वैलनेस
स्टोर

Vulvodynia : स्‍वास्‍थ्‍य संबंधी वह स्थिति जो आपकी योनि को बना सकती हैं अवसादग्रस्त

Updated on: 29 December 2020, 18:18pm IST
यह कोई मिथ नहीं है, बल्कि डिप्रेस्ड वेजाइना असल में होती है। इस स्थिति को वॉल्वोडेनिया कहा जाता है। जितना आप सोच रहीं हैं, यह उससे ज्‍यादा खतरनाक स्थिति हो सकती है। अधिक जानने के लिए आगे पढ़े।
टीम हेल्‍थ शॉट्स
  • 91 Likes
इस स्थिति में आपकी योनि अवसादग्रस्‍त हो सकती हैं। चित्र: शटरस्‍टॉक

डियर लेडीज, क्या आपको लोकप्रिय ‘सेक्स एंड द सिटी’ की शार्लोट के वुलवोडीनिया (Vulvodynia) का उल्लेख याद है, जो वह अपने दोस्तों को बताती है। तो चलिए आप के इस भ्रम को तोड़ दें कि यह कल्पना थी। इस तरह की एक स्थिति वास्‍तव में होती है, और यह महत्वपूर्ण है कि आप इसकी गंभीरता को समझें।

मुख्य रूप से ये दर्दनाक बीमारी आपके यौन संबंध के बाद दिखाई देती है। वुलवोडीनिया एक प्रकार की व्यथा है जो महिलाओं को तब अनुभव होती है, जब वे अपने पार्टनर के साथ शारीरिक रूप से सम्बन्ध बनाती हैं या पेशाब करती हैं। अब, यह यूरिनरी ट्रैक्ट के संक्रमण की तरह लग सकता है, लेकिन ऐसा नहीं है।

हम आपको डराना नहीं चाहते हैं, लेकिन अगर इसे बिना इलाज के छोड़ दिया जाए, तो दर्द संभालना आपके लिए मुश्किल हो सकता है।

इससे पहले कि हम डिटेल में जाएं, कुछ ऐसा है जो हम आपको बताना चाहते हैं। कई प्रभावित महिलाओं के लिए, लोगों को समझाना एक अतिरिक्त बोझ बन सकता है।

लंबे समय से, डिप्रेस्ड योनि (Depressed Vagina) की धारणा को खारिज किया जा रहा है, ज्यादातर लोग इसे ‘साइकोसोमैटिक’ समस्या कहते हैं और संभावित रूप से एक मानसिक बीमारी से जोड़ते हैं। पर असल में यह बिल्कुल सच नहीं है।

बल्कि, वुलवोडीनिया से जुड़े स्टिग्मा से कई मानसिक समस्या उत्पन्न होती है, इतना अधिक कि कुछ महिलाओं को अपनी नौकरी छोड़नी पड़ती है, या अपनी शादी को भी समाप्त करना पड़ जाता है। क्योंकि दर्द बहुत अधिक हो जाता है, और यह उन्हें दुर्बल करता है।

वुलवोडीनिया (Vulvodynia) क्या है?

अमेरिकन कॉलेज ऑफ ऑब्सटेट्रिक्स एंड गाइनेकोलॉजी के अनुसार, वॉल्वोडेनिया को वल्वा में होने वाले दर्द के रूप में परिभाषित किया गया है जो तीन महीने या उससे अधिक समय तक रहता है और यह किसी संक्रमण, त्वचा विकार या किसी अन्य मेडिकल स्थिति के कारण नहीं होता है।

वेजाइना भी आपके शरीर का हिस्‍सा है, इस पर सहजता से बात करें। चित्र: शटरस्‍टॉक
वेजाइना भी आपके शरीर का हिस्‍सा है, इस पर सहजता से बात करें। चित्र: शटरस्‍टॉक

यह दो प्रकार का हो सकता है:

1. सामान्यीकृत वॉल्वोडेनिया, जो अलग-अलग समय में वल्वा के विभिन्न हिस्सों को प्रभावित कर सकता है, और दर्द निरंतर हो सकता है, या बस समय-समय पर हो सकता है।
2. स्थानीयकृत वॉल्वोडेनिया के मामले में, इसे वल्वा के एक विशिष्ट क्षेत्र में पाए जाने वाले दर्द के रूप में जाना जाता है। यह अक्सर संभोग के बाद जलन, टैम्पॉन लगाने में दर्द या लंबे समय तक बैठे रहने पर होता है। दर्द और जलन इतनी अधिक होती है कि महिलाओं के लिए सेक्स के बारे में सोचना, या यहां तक कि लंबे समय तक बैठना लगभग असंभव हो जाता है।

