वैलनेस
स्टोर

आज ही से मानना छोड़ दें वेजाइना के बारे में कही जाने वाली इन 5 झूठी बातों को

Updated on: 10 December 2020, 13:40pm IST
आज से नहीं, बरसों से वेजाइना के बारे में बात नहीं होती, सिर्फ खुसफुसाहट होती है। यही कारण है कि असल जानकारी कम और भ्रामक बातें ज्यादा फैली हुई हैं। आइये आज ऐस ही 5 मिथ्‍स को तोड़ते हैं।
टीम हेल्‍थ शॉट्स
  • 80 Likes
डॉचिंग वेजाइना को नुकसान पहुंचाती है। चित्र: शटरस्‍टॉक

हम ऐसे समाज में रहते हैं जहां सेक्स एजुकेशन की बात ही नहीं होती और वेजाइना के नाम पर सभी बगलें झांकने लगते हैं। वेजाइना को हमेशा ही असामान्य रूप से देखा जाता है और इसके बारे में बात करना गलत माना जाता है।

जागरूकता की इस कमी ने बहुत सी भ्रांतियों को जन्म दिया है। जहां एक ओर कुछ भ्रांतियां खतरनाक नहीं हैं, कुछ आपको अपनी वेजाइना को लेकर गलत धारणा पैदा करने पर मजबूर कर देती हैं। कई मिथ ऐसी हैं जो बताती हैं कि वेजाइना को इस तरह दिखना चाहिए या उस तरह महसूस होना चाहिए। यह मिथ्‍स आपको मनोवैज्ञानिक रूप से परेशान कर सकते हैं। तो यह जरूरी है कि हम इन भ्रांतियों से बाहर निकलें और इस विषय पर बात करें।

मिथ 1. ज्यादा सेक्स करने से वेजाइना ढीली हो जाती है

महिलाओं के साथ-साथ पुरुषों को भी यह भ्रम है कि बहुत अधिक सेक्स करने से वेजाइना ढीली हो जाती है। यह ना केवल झूठ है, बल्कि इसे लोगों को उनकी सेक्सुअल लाइफ को लेकर अपमानित करने के लिए भी इस्तेमाल किया जाता है। जी हां, यह बात बिल्कुल व्यर्थ है। आप कितना भी सेक्स कर लें, आपकी वेजाइना ढीली नहीं होने वाली।

वेजाइना इलास्टिक होती है। जब आप उत्तेजित होती हैं, यह ढीली हो जाती है। पर बाद में फिर अपने सामान्य आकर में आ जाती है।

वेजाइना के बारे में जानकारी और भ्रांतियां।चित्र- शटरस्टॉक।

मिथ 2. खुजली का अर्थ है इन्फेक्शन

हर बार वेजाइना में खुजली होने का कारण यीस्ट इन्फेक्शन ही नहीं होता। वेजाइना में खुजली और भी कई कारणों से हो सकती है जैसे प्यूबिक लाइस, बैक्टीरियल इंफेक्शन, STD या सिर्फ किसी प्रोडक्ट के इस्तेमाल से इर्रिटेशन।
कोई भी दवा लेने के बजाय पहले डॉक्टर से बात करें।

मिथ 3. ऑर्गेज्‍म सिर्फ सेक्स के दौरान मिलता है

ऐसा नहीं है, ऑर्गेज्‍म का सम्बंध सिर्फ सेक्स से नहीं है। किसी भी प्रकार के शारीरिक संबंध जैसे ओरल सेक्स, मैस्टरबेशन या वाइब्रेटर से भी इसे पाया जा सकता है।

वेजाइना से किसी भी प्रकार का असमान्य डिस्चार्ज होने पर डॉक्टर से सलाह लें।चित्र- शटरस्टॉक।

मिथ 4. अगर आपको STD हुआ है, तो उसके लक्षण वेजाइना में नजर आएंगे

जहां एक ओर सिफलिस, गोनोरिया और हर्पीस जैसी बीमारियां कुछ महिलाओं में लक्षण दिखाती हैं, कुछ महिलाओं में इनके नजर न आने की भी सम्भावना हैं। STD का इलाज न किया जाए, तो इनफर्टिलिटी और प्रजनन अंगों में समस्या हो सकतीं हैं। अगर आपके एक से अधिक पार्टनर हैं, तो STD का टेस्ट जरूर कराएं।

मिथ 5- आपकी वेजाइना को सफाई के लिए खास उत्पादों की जरूरत होती है

आपकी वेजाइना सेल्फ-कलीनिंग है, यानी खुद को साफ रख सकती है। सफाई की जरूरत वल्वा को होती है। लेकिन इसके लिए आपको महंगे इंटिमेट वॉश या कोई अन्य प्रोडक्ट खरीदने की जरूरत नहीं है। आपका साबुन और गुनगुना पानी इसके लिए काफी है।
यहां तक कि आप जितना महंगा और दिखावटी उत्पाद लेंगी, वह आपकी वेजाइना के ph संतुलन को उतना ही गड़बड़ कर देगा।

लेडीज, अब जब आपको पता है यह बातें बिल्कुल झूठी और फिजूल हैं, समय है सही जानकारी मानकर बाजार के चंगुल से निकलने का।

यह भी पढ़ें – अपनी वेजाइना को इन 3 एक्‍सरसाइज से करें नेचुरली टाइट और लें बेहतरीन सेक्स का आनंद

टीम हेल्‍थ शॉट्स टीम हेल्‍थ शॉट्स

ये हेल्‍थ शॉट्स के विविध लेखकों का समूह हैं, जो आपकी सेहत, सौंदर्य और तंदुरुस्ती के लिए हर बार कुछ खास लेकर आते हैं।