Vaginal dryness : वॉटर एलिमेंट में असंतुलन भी हो सकता है योनि में सूखेपन के लिए जिम्मेदार, जानिए इसे कैसे बैलेंस करना है

वॉटर एलिमेंट की कमी के कारण योनि में सूखापन की समस्या होती है। कुछ उपाय हैं, जो वॉटर एलिमेंट बढ़ाकर वेजाइनल ड्राईनेस को दूर कर सकते हैं।
vagina ka fluid water element hai.
फ्लूइड या लुब्रिकेंट वेजाइना का वाॅटर एलिमेंट कहा जाता है। चित्र : अडोबी स्टॉक
टीम हेल्‍थ शॉट्स Updated: 28 Feb 2024, 05:31 pm IST
  • 125

योनि में सूखापन या वेजाइनल ड्राईनेस की समस्या मेनोपॉज के बाद आम समस्या है। यह रजोनिवृत्ति से पहले के वर्षों में भी हो सकता है। इसके कारण सेक्स के दौरान इरिटेशन और दर्द का कारण बन सकता है। इसके लक्षण तब ज्यादा दिखाई देते हैं जब कपल लंबे समय तक यौन रूप से सक्रिय नहीं होते हैं। इसके बाद जब वे सेक्सुअली एक्टिव होते हैं, तो उन्हें परेशानी का सामना करना पड़ता है। विशेषज्ञ बताते हैं कि वाटर एलिमेंट की कमी के कारण वेजाइनल ड्राईनेस का सामना करना पड़ता है। वेजाइनल ड्राइनेस (vaginal dryness) को कुछ उपाय दूर कर सकते हैं।

क्या है वाॅटर एलिमेंट और वेजाइनल लुब्रिकेशन का कनैक्शन (connection between vaginal dryness and Water element of Vagina)

ब्लूम क्लिनिक फॉर वीमेन में सीनियर कंसल्टेंट, ऑब्सटेट्रिक्स, गायनी एंड आईवीएफ डॉ. श्वेता गुप्ता (Dr. Shweta Gupta, Senior Consultant in Obs & Gynae and IVF Specialist) बताती हैं, योनि में लुब्रिकेशन हेल्दी ब्लड फ्लो पर निर्भर करता है। यह लुब्रिकेंट अल्ट्राफिल्टर किया हुआ ब्लड होता है। दूसरी ओर योनि में कोई ग्लैंड नहीं होती। ब्लड प्रेशर योनि की कोशिकाओं के बीच इंट्रासेल्युलर गैप जंक्शनों के माध्यम से तरल पदार्थ को धकेलता है। यह मुख्य रूप से पानी और बहुत छोटे प्रोटीन से बना होता है। इस तरह से फ्लूइड या लुब्रिकेंट वेजाइना का वाॅटर एलिमेंट (vaginal dryness) कहा जा सकता है।

योनि की चिकनाई के लिए एस्ट्रोजन हार्मोन

आमतौर पर मेनोपॉज होने पर शरीर कम एस्ट्रोजन बनाने लगता है। एस्ट्रोजन हार्मोन योनि की चिकनाई, लोच और मोटाई को बनाए रखने में मदद करता है। एस्ट्रोजन का लो लेवल योनि की दीवारों के पतले होने, सूखने और सूजन का कारण बन सकता है। इसके अन्य कारण भी हो सकते हैं। बच्चे के जन्म के बाद, स्तनपान, कैंसर का इलाज या एंटी-एस्ट्रोजन दवाओं के कारण भी एस्ट्रोजन लेवल गिर सकता है।

यहां हैं वॉटर एलिमेंट बढ़ाकर वेजाइनल ड्राईनेस को खत्म करने के 5 उपाय (5tips to reduce vaginal dryness and increase water element)

1 वाॅटर रिटेंशन के लिए विटामिन ई (vitamin E for water retention)

विटामिन ई स्किन हाइड्रेशन को बनाए रखता है। उसमें सुधार लाता है और स्किन के वाटर रिटेंशन को भी बढ़ाता है। विटामिन ई से भरपूर बादाम खाने और बादाम के तेल को लगाने से भी ड्राई स्किन की स्थिति से निपटने में मदद मिल सकती है।