हमें मान लेना चाहिए- वॉल्वोडेनिया डायग्नोस करना मुश्किल है

हार्वर्ड के अध्ययन के अनुसार, केवल 60% प्रभावित महिलाओं को एक सटीक डायग्नोसिस प्राप्त होता है और यह केवल ढेरों डॉक्टरों से सम्पर्क करने के बाद होता है।

चूंकि इस विषय पर बहुत अधिक शोध नहीं किया गया है, वॉल्वोडेनिया का सटीक कारण नहीं पाया गया है। हालांकि, कुछ अध्ययनों का दावा है कि संकुचन वल्वर कोशिकाओं की कुछ आनुवंशिक असामान्यताओं के कारण होता है, या यहां तक कि पैल्विक फ्लोर की मांसपेशियों में यीस्ट या ऐंठन के कारण भी हो सकता है।

कुछ अध्ययनों से यह भी पता चलता है कि वॉल्वोडेनिया ऑटोइम्यून विकारों, नर्व क्षति, यीस्ट संक्रमण से जुड़ा हुआ है, और स्थिति उन लोगों में अधिक दिखाई देती है जो अवसाद और चिंता से पीड़ित हैं।

ये हैं वॉल्वोडेनिया से निपटने के लिए कुछ सुझाव

हालांकि ऐसे रोगियों में दर्द का प्रबंधन करने के लिए एंटीडिप्रेसेंट का उपयोग किया जाता है, लेकिन कुछ घरेलू उपचार हैं जिनसे लक्षणों से बेहतर तरीके से निपटा जा सकता है:

अंडरवियर हाइजीन का भी ध्‍यान रखें। चित्र : शटरस्टॉक
अंडरवियर हाइजीन का भी ध्‍यान रखें। चित्र : शटरस्टॉक

1. कोल्ड कंप्रेस और जेल पैक का उपयोग करें: आप उन्हें सीधे अपने इंटिमेट क्षेत्र पर रख सकती हैं। यह कुछ ही समय में दर्द से राहत देगा।

2. एप्सम सॉल्ट ट्राई करें: पांच से दस मिनट के लिए एप्सम सॉल्ट के आरामदायक स्नान को ट्राई करें। आपको इसे दिन में कम से कम दो से तीन बार करना चाहिए।

3. टाइट पैंटी न पहनें: टाइट अंडरगारमेंट पहनने की समस्या यह है कि यह एयरफ्लो को इंटिमेट क्षेत्र तक सीमित कर देता है। बहुत सी महिलाओं को यह पता नहीं है, लेकिन टाइट पैंटी पहनने से योनि का तापमान और नमी बढ़ जाती है, और जलन हो सकती है। रात में बिना अंडरवियर के सोने की कोशिश करें।

4. सुगंधित टैम्पोन से बचें: सुगंधित टैम्पोन आपके वल्वा को इर्रिटेट कर सकते हैं, यही वजह है कि 100% कॉटन पैड पर स्विच करना महत्वपूर्ण है।

5. योनि पर बहुत अधिक दबाव न डालें: इसका मतलब है कि आपको बाइक चलाने और घुड़सवारी जैसी गतिविधियों से बचने की आवश्यकता है।

ये हाइजीन टिप्‍स आपकी मदद कर सकते हैं। चित्र: शटरस्‍टॉक
ये हाइजीन टिप्‍स आपकी मदद कर सकते हैं। चित्र: शटरस्‍टॉक

6. अपने प्राइवेट पार्ट को जेंटली धोएं: यदि आप इस क्षेत्र को कठोर तरीके से साफ करती हैं, तो आप अपनी स्थिति को और भी बदतर बना रही हैं। अपने वल्वा को साफ करने के लिए सादे पानी का उपयोग करें। एक प्राकृतिक एमोलिएंट, जैसे कि पेट्रोलियम जेली लगाएं, जो एक सुरक्षात्मक बाधा के रूप में कार्य करेगा।

7. लुब्रिकेशन का उपयोग करें: यदि आप यौन रूप से सक्रिय हैं, तो यौन संबंध बनाने से पहले लुब्रिकेंट अप्लाई करें।

तो लेडीज, इन टिप्स का पालन करें और आप जल्द ही बेहतर महसूस करेंगी! डॉक्टर से मिलने में संकोच न करें, और सही दवा लें।

यह भी पढ़ें – धोना या पोंछना : जानिए पेशाब करने के बाद क्‍या है योनि को साफ करने का सबसे सही तरीका

टीम हेल्‍थ शॉट्स टीम हेल्‍थ शॉट्स

ये हेल्‍थ शॉट्स के विविध लेखकों का समूह हैं, जो आपकी सेहत, सौंदर्य और तंदुरुस्ती के लिए हर बार कुछ खास लेकर आते हैं।