Vaginismus : एक खराब अनुभव आपके दिल ही नहीं वेजाइना को भी दे सकता है शॉक, जानिए इससे कैसे उबरना है

जब हम किसी नए रिश्ते में शामिल होते हैं, तो यह बिल्कुल नहीं सोचता कि इसका दुखांत हो सकता है। पर कभी-कभी एक टॉक्सिक रिश्ते के अनुभव आपको मेंटल और वेजाइनल दोनों तरह की समस्याएं दे सकते हैं।

kya hai vaginismus
जानिए क्या है वैजिनिस्मस और इसके बारे में सब कुछ। चित्र : शटरस्टॉक
ऐश्‍वर्या कुलश्रेष्‍ठ Published on: 4 December 2022, 20:00 pm IST
  • 145

हमारी बॉडी और माइंड आपस में कनैक्टेड हैं। तभी शायद हर छोटी-्बड़ी चीज हमारे मन और तन को प्रभावित करती है। जैसे – एक टेस्टी डिश जिसका स्वाद हमें हमेशा याद रहता है या किसी अपने को गले लगाना, जो हमें खुश कर जाता है। हमारी बॉडी हमारे माइंड के हिसाब से रिस्पॉन्ड करती है। शरीर के साथ हुई हर चीज़ एक मेमोरी की तरह हमारे मस्तिष्क में कैद हो जाती है और फिर इसकी प्रतिक्रिया भी उसी के अनुसार होती है। जैसे कि एक अमेजिंग सेक्सुअल एक्सपीरियन्स, जिसकी वजह से हमें ऑर्गेज्म (orgasm) का भी अनुभव होता है। ठीक इसी तरह एक खराब यौन संबंध या किसी प्रकार का सेक्सुअल ट्रॉमा न सिर्फ हमारी मेंटल हेल्थ को परेशान कर जाता है, बल्कि आपकी सेक्सुअल हेल्थ के लिए भी घातक हो सकता है। ऐसी ही एक समस्या है वैजिनिस्मस (Vaginismus)। आइए जानते हैं इसके बारे में विस्तार से।

योनि का किसी नए रिश्ते के लिए रिस्पॉन्सिव न हो पाने की समस्या है वेजिनिस्मस। यानी जिसमें हमारी बॉडी का रिएक्शन यानी सेक्सुअल रेस्पाॅन्स भी हमेशा के लिए नकारात्मक रूप से प्रभावित हो सकता है।

क्या आप या आपके आसपास कोई खराब यौन संबंध में रह चुका या कोई ऐसा खराब अनुभव झेल चुका है कि अब उन्हें किसी के साथ भी यौन संबंध (sexual relation) बनाने से डर लगता है। या जब वे किसी से साथ सेक्सुअल होने की कोशिश करती हैं, तो उनकी बॉडी, वेजाइना उनका साथ नहीं देती। यदि किसी के साथ यह समस्या है, तो वह वैजिनिस्मस नामक स्थिति का शिकार हैं।

जानिए क्या है वैजिनिस्मस (Vaginismus)?

क्लीवलैंड क्लीनिक के अनुसार वैजिनिस्मस एक तरह की वेजाइनल कंडीशन है, जिसमें पेनिट्रेशन के समय पर वेजाइना संकुचित हो जाती है, जिसमें महिला को असहनीय दर्द भी हो सकता है।

इसके कारण सेक्स करने में कठिनाई होती है, क्योंकि वेजाइना के संकुचन को रोक पाना महिला के हाथ में नहीं होता है। इसकी वजह से मांसपेशियों में ऐंठन या दर्द तब भी होता है जब उंगली, टैम्पोन (tampon) या किसी चिकित्सा टूल को डालने का प्रयास किया जाता है।

क्या हो सकते हैं वैजिनिस्मस के कारण?

खराब सेक्सअल एक्सपीरियन्स के अलावा भी वैजिनिस्मस के कई कारण हो सकते हैं, जिनका सेक्स से कोई संबंध नहीं है

एंग्जाइटी से संबंधी बीमारियां
बच्चे को जन्म देने के कारण वेजाइना पर लगी चोट, जैसे कि वेजाइनल टीयर।
किसी प्रकार की सर्जरी
सेक्स का डर या सेक्स के बारे में नकारात्मक भावनाएं
पिछले यौन शोषण
बलात्कार

kya hai vaginismus
मानसिक रूप से मजबूत रहने के लिए हर संभव प्रयास करें। चित्र: शटरस्टॉक

