Follow Us on WhatsApp

यौन जीवन को स्वस्थ बनाने के लिए समझिए क्या है टेस्टोस्टेरोन और पुरुष इसे कैसे बढ़ा सकते हैं

टेस्टोस्टेरोन आपके पार्टनर की सेहत को कई तरह से प्रभावित करता है। इसका कम और ज्यादा दोनों ही स्तर आप दोनों के यौन जीवन को प्रभावित कर सकता है।

टेस्टोस्टेरोन का स्तर आम तौर पर उम्र के साथ कम हो जाता है। चित्र- अडोबी स्टॉक
संध्या सिंह Published: 7 Apr 2023, 20:00 pm IST
  • 145

ये टेस्टोस्टेरोन पुरूष सेक्स हार्मोन है, जो टेस्टिकल्स में बनता है। पुरुष यौन विकास और कार्यों के लिए टेस्टोस्टेरोन हार्मोन का स्तर महत्वपूर्ण है। प्युबर्टी (किशोरावस्था) के दौरान, टेस्टोस्टेरोन लड़कों को शरीर और चेहरे के बाल, गहरी आवाज और मांसपेशियों की ताकत जैसी पुरुष विशेषताओं को विकसित करने में मदद करता है। पुरुषों को शुक्राणु बनाने के लिए टेस्टोस्टेरोन की जरूरत होती है।

टेस्टोस्टेरोन का स्तर आम तौर पर उम्र के साथ कम हो जाता है। इसलिए वृद्ध पुरुषों में कम रक्त टेस्टोस्टेरोन का स्तर होता है। कुछ पुरुषों में टेस्टोस्टेरोन का स्तर कम होता है। इसे टेस्टोस्टेरोन की कमी सिंड्रोम (टीडी) या लो टेस्टोस्टेरोन (लो-टी) कहा जाता है। कमी का अर्थ है कि शरीर के पास आवश्यक पदार्थ की पर्याप्त मात्रा नहीं है।

ये लक्षण बताते हैं कि आपके पार्टनर में कम हो रहा है टेस्टोस्टेरोन का स्तर

कम सेक्स ड्राइव
इरेक्टाइल फंक्शन में कमी
शरीर के बालों का झड़ना
दाढ़ी का कम बढ़ना
दुबलापन या मांसपेशियों की कमजोरी
हर समय बहुत थकान महसूस होना
मोटापा (अधिक वजन होना)
अवसाद के लक्षण

ये भी पढ़े- ऑर्डिनरी फूड को बनाना है सुपर हेल्दी, तो ये 5 हैक्स आपको जरूर पसंद आएंगे

Testosterone ka leval kaise badhana chahiye
महत्वपूर्ण हार्मोन है टेस्टोस्टेरोन। चित्र: शटरस्टॉक

क्या टेस्टोस्टेरोन के स्तर को बढ़ाया जा सकता है?

इस बारे में ज्यादा जानने के लिए हमने बात की डाइट और न्यूट्रीशन एक्सपर्ट डाइटिशियन शिखा कुमारी से। वे मानती हैं कि अनहेल्दी लाइफस्टाइल या कुछ दवाओं के साइड इफेक्ट के तौर पर टेस्टोस्टेरोन का स्तर प्रभावित हो सकता है। पर इसके कारणों में ही समाधान भी छुपा है। आप अपने लाइफस्टाइल को सुधार कर इसके लेवल को हेल्दी स्तर तक ले जा सकते हैं। यहां उन उपायों के बारे में जानना जरूरी है, जो किसी भी पुरुष में पुरुष सेक्स हॉर्मोन को बढ़ाने में मददगार हो सकते हैं।

पीरियड ट्रैकर

अपनी माहवारी को ट्रैक करें हेल्थशॉट्स, पीरियड ट्रैकर
के साथ।

ट्रैक करें

टेस्टोस्टेरोन को बढ़ाने में कारगर हो सकते हैं ये उपाय

1 हाई इंटेंसिटी वर्कआउट

टेस्टोस्टेरोन के स्तर को बढ़ाने के लिए नियमित व्यायाम और उच्च तीव्रता अंतराल प्रशिक्षण का सुझाव दिया जाता है। नियमित व्यायाम करने से आपकी सेक्स ड्राइव में भी बदलाव आता है और आपके टेस्टोस्टेरोन के स्तर में भी बदलाव हो सकता है।