बादाम का तेल स्किन पर कई लाभकारी प्रभाव डाल सकता है। योनि के सूखेपन से छुटकारा पाने के लिए इस नेचुरल हर्बल तेल का उपयोग किया जा सकता है। सबसे पहले अपने हाथ साफ कर लें। बादाम का तेल योनि के आसपास लगाया जा सकता है। तेल लगाने से पहले यह देखना जरूरी है कि योनि साफ और सूखी हो।

yoni ke sookhapan ko door karne ke liye almond oil lagayen.
योनि के सूखेपन से छुटकारा पाने के लिए बादाम तेल का उपयोग किया जा सकता है। चित्र : शटरस्टॉक

2 वॉटर बेस्ड लुब्रिकेंट (Water based lubricant for vaginal dryness)

डॉ. श्वेता गुप्ता बताती हैं, “योनि के सूखेपन से छुटकारा पाने के लिए सेक्स से पहले किसी भी वॉटर बेस्ड लुब्रिकेंट का उपयोग किया जा सकता है। ये लुब्रिकेंट थोड़े समय के लिए नमी प्रदान कर सकते हैं।सेक्स के दौरान किसी भी असुविधा से बचने और योनि के सूखेपन से छुटकारा पाने के लिए इसे योनि के आसपास या पार्टनर के पेनिस पर लगाया जा सकता है।”

3. सेक्स से पहले फोरप्ले आज़माएं (Foreplay for vaginal dryness)

सेक्स के दौरान योनि की नमी उत्तेजना पर भी निर्भर करती है। इसलिए सेक्स से पहले फोरप्ले का प्रयास जरूरी है। अधिक फोरप्ले का आनंद लेने से सेक्स के दौरान अधिक उत्तेजित होने और वेजाइनल ड्राईनेस (vaginal dryness) रोकने में मदद मिल सकती है। योनि के पास मौजूद बार्थोलिन ग्लैंड यौन उत्तेजना के दौरान नमी पैदा करती है।

4. सुगंधित उत्पादों से बचें (avoid perfumed product for vaginal dryness)

योनि में और उसके आस-पास अत्यधिक सुगंधित साबुन, क्लींजर या लोशन का उपयोग करने से बचें। ये रसायन जलन पैदा कर सकते हैं और योनि में सूखापन पैदा कर सकते हैं। योनि के लिए हमेशा परफ्यूम रहित साबुन और लोशन का उपयोग करें। योनि के लिए सुगंधित साबुन, डूश या क्लींजर का उपयोग करना योनि में सूखापन पैदा करने के लिए जिम्मेदार कारकों में से एक है।

yoni men sookhapn se bachne ke liye sugandhit product istemal nahin karen.
योनि में और उसके आस-पास अत्यधिक सुगंधित साबुन, क्लींजर या लोशन का उपयोग करने से बचें। चित्र : शटरस्टॉक

5 केगल्स एक्सरसाइज (Kegel exercise for vaginal dryness)

केगल्स एक्सरसाइज पेल्विक फ्लोर और योनि के बीच ब्लड सर्कुलेशन में सुधार करते हैं। यदि नियमित रूप से केगल्स किया जाता है, तो यह उत्तेजना बढ़ाता है। साथ ही यह लुब्रिकेशन भी बढ़ा देता है। वेजाइनल ड्राईनेस (vaginal dryness) से बचने के लिए केगल्स एक्सरसाइज रोज किया जा सकता है।

यह भी पढ़ें :-Castor oil for period pain : पीरियड पेन से राहत के लिए कुछ महिलाएं पी रहीं हैं अरंडी का तेल, एक्सपर्ट से जानते हैं यह सही है या नहीं

  • 125
लेखक के बारे में

ये हेल्‍थ शॉट्स के विविध लेखकों का समूह हैं, जो आपकी सेहत, सौंदर्य और तंदुरुस्ती के लिए हर बार कुछ खास लेकर आते हैं। ...और पढ़ें

पीरियड ट्रैकर

अपनी माहवारी को ट्रैक करें हेल्थशॉट्स, पीरियड ट्रैकर
के साथ।

ट्रैक करें
अगला लेख