वैजिनिस्मस के साथ यदि किसी को ब्लैडर इन्फेक्शन, यूटीआई और यीस्ट इन्फेक्शन भी है, तो यह उनकी स्थिति को और भी खराब कर सकता है।

सेकसुअल ट्रॉमा को न करें नज़रअंदाज

क्लीवलैंड क्लीनिक के अनुसार कई महिलाएं सेक्सुअल ट्रॉमा (sexual trauma) के कारण इस स्थिति का सामना करती हैं, लेकिन शर्म की वजह से वे इस बारे में खुलकर बात नहीं कर पाती हैं। साथ ही, उन्हें यह भी लगता है कि उनमें कोई शारीरिक कमी है, जबकि वे इसकी जड़ यानी सेक्सुअल ट्रॉमा पर ध्यान नहीं देती हैं। जो कि एक मानसिक स्वास्थ्य समस्या (mental health illness) भी है।

तो यदि आपको या आपके आसपास किसी को वैजिनिस्मस है, तो जानिए इससे कैसे निपटा जा सकता है

1 टॉक्सिक रिलेशन से बाहर आएं

यदि आप एक टॉक्सिक रिलेशन (toxic relation) में हैं और आप वैजिनिस्मस जैसी स्थिति से जूझ रही हैं, तो सबसे पहले टॉक्सिक रिलेशन से बाहर आने की कोशिश करें। इसमें अपने परिवार, किसी दोस्त, या कोई लीगल हेल्प लें।

2 डॉक्टर को बताने में झिझकें नहीं

फोर्टिस लाफेम (lafemme), नई दिल्ली में प्रसूति एवं स्त्री रोग की सहायक निदेशक हैं – डॉ. मधु गोयल बताती हैं की यदि आप किसी रिलेशनशिप में हैं और पहले का सेक्सुअल एक्सपीरियन्स, आपको अपने पार्टनर के साथ इंटीमेट होने से रोकता है तो आपको चिकित्सकीय सहायता लेनी चाहिए।

kya hai vaginismus
अपनी स्थिति के बारे में डॉक्टर से बात करें। चित्र : शटरस्टॉक

3 दवाइयों के साथ लें थेरेपी

डॉ. मधु के अनुसार सेक्स थेरेपी और काउंसलिंग वैजिनिस्मस के उपचार का एक अभिन्न अंग हैं। अपनी बॉडी को समझना और इसके बारे में आवेयर होना काफी मदद करता है। इसलिए एक चिकित्सक के साथ – साथ एक मेंटल हेल्थ एक्सपर्ट से मिलें और यह समझने कि कोशिश करें कि आपमें कोई कमी नहीं है।

4 एक्सरसाइज़ की भी ली जा सकती है मदद

कीगल एक्सरसाइज़ योनि की मांसपेशियों की पहचान करने का एक अच्छा तरीका हैं। यह एक्सरसाइज़ करने से आपकी पेल्विक फ्लोर की मांसपेशियां आपके कंट्रोल में रह पाएंगी। इससे आपका पेल्विक फ्लोर मजबूत होगा।

5 पहले पेनिट्रेटिव नहीं ओरल सेक्स ट्राई करें

यदि आप पुराने एक्सपीरियन्स को भुलाकर एक नई शुरुआत करना चाहती हैं और वैजिनिस्मस इसके बीच आ रहा है तो पेनिट्रेटिव नहीं ओरल सेक्स ट्राई करें, फोरप्ले का आनंद लें और सबसे पहले पार्टनर की मदद से अपने सेक्सुअल अनुभव को अच्छा बनाएं।

यह भी पढ़ें : शादी की तैयारी है? तो हैप्पी मैरिड लाइफ के लिए जरूर करवाएं ये 5 टेस्ट

  • 145
लेखक के बारे में
ऐश्‍वर्या कुलश्रेष्‍ठ ऐश्‍वर्या कुलश्रेष्‍ठ

प्रकृति में गंभीर और ख्‍यालों में आज़ाद। किताबें पढ़ने और कविता लिखने की शौकीन हूं और जीवन के प्रति सकारात्‍मक दृष्टिकोण रखती हूं।

पीरियड ट्रैकर

अपनी माहवारी को ट्रैक करें हेल्थशॉट्स, पीरियड ट्रैकर
के साथ।

ट्रैक करें
nextstory

हेल्थशॉट्स पीरियड ट्रैकर का उपयोग करके अपने
मासिक धर्म के स्वास्थ्य को ट्रैक करें

ट्रैक करें