएं।

3 नशा करने से बचें

धूम्रपान आपकी त्वचा की बनावट को प्रभावित करता है और त्वचा की उम्र बढ़ने की प्रक्रिया को गति देता है। शराब आपको डिहाइड्रेट कर सकती है, जिससे फाइन लाइन और झुर्रियां अधिक दिखाई देने लगती हैं।

ये भी पढ़े- अपनी समर डाइट में जरूर शामिल करें गर्मियों के ये 6 सुपरफूड्स, रहेंगे हमेशा कूल-कूल

  • 142
लेखक के बारे में
संध्या सिंह संध्या सिंह

दिल्ली यूनिवर्सिटी से जर्नलिज़्म ग्रेजुएट संध्या सिंह महिलाओं की सेहत, फिटनेस, ब्यूटी और जीवनशैली मुद्दों की अध्येता हैं। विभिन्न विशेषज्ञों और शोध संस्थानों से संपर्क कर वे  शोधपूर्ण-तथ्यात्मक सामग्री पाठकों के लिए मुहैया करवा रहीं हैं। संध्या बॉडी पॉजिटिविटी और महिला अधिकारों की समर्थक हैं। ...और पढ़ें

अगला लेख