वैलनेस
स्टोर

क्या वास्‍तव में सुरक्षित है बिकनी एरिया के लिए परमानेंट लेजर हेयर रिमूवल?

Published on:18 January 2021, 20:31pm IST
एक सेलिब्रिटी त्वचा विशेषज्ञ से बात करते हैं, उस सबसे संवेदनशील हिस्‍से के बारे में, जिसके लिए आजकल लेजर हेयर रिमूविंग चलन में है। क्‍या वाकई यह सुरक्षित है?
टीम हेल्‍थ शॉट्स
  • 94 Likes
बिकनी हेयर रिमूवल जोि‍खिम भरा हो सकता है। चित्र: शटरस्‍टॉक

हम जानते हैं कि आप वहां बालों का गुच्‍छा नहीं चाहतीं। लेकिन बिकनी एरिया के लिए लेजर द्वारा बालों को हटाना अपने आप में जोखिम भरा काम हैं। इसे ट्राय करने से पहले, इस रिपोर्ट को ज़रूर पढ़ें।

हम सभी ने इस सवाल को कई बार अपने मन में उठाया होगा, क्योंकि जाहिर तौर पर बिकनी लाइन पर लेज़र हेयर रिमूवल के लिए जाना काफी संवेदनशील मामला है। लेकिन समस्या यह है कि विभिन्न तरीकों से, यह उपचार गलत हो सकता है। इसलिए यह बहुत महत्वपूर्ण है कि आप इसके बारे में विस्तार से जानें।

और इसके लिए एक प्रसिद्ध त्वचा विशेषज्ञ की राय से बेहतर क्या हो सकता है? तो, आइए देखें कि क्या आपकी बिकनी लाइन के लिए लेजर हेयर रिमूवल वास्तव में सही तरीका है या नहीं।

पहले जानते हैं कि लेजर हेयर रिमूवल कैसे काम करता है

इस प्रक्रिया को जानने के लिए आपको इसे पूरी तरह से समझना चाहिए। यह लेजर द्वारा की जाने वाली सबसे अधिक कॉस्मेटिक प्रक्रियाओं में से एक है।

त्वचा विशेषज्ञ और डॉ. निवेदिता दादू त्वचा विज्ञान क्लिनिक की संस्थापक और अध्यक्ष डॉ. निवेदिता दादू के अनुसार, लेजर से बालों को हटाने के लिए लेजर बीम के लाइट को गर्मी में परिवर्तित किया जाता है। लेज़र लाइट बालों में मेलेनिन के लिए होता है।

ये लेजर बीम बालों की जड़ों पर काम करती हैं। चित्र- शटरस्टॉक।
ये लेजर बीम बालों की जड़ों पर काम करती हैं। चित्र- शटरस्टॉक।

यह लेज़र बीम बालों के रोम छिद्रों को गर्मी पहुंचाती हैं, जिससे बालों का विकास रुक जाता है। बाल जितने गहरे और घने होंगे पिगमेंट उसमें उतना ही ज्यादा जायेगा और लाइट को अब्सोर्ब करेगा।

यही कारण है कि रिमूविंग सेशन से पहले अपने बालों को वैक्स या प्लक न करें, क्योंकि अगर वहां कोई बाल नहीं है, तो लेज़र लाइट के लिए उस रोम कूप का इलाज करने का कोई तरीका नहीं है।

जब लाइट पड़ती है, तो बाल उसे अब्सोर्ब करते हैं और जड़ को नष्ट करने के लिए काम करता है। जिससे बाल पूरी तरह नष्ट हो जाता है और फिर वापस नहीं बढ़ता।

बिकनी क्षेत्र के आसपास बाल निकालना जोखिम भरा हो सकता है

लेजर और रेडियोफ्रीक्वेंसी तकनीक गहरे ऊतकों में नियंत्रित गर्मी उत्पन्न करके कोलेजन और रक्त प्रवाह को प्रोत्साहित करती हैं। यदि इन उपचारों को सावधानी से नहीं किया जाता है, तो निशान बनने और जलने का जोखिम हो सकता हैं। ऐसे कई कारण हैं जो इसे असुरक्षित बनाते हैं, खासकर जब यह आपके योनि क्षेत्र के आसपास हो। क्योंकि यह एक सेंसिटिव एरिया है।

