डियर गर्ल्स, टाइट अंडरवियर भी बन सकते हैं यीस्ट इंफेक्शन और वेजाइनल बॉइल का कारण, एक्सपर्ट बता रहे हैं इनके नुकसान

योनि की स्वच्छता को बनाए रखने के लिए पहने जाने वाले टाइट अंडरवियर स्वास्थ्य को कई प्रकार से नुकसान पहुंचा सकते है। जानते हैं टाइट अंडरवियर पहनने से होने वाले साइडइफे्क्ट।
Tight panty ka prabhaav
गलत अंडरवियर का चुनाव वेजाइना की हेल्थ के लिए नुकसानदायक साबित हो सकता है। चित्र : अडोबी स्टॉक
ज्योति सोही Updated: 4 Apr 2024, 10:50 pm IST
  • 140
इनपुट फ्राॅम

जहां टाइटफिट कपड़े पहनने से बॉडी टोन और स्लिम नज़र आती है, तो वहीं उसका कुछ न कुछ नकारात्मक प्रभाव शारीरिक अंगों पर नज़र आने की भी संभावना बनी रहती है। दरअसल, मौसम में आने वाले बदलाव का असर स्वास्थ्य पर कई प्रकार से दिखने लगता है। सर्दियों में जहां त्वचा का रूखापन बढ़ता है, तो वहीं गर्मियों में पसीने की समस्या के चलते वेजाइनल हेल्थ संबधी समस्याओं का सामना करना पड़ता है। ऐसे में टाइट अंडरवियर पहनने से वेजाइना कई समस्याओं का शिकार हो सकता है। योनि की स्वच्छता को बनाए रखने के लिए पहने जाने वाले टाइट अंडरवियर स्वास्थ्य को कई प्रकार से नुकसान पहुंचा सकते है। जानते हैं टाइट अंडरवियर पहनने से होने वाले साइडइफे्क्ट।

वेजाइना पर टाइट अंडरवियर का प्रभाव

इस बारे में स्त्री रोग विशेषज्ञ डॉ रितु सेठी का कहना है कि गलत अंडरवियर का चुनाव वेजाइना की हेल्थ के लिए नुकसानदायक साबित हो सकता है। इसके चलते स्किन फोल्डस में वेजाइनल इंफै्क्शन का खतरा बना रहता है। इसके अलावा वे महिलाएं जो शेपवियर का प्रयोग करती है, उसका प्रभाव ब्लैडर पर नज़र आने लगता है, जिससे बार बार यूरिन पास करने की समस्या का सामना करना पड़ता है। इसके अलावा टाइट अंडरवियर पहनने से खुजली और जलन का सामना करना पड़ता है।

इस बारे में गायनेकॉलोजिस्ट डॉ राजीव ढ़ल का कहना है कि टाइट अंडरगारमेंट्स पहनने से स्किन ब्रीदिंग की समस्या का सामना करना पड़ता है। गर्मी के मौसम से इससे असुविधा का सामना करना पड़ता है। बार बार पसीना आने के चलते संक्रमण के बढ़ने का खतरा बना रहता है। मौसम बदलने के साथ इंटिमेट हाइजीन का ख्याल रखना ज़रूरी है। खासतौर से गर्मी और हयूमिडिटी से भरे मौसम में ब्रीथएबल कपड़ों का चयन करना चाहिए।, ताकि स्किन संबधी समस्याओं और बैक्टीरियल इंफे्क्शन से बचा जा सके। इन संकमणों को नज़रअंदाज़ करने से इंफैक्शन के बढ़ने का खतरा बना रहता है।

Tight underwear ka prabhaav
टाइट अंडरगारमेंट्स पहनने से स्किन ब्रीदिंग की समस्या का सामना करना पड़ता है। चित्र : शटरस्टॉक

टाइट अंडरवियर पहनने से होने वाले साइडइफे्क्ट

1. यीस्ट इंफेक्शन

नेशनल इंस्टीट्यूट ऑफ हेल्थ के अनुसार टाइंट पैंटस और अंडरवियर पहनने से यीस्ट इंफैक्शन का खतरा बना रहा है। दरअसल, वेजाइना के नज़दीक मॉइश्चर जमा होने से बैक्टीरिया पनपने लगता है, जिससे खुजली, जलन और यीस्ट इंफैक्शन का खतरा बना रहा है। टाइट अंडरवियर पहनने से ब्लड सर्कुलेशन भी प्रभावित होने लगता है।

2. ब्लड सर्कुलेशन पर प्रभाव

नियमित रूप से टाइट अंडरवियर पहनने से ब्लड सर्कुलेशन प्रभावित होने लगता है, जिससे टिशू डैमेज का खतरा बना रहता है। वे महिलाएं, जो लो राइज़ पैंटीज़ पहनती हैं, उनके अपर थाइ एरिया में रक्त का प्रवाह अनियमित होने लगता है। इसके अलावा इरिटेशन, टिंगलिंग या नम्बनेस बनी रहती है, जो दिनभर असुविधा का कारण साबित होता है।

Tight panty ke side effects
नियमित रूप से टाइट अंडरवियर पहनने से ब्लड सर्कुलेशन प्रभावित होने लगता है। चित्र : अडोबी स्टॉक

3. एसिड रिफ्लक्स

वे महिलाएं, जो हाई राइज़ पैटीज़ पहनती है, उससे पेट दर्द और जकड़न महसूस होने लगती है। इसके चलते जलन और एसिड रिफलक्स का जोखिम बढ़ जाता है। टाइट इलास्टिक पेट संबधी समस्याओं को बढ़ा सकता है। दरअसल, पेट पर प्रेशर बढ़ने से ऐंठन और अपच का भी सामना करना पड़ता है।

4. वेजाइनल बॉयल का खतरा

लंबे वक्त तक टाइट अंडरवियर पहनने से वेजाइनल बॉयल का सामना करना पड़ता है, जिससे योनि के नज़दीक मॉइश्चर इकट्ठा हो जाता है और लाल रंग का दाना बन जाता है। ब्रीथएबल कपड़े न पहनने से इस समस्या का सामना करना पड़ता है। इससे बचने के लिए कॉटन और नॉर्मल फिट पैंटी पहनें।

ये भी पढ़ें- गर्भवती महिलाओं के लिए एवोकाडो का सेवन है किस प्रकार से फायदेमंद, आइए जानते हैं एक्सपर्ट से

  • 140
लेखक के बारे में

लंबे समय तक प्रिंट और टीवी के लिए काम कर चुकी ज्योति सोही अब डिजिटल कंटेंट राइटिंग में सक्रिय हैं। ब्यूटी, फूड्स, वेलनेस और रिलेशनशिप उनके पसंदीदा ज़ोनर हैं। ...और पढ़ें

पीरियड ट्रैकर

अपनी माहवारी को ट्रैक करें हेल्थशॉट्स, पीरियड ट्रैकर
के साथ।

ट्रैक करें
अगला लेख