पीरियड्स के दर्द से तुरंत राहत पाने के लिए आजमाएं अजवायन की चाय, यहां रेसिपी भी है

Published on: 19 January 2022, 18:30 pm IST

अगर पीरियड्स के दर्द ने आपका भी जीना मुहाल कर दिया है तो इंस्टेंट रिलीफ के लिए अजवाइन की चाय बनाने का समय है।

agar aapake period cramps kaaboo se baahar ho rahe hain, to peeriyads ke dard ke lie yah achook upaay aajamaen.
अगर आपके पीरियड्स क्रैम्प्स काबू से बाहर हो रहे हैं, तो पीरियड्स के दर्द के लिए यह अचूक उपाय आजमाएं। चित्र: शटरस्‍टॉक

महिलाओं को पीरियड्स के आने से पहले हर महीने अत्यधिक दर्द का अनुभव होता है। सर्दी के ठंडे महीनों के दौरान जहां पीरियड्स की अवधि बढ़ जाती हैं, वहीं दर्द तीव्र और असहज करने वाला होता है। मासिक धर्म के सामान्य लक्षणों में ऐंठन, सूजन आदि शामिल हैं। इस दौरान अत्यधिक थकान महसूस होती है। इस असहनीय दर्द से निजात पाने के लिए कुछ घरेलू उपाय आजमाएं जा सकते हैं। न्यूट्रिशनिस्ट शिखा अग्रवाल शर्मा पीरियड्स के दर्द से राहत पाने के लिए अजवाइन चाय की सलाह दे रहीं हैं। इस ख़ास चाय के सेवन से मांसपेशियों को आराम तथा पेट के हिस्सों में होने वाले दर्द से राहत मिल सकती है। 

जानिए मासिक धर्म की ऐंठन से कैसे छुटकारा दिला सकती है अजवाइन की चाय (How to relieve period cramps using these ingredients in tea)

  1. अजवाईन (Ajwain)

apane upachaar gunon ke kaaran ajavain hamesha aapakee rasoee mein honee chaahieअपने उपचार गुणों के कारण अजवाइन हमेशा आपकी रसोई में होनी चाहिए। चित्र: शटरस्‍टॉक

आमतौर पर अजवाइन किचन में आसानी से मिल जाती है। इसका उपयोग विभिन्न भारतीय व्यंजनों में किया जाता है। इसमें फाइबर, एंटीऑक्सीडेंट, विटामिन और विभिन्न खनिज तत्व पाए जाते हैं। पीरियड्स के दर्द से छुटकारा पाने के लिए अजवाइन की चाय को आजमाया जा सकता है।  

  1. चाय की पत्ती (Tea leaves)

वैसे तो आपने सभी को चाय के नुकसान गिनाते हुए सुना है। लेकिन इसके कुछ स्वास्थ्य लाभ भी हैं। दरअसल, ब्लैक टी में कैफीन होता है, जो पीने पर दर्द निवारक प्रभाव देता है। इसके अलावा इसमें अन्य उत्तेजक तत्व एंटीऑक्सीडेंट जैसे पॉलीफेनोल्स और कैटेचिन पाए जाते हैं। यह पाचन क्रिया और  ऊर्जा को बढ़ाने में सक्षम है। इसे पीकर से थकान को दूर किया जा सकता है।

  1. गुड़ (Jaggery)

kam maatra mein sevan karane par gud cheenee ka ek achchha vikalp ho sakata haiकम मात्रा में सेवन करने पर गुड़ चीनी का एक अच्छा विकल्प हो सकता है। चित्र: शटरस्टाॅक

गुड़ सामान्यतः गन्ने या ताड़ के रस से बनाया जाता है। इसका उपयोग सदियों से हमारी रसोई में किया जाता रहा है। यह लोहा, फास्फोरस, मैग्नीशियम और मैंगनीज जैसे विभिन्न खनिज तत्वों का समृद्ध स्रोत है। गुड़ में हर 100 ग्राम पर 11 मिलीग्राम आयरन होता है। इसलिए, यह हीमोग्लोबिन की कमी दूर करने में सहायक है। प्राकृतिक रूप से यह एनीमिया, ऐंठन, थकान और अनियमित पीरियड्स के इलाज के लिए फायदेमंद है। 

  1. घी ( Ghee)

मक्खन या घी में एंटीऑक्सीडेंट, विटामिन (वसा में घुलनशील ) जैसे विटामिन ए, ई और डी से भरपूर मात्रा में पाए जाते हैं। यह शरीर में खनिजों और फैटी एसिड के अवशोषण में सुधार करता है। यह एक ऐसा सुपरफूड है जो पीरियड्स के दौरान होने वाली ऐंठन से प्राकृतिक रूप से छुटकारा दिलाता है। 

आइए, जानते हैं चाय बनाने की सही विधि (How to make this tea to get rid of period cramps) :

  1. सबसे पहले सॉस पैन में एक कप पानी उबाल लें।
  2. उबलते पानी में ½ छोटा चम्मच अजवाइन डालें।
  3. जब यह पानी में पीला हो जाएं, तो इसमें 1/2 टीस्पून काली चाय की पत्तियां डालें।
  4. अब अच्छी तरह उबाल आने दें।
  5. आप चाहें तो दूध डाल सकती हैं।
  6. अब इसमें एक चम्मच गुड़ मिलाएं।
  7. चाय को कप में छान लें।
  8. अब इसमें ½ छोटी चम्मच घी डाल दीजिए। 

बस सिप सिप करके इस चाय को पिएं और पीरियड क्रैम्प्स से छुटकारा पाएं। 

यह भी पढ़े :Progesterone : डियर लेडीज, आपके मूड से लेकर सेक्स लाइफ तक को प्रभावित कर सकता है यह जरूरी हार्मोन

टीम हेल्‍थ शॉट्स टीम हेल्‍थ शॉट्स

ये हेल्‍थ शॉट्स के विविध लेखकों का समूह हैं, जो आपकी सेहत, सौंदर्य और तंदुरुस्ती के लिए हर बार कुछ खास लेकर आते हैं।

पीरियड ट्रैकर

अपनी माहवारी को ट्रैक करें हेल्थशॉट्स
पीरियड ट्रैकर के साथ।

ट्रैक करें