2 स्वस्थ वजन बनाए रखें

शिखा कुमारी के अनुसार मोटापा टेस्टोस्टेरोन के स्तर को कम कर सकता है, इसलिए स्वस्थ वजन बनाए रखने से टेस्टोस्टेरोन बढ़ाने में मदद मिल सकती है। आपका मोटापा भी कई बड़ी बिमारियों की वजह बन सकता है। इसलिए स्वस्थ वजन को बनाए रखने के लिए आपको एक स्वस्थ जीवनशैली अपनानी चाहिए।

अपनी रुचि के विषय चुनें और फ़ीड कस्टमाइज़ करें

कस्टमाइज़ करें

ये भी पढ़े- सनस्क्रीन लगाने के बावजूद बढ़ती जा रही है टैनिंग, तो चेक करें कहीं आप ये गलतियां तो नहीं कर रहीं

3 पर्याप्त नींद लें

टेस्टोस्टेरोन उत्पादन के लिए पर्याप्त नींद लेना महत्वपूर्ण है, क्योंकि रात की अच्छी नींद के बाद सुबह टेस्टोस्टेरोन का स्तर सबसे अधिक होता है। अच्छी नींद लेने से आपमें तनाव कम होता है और आपका स्वास्थ भी सही रहता है जिससे टेस्टोस्टेरोन के स्तर में भी बदलाव आता है।

4 तनाव कम करें

लंबे समय से चला आ रहा तनाव टेस्टोस्टेरोन के स्तर को कम कर सकता है, इसलिए ध्यान या गहरी सांस लेने के व्यायाम जैसे तनाव को प्रबंधित करने के तरीके खोजने से मदद मिल सकती है। तनाव शरीर में कई बीमारियों का कारण बन सकता है। अगर इसे समय रहते हुए ध्यान न दिया गया हो या नियंत्रित नही किया गया, तो यह सेक्स लाइफ को भी नुकसान पहुंचाता है।

5 संतुलित आहार लें

एक आहार जिसमें भरपूर मात्रा में प्रोटीन, स्वस्थ वसा और साबुत अनाज शामिल हों, टेस्टोस्टेरोन के स्तर को बढ़ाने में मदद कर सकते हैं। हो सके तो ज्यादा जंक और तला हुआ खाना खाने से बचें क्योंकि ये आपके टेस्टोस्टेरोन के स्तर को कम कर सकता है। स्वस्थ और संतुलित आहार का सेवन ही करें।

टेस्टोस्टेरोन रिप्लेसमेंट थेरेपी टेस्टोस्टेरोन बढ़ाने का एक वैकल्पिक उपाय है।

टेस्टोस्टेरोन रिप्लेसमेंट थेरेपी भी हो सकती है कारगर

यदि आपको ऐसा लगता है कि आपके पार्टनर का टेस्टोस्टेरोन का स्तर काफी कम है, और दिनचर्या एवं आहार में बदलाव के बावजूद इसमें बढ़ोतरी नहीं हो रही, तो आप अन्य उपायों की तरफ भी जा सकते हैं। टेस्टोस्टेरोन रिप्लेसमेंट थेरेपी ऐसा ही एक वैकल्पिक उपाय है। हालांकि, यह केवल एक योग्य डॉक्टर के मार्गदर्शन में ही किया जाना चाहिए।

यह ध्यान रखना महत्वपूर्ण है कि जो चीजें टेस्टोस्टेरोन के स्तर को बढ़ाने में मदद कर सकती हैं, वे सभी के लिए प्रभावी नहीं हो सकती हैं। अपने आहार या जीवनशैली में कोई महत्वपूर्ण परिवर्तन करने से पहले स्वास्थ्य सेवा प्रदाता या डॉक्टर से बात करना भी महत्वपूर्ण है।

ये भी पढ़े- क्या डायबिटीज में पपीता खाना नुकसानदेह है, जानिए इस बारे में क्या कहते हैं विशेषज्ञ

  • 145
लेखक के बारे में
संध्या सिंह संध्या सिंह

दिल्ली यूनिवर्सिटी से जर्नलिज़्म ग्रेजुएट संध्या सिंह महिलाओं की सेहत, फिटनेस, ब्यूटी और जीवनशैली मुद्दों की अध्येता हैं। विभिन्न विशेषज्ञों और शोध संस्थानों से संपर्क कर वे  शोधपूर्ण-तथ्यात्मक सामग्री पाठकों के लिए मुहैया करवा रहीं हैं। संध्या बॉडी पॉजिटिविटी और महिला अधिकारों की समर्थक हैं। ...और पढ़ें

अगला लेख