योनि लेजर उपचार से मेनोपॉज, यौन अक्षमता और अन्‍य समस्‍याओं से राहत मिलने में मदद मिलती है। पर इस तकनीक की सुरक्षा बहुत स्‍पष्‍ट नहीं है।

डॉ. दादू बताती हैं, “योनि लेजर उपचार के कारण वेजाइनल एट्रोपी हो सकती है। यह एक ऐसी स्थिति है जो अक्सर रजोनिवृत्ति के साथ होती है और इसमें योनि का सूखापन, दर्दनाक संभोग और मूत्र असंयम जैसे लक्षण शामिल हो सकते हैं। ये लेजर उपचार अन्य स्त्री रोगों और डर्माटोलोगिक स्थितियों के लिए स्वीकृत हैं।”

ब्राजीलियन वैक्स आपके बिकनी हेयर लाइन से छुटकारा पाने का एक बेहतर तरीका है। चित्र : शटरस्टॉक
ब्राजीलियन वैक्स आपके बिकनी हेयर लाइन से छुटकारा पाने का एक बेहतर तरीका है। चित्र : शटरस्टॉक

“योनि क्षेत्र पर लेजर उपचार के बाद, संभोग पहले की तुलना में अधिक दर्दनाक हो सकता है। महिलाओं को विभिन्न समस्याओं का अनुभव होता है, जिसमें गंभीर रक्तस्राव और निशान शामिल हैं, जो अवरोधों का गठन करते हैं। हल्के योनि उभार, संभोग के साथ योनि शिथिलता की भावना, वेजाइनल विंड और शौच के लिए विभाजन की आवश्यकता और मूत्र असंयम (एसयूआई) जैसे जोखिम की संभावना हो सकती हैं।

इसके अलावा यहां हम उन 7 समस्याओं के बारे में बताने जा रहे हैं, जो बिकनी एरिया में लेजर हेयर रिमूवल के बाद आपको उठानी पड़ सकती हैं :-

हर किसी का शरीर लेजर बालों को हटाने के लिए अलग तरह से प्रतिक्रिया करता है। कुछ लोग मामूली दुष्प्रभाव की सूचना देते हैं। सत्र के बाद पहले कुछ घंटों में त्वचा का सूज जाना या लाल होना आम बात है।

बिकनी क्षेत्र पर लेज़र प्रक्रिया के कुछ दुष्परिणाम

1. अस्थायी जलन, त्वचा के हल्के फफोले या पपड़ी आना
2. त्वचा में हल्‍की लालामी
3. रजोनिवृति में अस्थायी परिवर्तन।
4. उपचारित क्षेत्र की हल्की सूजन
5. कई लेज़र हेयर रिमूवल मरीज सनसनी का वर्णन करते हैं
6. रक्तप्रवाह में, अनियमित दिल की धड़कन, धीमी गति से सांस लेने और अन्य गंभीर जटिलताओं भी हो सकती हैं।
7. इलेक्ट्रोलिसिस उपचारित क्षेत्र पर निशान, केलॉइड निशान और त्वचा के मलिनकिरण का कारण बन सकता है। जबकि लेजर बालों को हटाने से त्वचा के रंग में परिवर्तन, जलन, दाग और मुंहासे जैसे ब्रेकआउट भी हो सकते हैं।

तो लेडीज, ऐसे किसी भी ट्रीटमेंट को ट्राय करने से पहले अच्‍छी तरह सोच लेना जरूरी है। क्‍योंकि जो अच्‍छा दिखता है, जरूरी नहीं कि आपके लिए भी अच्‍छा ही हो।

यह भी पढ़ें – न्‍यूट्रीशनिस्‍ट के अनुसार, ये 5 फूड कर सकते हैं वेजाइनल यीस्ट इन्फेक्शन से आपका बचाव

टीम हेल्‍थ शॉट्स टीम हेल्‍थ शॉट्स

ये हेल्‍थ शॉट्स के विविध लेखकों का समूह हैं, जो आपकी सेहत, सौंदर्य और तंदुरुस्ती के लिए हर बार कुछ खास लेकर आते हैं।